scorecardresearch

राजनीति किनारे रखकर, फैंस को भारत-पाकिस्तान मैच का मजा क्यों नहीं लेना चाहिए, बोले PCB चीफ रमीज राजा

रमीज राजा ने कहा कि टी-20 वर्ल्ड कप में भारत को पाकिस्तान का हराना टर्निंग प्वाइंट रहा। प्रशंसक पाकिस्तान क्रिकेट पर भरोसा करने लगे।

पीसीबी के चेयरमैन रमीज राजा और भारत-पाकिस्तान के क्रिकेटर। (फोटो- द इंडियन एक्सप्रेस)

टी-20 वर्ल्ड कप में भारत के खिलाफ जीत, न्यूजीलैंड का पाकिस्तान दौरा रद्द करना, पीएसएल और फिर ऑस्ट्रेलिया का सालों बाद देश का दौरा। कुछ ऐसा रहा है पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (PCB) के चेयरमैन के तौर पर रमीज राजा का कार्यकाल। छह महीने पहले इमरान खान ने उन्हें यह जिम्मेदारी दी थी। अब वह इस हफ्ते आईसीसी बोर्ड मीटिंग के दौरान हर चार देशों की टी-20 टूर्नामेंट कराने का प्रस्ताव रखने वाले हैं। ये चार देश पाकिस्तान, भारत, ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड हैं। बीसीसीआई इसका समर्थन नहीं कर रहा है ऐसा उनका काम काफी कठिन हो गया है, लेकिन वो इससे चिंतित नहीं हैं। उन्होंने इंडियन संदीप द्विवेदी से बातचीत के दौरान भारत पाकिस्तान के बीच क्रिकेट सीरीज समेत अन्य मुद्दों पर अपनी बात रखी।

भारत-पाकिस्तान सीरीज के सवाल पर रमीज ने क्या कहा? मैं क्रिकेट चेयरमैन के तौर पर हमेशा भारत और पाकिस्तान के बारे में बात नहीं करता। एक क्रिकेटर के रूप मैं कहूंगा कि राजनीति को अलग रखा जा सकता है। प्रशंसकों को भारत-पाकिस्तान मैच का आनंद क्यों नहीं लेना चाहिए? सभी को यह देखना चाहिए कि यह अभी भी दुनिया का सबसे अच्छा मुकाबला क्यों है?

रमीज ने इस दौरान चार देशों की सीरीज के विचार पर कहा कि भारत-पाकिस्तान के रोमांचक मुकाबले से ही बाहर आया है। इसे किसी तरह हमें पूरा करना होगा। ऐसा अगर अब नहीं होगा तो कब होगा? बोर्ड का प्रतिनिधित्व करने वाले ((सौरव गांगुली – भारत, राजा – पाकिस्तान और मार्टिन स्नेडेन – न्यूजीलैंड)) तीन पूर्व क्रिकेटर हैं।

भारत-पाक सीरीज पर बीसीसीआई के रुख पर रमीज ने क्या कहा- पर भारत-पाकिस्तान क्रिकेट पर बीसीसीआई कहता है कि उनके हाथ बंधे हुए है। सरकार इसपर फैसला करेगी। इसे लेकर रमीज ने कहा, “मुझे उम्मीद है कि बीसीसीआई इस अवधारणा को वापस राजनीतिक गलियारों में ले जाएगा और क्रिकेट पर बात करेगा। कि जैसे ही आसान। यह नहीं भूलना चाहिए कि मुझ पर भी उसी तरह का दबाव है। ऐसा नहीं है कि स्थिति बहुत अलग है। मैं केवल खेल के लिए बिना किसी सरकारी हस्तक्षेप के अपने दम पर एक अवधारणा को बढ़ावा देने के लिए यह आजादी ले रहा हूं। अगर मैं ऐसा करता हूं, तो मुझे नहीं पता मेरे खिलाफ कदम उठाया जा सकता है। मुद्दा यह है कि मैं इसे हर हाल में आगे ले जाना चाहता हूं। एक क्रिकेटर के तौर पर मेरा मानना है कि ऐसा होना चाहिए।”

क्या आपकी सरकार को पाकिस्तान के भारत या भारत के पाकिस्तान दौरे या दोनों के न्यूट्रल वेन्यू पर खेलने से दिक्कत नहीं है ? जाहिर है, हम इसपर मार्गदर्शन लेंगे। समय आने पर हम कुछ भी कहेंगे। अभी कुछ भी कहना सिर्फ अटकलें होंगी।

टी-20 वर्ल्ड कप में भारत के खिलाफ जीत पर क्या कहा?- मुझे डर था कि पाकिस्तान (टी20) विश्व कप में भारत को हरा देगा। प्रशंसकों पर इसका काफी प्रभाव पड़ा। हमने उस पल के बाद अच्छी चीजें होते हुए देखीं। प्रशंसक पाकिस्तान क्रिकेट पर भरोसा करने लगे। यह एक तरह का टर्निंग प्वाइंट था।

पढें क्रिकेट (Cricket News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट