पाकिस्तान के तेज गेंदबाज मोहम्मद आमिर ने टेस्ट क्रिकेट को कहा अलविदा, वनडे और टी20 में लगाएंगे ध्यान

Mohammad Amir retirement: आमिर ने अपने करियर में 36 टेस्ट खेले। इसमें उन्होंने 30.47 के औसत और 2.85 के इकॉनमी से 119 विकेट लिए हैं।

संन्यास के बाद अब पाकिस्तान छोड़ना चाहते हैं अमीर, इस देश में बसने के लिए मांगी नागरिकता।(twitter/icc)

Mohammad Amir retires from test: पाकिस्तान क्रिकेट टीम के अनुभवी तेज गेंदबाज मोहम्मद आमिर ने शुक्रवार को टेस्ट क्रिकेट को अलविदा कहा दिया। आमिर ने जुलाई 2009 में गाले के मैदान पर श्रीलंका के खिलाफ मैच से अपना टेस्ट डेब्यू किया था। उन्होंने अपना आखिरी टेस्ट इस साल जोहानिसबर्ग में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेला था। आमिर ने अपने करियर में 36 टेस्ट खेले। इसमें उन्होंने 30.47 के औसत और 2.85 के इकॉनमी से 119 विकेट लिए हैं।

इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (आईसीसी) और पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने आमिर के टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लेने की पुष्टि की है। आमिर की ओर से जारी बयान में कहा गया है, ‘पाकिस्तान क्रिकेट टीम का प्रतिनिधित्व करना बहुत ही सम्मान की बात है। हालांकि, मैंने टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लेने का फैसला किया है, इसलिए मैं अब ह्वाइट बॉल क्रिकेट पर अपना ध्यान केंद्रित कर सकता हूं।’

आमिर ने इस वर्ल्ड कप में 8 मैच में 21.05 के औसत से 17 विकेट लिए थे। वे इस वर्ल्ड कप में सबसे ज्यादा विकेट लेने वालों में 8वें नंबर और पाकिस्तान के नंबर वन गेंदबाज थे। आमिर ने कहा, ‘मेरी एकमात्र इच्छा और उद्देश्य पाकिस्तान के लिए खेलना है। मैं अगले साल होने वाले आईसीसी टी20 वर्ल्ड कप समेत भविष्य में आने वाली चुनौतियों में योगदान देने के लिए पूरी तरह से फिट रहने की पूरी कोशिश करूंगा।’

उन्होंने कहा, ‘संन्यास का फैसला लेना आसान नहीं था। मैं पिछले कुछ समय से इसके बारे में सोच रहा था। लेकिन आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप जल्द ही शुरू होने वाली है। पाकिस्तान के कुछ युवा तेज गेंदबाज बहुत ही अच्छे हैं। यह बिल्कुल सही समय है कि मैं खुद को टेस्ट क्रिकेट से दूर कर लूं ताकि चयनकर्ता अपने हिसाब से रणनीति तय कर सकें।’ आमिर ने कहा, ‘मैं टेस्ट क्रिकेट में अपने टीम के सभी साथियों समेत विपक्षी खिलाड़ियों को भी धन्यवाद देना चाहता हूं। उनके साथ और खिलाफ खेलना मेरे लिए हमेशा सौभाग्य की बात रही। मुझे विश्वास है कि सीमित ओवर के क्रिकेट में हम कदम से कदम मिलाकर चलेंगे। मैं पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड को भी धन्यवाद देना चाहता हूं, जिसने मुझे यह स्वर्णिम मौका दिया। मैं अपने कोचों का हमेशा आभारी रहूंगा, जिन्होंने मेरे करियर के हर स्टेज पर प्रतिभा को निखारा।’

पढें क्रिकेट समाचार (Cricket News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट