ताज़ा खबर
 

IND vs NZ: टीम से निकाले जाने पर दुखी थे मोहम्‍मद शमी, पांच महीनों में बदल डाले हालात

न्यूजीलैंड से पहले ऑस्ट्रेलिया में भी टेस्ट और वनडे में शमी का प्रदर्शन शानदार रहा था। पिछले तीन महीनों के दौरान शमी की गेंदबाजी में काफी बदलाव देखने को मिला है। क्रिकेट के दिग्गज शमी के प्रदर्शन को देख उन्हें वर्ल्ड कप के दौरान भारतीय टीम में तीसरे तेज गेंदबाज के रूप में देख रहे हैं।

मोहम्मद शमी।

न्यूजीलैंड के खिलाफ भारतीय टीम के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी ने अपने प्रदर्शन से सभी का दिल जीत लिया। भारत की तरफ से सबसे कम मैचों में 100 विकेट लेने वाले शमी को इस सीरीज के लिए मैन ऑफ द सीरीज चुना गया। न्यूजीलैंड से पहले ऑस्ट्रेलिया में भी टेस्ट और वनडे में शमी का प्रदर्शन शानदार रहा था। पिछले तीन महीनों के दौरान शमी की गेंदबाजी में काफी बदलाव देखने को मिला है। क्रिकेट के दिग्गज शमी के प्रदर्शन को देख उन्हें वर्ल्ड कप के दौरान भारतीय टीम में तीसरे तेज गेंदबाज के रूप में देख रहे हैं। जसप्रीत बुमराह और भुवनेश्वर कुमार के बाद बतौर तीसरा तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी ने अपना स्थान टीम में लगभग पक्का कर लिया है। बीते साल पत्‍‌नी हसीन जहा से विवाद की वजह से शमी के क्रिकेट करियर पर खासा फर्क पड़ा था। इस घटना के बाद शमी यो-यो टेस्ट में भी फेल हो गए थे और उनके खेलने पर कई तरह के सवाल भी खड़े किए जा रहे थे।

शमी के इस प्रदर्शन के बाद भारतीय हेड कोच रवि शास्त्री ने भी उनकी जमकर तारीफ की। शास्त्री ने स्टार स्पोर्ट्स को दिए इंटरव्यू में कहा, ‘न्यूजीलैंड के खिलाफ पहले तीन मैचों के दौरान शमी ने टॉप ऑर्डर का विकेट जल्दी लिया, जिससे टीम को मैच जीतने में आसानी हुई। पिछले पांच महीनों के दौरान उनकी गेंदबाजी में अलग ही पैनापन आया है। यो-यो टेस्ट में फेल होने के बाद टीम से ड्रॉप होना किसी भी खिलाड़ी के लिए दुखदायी पल होता है, लेकिन शमी ने दमदार वापसी कर अपने आलोचकों को करारा जवाब दिया।’

शास्त्री ने आगे कहा, ‘शमी ने तीनों फॉर्मेट में खुद को साबित किया है। शमी की शानदार शुरुआत और बाद में चहल-कुलदीप की जोड़ी की बदौलत भारतीय गेंदबाजी को मजबूती मिली। अपनी गेंदबाजी से शमी ने भारतीय टीम में अपना स्थान पक्का कर लिया है। शमी को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ घरेलू सीरीज में आराम दिया जा सकता है। पिछले तीन महीनों से लगातार क्रिकेट खेलने वाले शमी को कुछ समय आराम की जरूरत है।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App