ताज़ा खबर
 

AUS vs IND, 1st ODI: धोनी पर विराट से अलग है रोहित की राय, बोले- नंबर 4 के लिए आदर्श बल्‍लेबाज

भारत ने 289 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए रोहित के वनडे में 22वें शतक तथा धोनी के साथ 141 रन की साझेदारी के बावजूद नौ विकेट पर 254 रन ही बना पाया। रोहित ने कहा, 'अगर आप धोनी की ओवरऑल बल्लेबाजी पर गौर करो तो उनका स्ट्राइक रेट 90 के करीब है।

Author Updated: January 13, 2019 2:13 PM
रोहित शर्मा। (फोटो सोर्स- एपी)

कप्तान विराट कोहली की राय से उलट भारतीय वनडे टीम के उप कप्तान रोहित शर्मा ने कहा कि महेंद्र सिंह धोनी के लिए बल्लेबाजी क्रम में आदर्श स्थान नंबर चार है। भारतीय टीम विश्व कप से पहले बल्लेबाजी क्रम को तय करने में लगी है और रोहित ने कहा कि यह उनकी निजी राय है तथा कप्तान और कोच का फैसला अंतिम होगा। धोनी ने शनिवार को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले वनडे में 96 गेंदों पर 51 रन बनाए और भारत को यह मैच 34 रन से गंवाना पड़ा। इससे धोनी की वर्तमान फॉर्म को लेकर फिर से बहस शुरू हो गई है। भारतीय पारी में शतक जड़ने वाले रोहित ने संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘निजी तौर पर मेरा मानना है कि धोनी का नंबर चार पर बल्लेबाजी करना टीम के लिए आदर्श स्थिति होगी लेकिन हमारे पास अंबाती रायुडु है जो वास्तव में नंबर चार पर अच्छा प्रदर्शन कर रहा है। यह पूरी तरह से इस पर निर्भर करता है कि कप्तान और कोच इस बारे में क्या सोचते हैं। मेरी व्यक्तिगत राय पूछो तो मुझे धोनी को नंबर चार पर उतारने में खुशी होगी।’ कोहली ने इससे पहले इस स्थान के लिए अपनी पसंद रायुडु को बताया था।

भारत ने 289 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए रोहित के वनडे में 22वें शतक तथा धोनी के साथ 141 रन की साझेदारी के बावजूद नौ विकेट पर 254 रन ही बना पाया। रोहित ने कहा, ‘अगर आप धोनी की ओवरऑल बल्लेबाजी पर गौर करो तो उनका स्ट्राइक रेट 90 के करीब है। आज परिस्थिति भिन्न थी। जब वह बल्लेबाजी के लिए आए तब हमने तीन विकेट गंवा दिए थे और ऑस्ट्रेलिया बहुत अच्छी गेंदबाजी कर रहा था। आप शतकीय साझेदारी आसानी से नहीं निभा सकते। इसलिए हमने क्रीज पर कुछ समय बिताया और यहां तक कि मैं भी तेजी से रन नहीं बना पाया।’

उन्होंने कहा कि मैंने भी कुछ समय लिया क्योंकि हम यह साझेदारी निभाना चाहते थे। अगर हम उस समय एक और विकेट गंवा देते तो मैच वहीं पर हमारे हाथ से निकल जाता। इसलिए हमने गेंदें खाली जाने दी और साझेदारी पर ध्यान दिया। मैच से पहले धोनी को टीम का प्रकाशपुंज करार देने वाले रोहित ने इसके साथ ही कहा कि यह पूर्व कप्तान टीम के लिए किसी भी स्थान पर बल्लेबाजी करने के लिए तैयार है। उन्होंने कहा, ‘यह उनके लिए बेहद सरल है और वह चीजों को जटिल नहीं बनाते। हमने साझेदारी निभाने पर बात की क्योंकि तब यह जरूरी था।’ भारत ने शिखर धवन, कोहली और रायुडु के विकेट जल्दी गंवा दिए और रोहित ने कहा कि इससे अन्य बल्लेबाजों पर पारी संवारने का दबाव बन गया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 AUS vs IND, 1st ODI: धड़ाधड़ गिर गए थे तीन विकेट, नौ साल बाद धोनी ने अपने कंधों पर ली यह जिम्‍मेदारी
ये पढ़ा क्या?
X