ताज़ा खबर
 

पाकिस्‍तानी महिला क्रिकेट टीम की कप्‍तान ने फेसबुक पर लिखा दर्द, कहा-खेलना बंद कर दूंगी

पाकिस्तान के लिए 102 मैच खेल चुकीं 31 साल की सना ने कहा कि अगर उनके प्रति इसी तरह का प्रचार जारी रहा तो वह खेलना पंद कर देंगी।

Author August 5, 2017 15:43 pm
सना मीर के नेतृत्व में पाकिस्तानी टीम तालिका में सबसे नीचे रहे थी और उसे सात टीमों के खिलाफ एक भी जीत नहीं मिल सकी थी। (Express Photo)

खुद को ‘स्वार्थी और दंभी’ कहे जाने से नाराज पाकिस्तानी महिला क्रिकेट टीम की कप्तान सना मीर ने राष्ट्रीय कोच सबीह अजहर पर हमला बोला है। इंग्लैंड में समाप्त विश्व कप में खराब प्रदर्शन के बाद अजहर ने कप्तान की आलोचना की थी। सना मीर के नेतृत्व में पाकिस्तानी टीम तालिका में सबसे नीचे रहे थी और उसे सात टीमों के खिलाफ एक भी जीत नहीं मिल सकी थी। अजहर ने सना को स्वार्थी, दंभी कहा था और साथ ही यह भी कहा था कि सना की इन्हीं ‘विशेषताओं’ के कारण ही पाकिस्तानी टीम को बुरी तरह हार मिली थी।

एक वेबसाइट की रिपोर्ट के मुताबिक, सबीह अजहर ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि हाल ही में इंग्लैंड में खेले गए विश्व कप में कप्तान सना का रवैया आत्मकेंद्रित और घमंडी था। उन्होंने कहा कि नई खिलाड़ी को टीम में हतोत्साहित किया जाता है। कोच ने कहा कि 25 साल की कायनात इम्तियाज को विश्व कप में वेस्टइंडीज के खिलाफ खेले गए मैच में बिना उनकी जानकारी के अंतिम एकादश में शामिल नहीं किया गया था।

सना ने सोशल मीडिया के माध्यम से अपनी बात रखी। सना ने अपने फेसबुक पेज पर लिखा, “यह काफी दुखद: है कि राष्ट्रीय टीम की कोच का कप्तान के प्रति इस तरह की सोच है। यह टीम की एकता और मनोबल खराब करने वाली बात है। मैं काफी समय से अपनी टीम का मनोबल बढ़ाने के लिए प्रयासरत हूं लेकिन कोच की बातों से उसका मनोबल गिर रहा है।”

मीर ने लिखा है, “मैं इस तरह की बात मीडिया से करना नहीं चाहती थी, लेकिन कोच की गोपनीय रिपोर्ट और महिला विंग की जनरल मैनेजर और पीसीबी चैयरमेन के बयानों ने सुर्खियां बटोरी हैं तो मुझे लगा कि इस बात पर मेरा कुछ मुद्दों पर छोटा सा जवाब जरूरी है।”

पाकिस्तान के लिए 102 मैच खेल चुकीं 31 साल की सना ने कहा कि अगर उनके प्रति इसी तरह का प्रचार जारी रहा तो वह खेलना बंद कर देंगी।

देखिए वीडियो - कभी लड़कों के साथ खेलती थी क्रिकेट, आज रच दिया इतिहास

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App