ताज़ा खबर
 

विदेशी खिलाड़ियों को लुभाने के लिए पीसीबी ने की मोटी रकम की पेशकश

पाकिस्तान में मार्च 2009 में श्रीलंकाई टीम बस पर आतंकी हमले के बाद से किसी शीर्ष टीम ने यहां दौरा नहीं किया है।

Author कराची | July 21, 2016 8:45 PM
पत्रकारों और अन्य लोगों के सामने पीटीआई के समर्थन में नारे लगा रहे लोगों ने पीसीबी अध्यक्ष के साथ मारपीट की। नजम सेठी को बीते दिनों आम सहमति से पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड का सदस्य बनाया गया था। (FILE PHOTO)

विदेशी खिलाड़ियों को पाकिस्तान सुपर लीग के दूसरे सत्र के फाइनल में खेलने के लिए मनाने की कवायद में पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड उन्हें मोटी रकम और राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी में बेहतर सुविधाओं की पेशकश कर रहा है। पीएसएल सचिवालय के प्रमुख नजम सेठी ने लाहौर में पत्रकारों से कहा कि कुछ विदेशी खिलाड़ी पीएसएल खेलने पर राजी हो गए हैं। उन्होंने नामों का खुलासा नहीं किया लेकिन कहा कि उन्हें फुलप्रूफ सुरक्षा दी जाएगी।

उन्होंने कहा,‘मैं इसकी गारंटी देता हूं कि लाहौर में पीएसएल फाइनल यूएई में पिछले साल हुए टूर्नामेंट से भी भव्य होगा।’ पाकिस्तान में मार्च 2009 में श्रीलंकाई टीम बस पर आतंकी हमले के बाद से किसी शीर्ष टीम ने यहां दौरा नहीं किया है। सिर्फ जिम्बाब्वे, कीनिया और अफगानिस्तान ही यहां खेलने आए हैं। सेठी ने कहा,‘हम लाहौर में फाइनल खेलने के लिए कम से कम 20000 डॉलर अतिरिक्त देने को तैयार हैं।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X