ताज़ा खबर
 

केएल राहुल की खराब फॉर्म से परेशान नहीं है राहुल द्रविड़, जानिए क्‍यों

भारत ए के कोच राहुल द्रविड़ ने कहा है कि वह निलंबन के बाद वापसी कर रहे केएल राहुल के फार्म को लेकर चिंतित नहीं है क्योंकि उन्हें उसके हुनर पर पूरा भरोसा है।

Author February 1, 2019 10:10 AM
भारत ए के कोच राहुल द्रविड़ ने कहा है कि वह निलंबन के बाद वापसी कर रहे केएल राहुल के फार्म को लेकर चिंतित नहीं है क्योंकि उन्हें उसके हुनर पर पूरा भरोसा है।

भारत ए के कोच राहुल द्रविड़ ने कहा है कि वह निलंबन के बाद वापसी कर रहे केएल राहुल के फार्म को लेकर चिंतित नहीं है क्योंकि उन्हें उसके हुनर पर पूरा भरोसा है। राहुल पर एक टीवी शो के दौरान महिला विरोधी बयानबाजी के कारण प्रतिबंध लगा दिया गया था जिसे बाद में हटा दिया गया। राहुल ने भारत ए के लिये वापसी करते हुए इंग्लैंड लायंस के खिलाफ तीन वनडे मैचों में 13, 42 और 0 रन बनाये। द्रविड़ ने कहा ,‘‘ मुझे उसकी काबिलियत पर कोई संदेह नहीं है । वह चार दिवसीय मैच खेल रहा है । उसने साबित किया है कि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में तीनों प्रारूपों में वह कामयाब हो सकता है ।’’ उन्होंने कहा ,‘‘ उसने टी20, वनडे और टेस्ट में शतक लगाये हैं और बहुत कम बल्लेबाजों का ऐसा रिकार्ड है । मैं उसके फार्म को लेकर चिंतित नहीं हूं ।’’

पूर्व कप्तान राहुल द्रविड़ को यकीन है कि विराट कोहली की कप्तानी में भारतीय क्रिकेट टीम अगले कुछ महीने में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करके विश्व कप में प्रबल दावेदार के रूप में जायेगी। भारत ने दक्षिण अफ्रीका, आस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के खिलाफ विदेशी सरजमीं पर तीन वनडे श्रृंखलायें जीती हैं । उसे 30 मई से शुरू हो रहे विश्व कप में सबसे प्रबल दावेदारों में गिना जा रहा है।

द्रविड़ ने यहां पत्रकारों से कहा ,‘‘ मुझे लगता है कि भारतीय टीम इस समय बेहतरीन क्रिकेट खेल रही है और खिताब के प्रबल दावेदार के रूप में जायेगी। उम्मीद है कि अगले कुछ महीने में हम सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करेंगे ।’’ इंग्लैंड में 1999 विश्व कप में सर्वाधिक 461 रन बनाने वाले द्रविड़ का मानना है कि उस विश्व कप से इसकी तुलना नहीं होनी चाहिये। उन्होंने कहा ,‘‘ इंग्लैंड में विकेट सपाट होंगे और इस विश्व कप में काफी रन बनेंगे । हम जब ए टीम लेकर इंग्लैंड गए थे तो नियमित तौर पर 300 रन बनते थे।’’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App