scorecardresearch

5000 टेस्ट रन बनाने वाले पहले बांग्लादेशी बल्लेबाज का दावा, डॉन ब्रेडमैन से होती है मेरी तुलना; IPLमें अबतक नहीं मिला खरीदार

मुशफिकुर रहीम ने कहा कि जब वह रन बनाते हैं तो बांग्लादेश में लोग उनकी तुलना डॉन ब्रैडमैन से करते हैं। ऐसा बयान देने वाले रहीम को आईपीएल में अबतक कोई खरीदार नहीं मिला है। बार-बार अनसोल्ड रहने के बाद इस साल तो उन्होंने ऑक्शन में अपना नाम ही नहीं दिया।

सर डोनाल्ड ब्रेडमैन और मशफिकुर रहीम। (फोटो-ट्विटर/फाइल)

बांग्लादेश के अनुभवी बल्लेबाज मुशफिकुर रहीम ने श्रीलंका के खिलाफ पहले टेस्ट में बड़ी उपलब्धि हासिल की। वह 5000 टेस्ट रन बनाने वाले पहले बांग्लादेशी क्रिकेटर बन गए। इसके बाद उन्होंने बड़ा दावा किया। उन्होंने कहा कि जब वह रन बनाते हैं तो बांग्लादेश में लोग उनकी तुलना डॉन ब्रैडमैन से करते हैं। ऐसा बयान देने वाले रहीम को आईपीएल में अबतक कोई खरीदार नहीं मिला है। बार-बार अनसोल्ड रहने के बाद इस साल तो उन्होंने ऑक्शन में अपना नाम ही नहीं दिया।

मुशफिकुर ने कहा, “बांग्लादेश में मैंने देखा है कि जब मैं शतक बनाता हूं तो लोग मेरी तुलना ब्रैडमैन से करते हैं, लेकिन जब मैं रन नहीं बनाता तो मुझे अपने लिए गड्ढा खोद रहा हूं। मैं सीनियर खिलाड़ियों में से एक हूं इसलिए हम लंबे समय तक यहां नहीं रहेंगे। लेकिन यह एक कल्चर बनता जा रहा है, इसलिए युवा खिलाड़ियों को समर्थन की जरूरत है। अगर मुझे मैदान से बाहर इन चीजों से निपटने में इतना समय देना पड़ता है, तो हमारी ऑन-फील्ड ड्यूटी प्रभावित हो जाती है।”

टेस्ट क्रिकेट में 5000 रन बनाने वाला पहला बांग्लादेशी क्रिकेटर बनने पर रहीम ने कहा, “5,000 टेस्ट रन तक पहुंचने वाले पहले बांग्लादेशी बनना एक शानदार अहसास है। लेकिन मुझे यकीन है कि मैं आखिरी नहीं हूं। हमारे बहुत से सीनियर और जूनियर खिलाड़ी हैं, जो 8,000 या 10,000 रन तक पहुंच सकते हैं।”

रहीम ने आगे कहा, ” अपने डेब्यू टेस्ट में मेरा लक्ष्य दूसरा टेस्ट खेलना था। मैंने अपने पहले टेस्ट में अच्छा प्रदर्शन नहीं किया। ‘कीपर-बल्लेबाज’ होने के नाते मैंने हमेशा टेस्ट को प्राथमिकता दी। आपको इस बात से आंका जाता है कि आपने इस प्रारूप में कितने बड़े शतक लगाए हैं। मैं हमेशा से लंबे समय तक टेस्ट खेलना चाहता था, ताकि मैं एक व्यक्ति और एक टीम के रूप में बड़ी उपलब्धियां हासिल कर सकूं। सफलता की कोई सीमा नहीं है, लेकिन मैं अपनी उपलब्धि से बहुत खुश हूं।”

तमिल इकबाल के साथ प्रतिस्पर्धा के बारे में पूछे जाने पर मुशफिकुर ने कहा कि अगर बाएं हाथ के बल्लेबाज ने अपना रिकॉर्ड तोड़ दिया तो उन्हें खुशी होगी। उन्होंने कहा, ” तमीम इन सभी चीजों (रिकॉर्ड्स) को जानते हैं और वह करीब थे। उन्होंने मुझसे कहा, मैं वहां नहीं पहुंच सका, आप पहुंच गए। उन्होंने मुझे बधाई दी। मैं हमेशा सोचता हूं कि आपके भाई, टीम के साथी या दोस्त ने जो हासिल किया है, वह एक बेहतर एहसास है। रिकॉर्ड तोड़े जाने के लिए होते हैं। मैं बहुत खुश था जब तमीम ने मेरा सर्वोच्च व्यक्तिगत स्कोर तोड़ा। तब उन्होंने मुझसे कहा था कि अगले दो या तीन साल में मैं उनका रिकॉर्ड फिर से तोड़ दूंगा। यह एक स्वस्थ प्रतिस्पर्धा है और ऐसा ही होना चाहिए। हम टीम के साथी के रूप में एक दूसरे की मदद करते हैं।”

पढें क्रिकेट (Cricket News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट