ताज़ा खबर
 

PM MODI का छात्रों को गुरुमंत्र, कहा- तनाव होने पर लक्ष्मण-द्रविड़ की पारियों से लें सीख

वीवीएस लक्ष्मण और राहुल द्रविड़ के अलावा पीएम मोदी ने अनिल कुंबले की भी तारीफ की। अनिल कुंबले ने टूटे जबड़े के साथ भारतीय टीम के लिए गेंदबाजी कर एक मिसाल पेश की थी, जिसे लोग आज भी नहीं भुला पाए हैं।

वीवीएस लक्ष्मण, राहुल द्रविड़ और पीएम मोदी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को स्टूडेंट्स को एग्जाम में तनाव से मुक्ति पाने लिए कुछ कारगर उपाय सुझाते हुए क्रिकेट खिलाड़ियों द्वारा अपनाए जाने वाले कुछ तरीके सुझाए। मोदी ने छात्रों से परीक्षा में जाने से पहले अपने पेन कॉपी आदि को ठीक करने जैसी परीक्षा से जुड़ी गतिविधियों में एक दो मिनट के लिये खुद को शामिल करने का सुझाव देते हुए कहा कि ऐसा करने से वे परीक्षा जनित तनाव से मुक्ति पा सकेंगे। उन्होंने इस दौरान कुछ क्रिकेटरों का उदाहरण देते हुए भारतीय टीम की ऐतिहासिक जीत के बारे में चर्चा की। राहुल द्रविड़ और वीवीएस लक्ष्मण द्वारा साल 2001 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेले गए टेस्ट मैच को याद करते हुए पीएम मोदी ने बच्चों को उनकी सहासी पारियों से प्रेरणा लेने की बात कही। कोलकाता टेस्ट की चर्चा करते हुए उन्होंने बच्चों को इन दोनों बल्लेबाजों के जूझारू पारियों से सीख लेने की बात कही।

वीवीएस लक्ष्मण और राहुल द्रविड़ के अलावा पीएम मोदी ने अनिल कुंबले की भी तारीफ की। अनिल कुंबले ने टूटे जबड़े के साथ भारतीय टीम के लिए गेंदबाजी कर एक मिसाल पेश की थी, जिसे लोग आज भी नहीं भुला पाए हैं। पीएम ने कहा, ‘अनिल कुंबले द्वारा टूटे जबड़े के साथ की गई वेस्ट इंडीज में बोलिंग को कौन भूल सकता है? चोट के बावजूद उन्होंने ब्रायन लारा जैसे दिग्गज बल्लेबाज को आउट कर टीम को एक बहुमूल्य विकेट दिलाई थी।’

पीएम मोदी ने आगे कहा, ‘कुंबले के जज्बे के कारण यह मैच उनके करियर के लिए मील का पत्थर साबित हुआ। ऐसे ही राहुल द्रविड़ और वीवीएस लक्ष्मण ने टीम के फॉलोऑन में पहुंच जाने के बाद भी हार नहीं मानी और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ जीत हासिल की। राहुल और लक्ष्मण पिच पर डटे रहे और मैच का रुख बदलकर रख दिया। इन दोनों बल्लेबाजों की इस पारी से बहुत कुछ सीखा जा सकता है।’ बता दें कि क्रिकेट इतिहास में ऐसा सिर्फ तीन बार हुआ है जब कोई टीम फॉलोऑन में पहुंचने के बाद जीत हासिल करने में कामयाब रही है।

कोलकाता के ईडन गार्डंस में हुए इस मैच में ऑस्ट्रेलिया ने पहली पारी में 445 रन बनाकर भारत को 171 पर ही ऑल आउट कर दिया। जिसके बाद फॉलोऑन खेलने उतरी भारतीय टीम ने राहुल द्रविड़ और वीवीएस लक्ष्मण की पारियों की बदौलत 7 विकेट पर 657 रन बनाने का कारनामा किया। मैच जीतने के लिए ऑस्ट्रेलिया को 384 रन बनाने थे, लेकिन कंगारू की टीम महज 212 रन पर सिमट गई और भारत इस मुकाबले को 171 रन से जीतने में सफल रहा।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 ICC ODI रैंकिंग में कोहली, रोहित और बुमराह का जलवा, जानें बाकी खिलाड़ियों का हाल
2 IND vs AUS: केएल राहुल ने बढ़ाई ऋषभ पंत की मुश्किलें, न्यूजीलैंड के खिलाफ वापसी नहीं होगा आसान
3 VIDEO: ‘ऑस्ट्रेलिया को बच्चों की तरह जलील किया’ शोएब अख्तर ने टीम इंडिया की तारीफों के बांधे पुल
यह पढ़ा क्या?
X