ताज़ा खबर
 

रिकॉर्ड पारी भी मार्टिन गुप्टिल को नहीं दिला सकेगी टेस्ट टीम में वापसी, 138 गेंदों पर बनाए थे नाबाद 180 रन

कोच हेसन ने गुप्टिल की पारी को बेजोड़ करार दिया लेकिन उन्होंने कहा कि इस 30 वर्षीय बल्लेबाज को पहले भी टेस्ट स्तर पर आजमाया जा चुका है लेकिन वे सफल नहीं रहे।

Author वेलिंगटन | March 2, 2017 4:35 PM
दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ हैमिल्टन वनडे मुकाबले में अपनी शतकीय पारी के दौरान शॉट खेलते न्यूजीलैंड के सलामी बल्लेबाज मार्टिन गप्टिल।(Photo: Blackcaps)

न्यूजीलैंड के कोच माइक हेसन ने कहा कि सलामी बल्लेबाज मार्टिन गुप्टिल की दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ चौथे वनडे में रिकॉर्ड शतकीय पारी उनकी टेस्ट टीम में वापसी के लिये पर्याप्त नहीं है। गुप्टिल ने हैमिल्टन में 138 गेंदों पर नाबाद 180 रन बनाये जिससे न्यूजीलैंड ने दक्षिण अफ्रीका को सात विकेट से हराकर पांच मैचों की श्रृंखला 2-2 से बराबर करायी। यह किसी कीवी बल्लेबाज की दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ वनडे में सर्वश्रेष्ठ व्यक्तिगत पारी है। हेसन ने गुप्टिल की पारी को बेजोड़ करार दिया लेकिन उन्होंने कहा कि इस 30 वर्षीय बल्लेबाज को पहले भी टेस्ट स्तर पर आजमाया जा चुका है लेकिन वे सफल नहीं रहे। उन्होंने कहा कि गुप्टिल को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ बुधवार से शुरू होने वाली तीन टेस्ट मैचों की श्रृंखला के लिये टीम में नहीं चुना जाएगा।

हेसन ने रेडियो न्यूजीलैंड से कहा, ‘वह टेस्ट टीम में नहीं है। आप अभी मार्टिन के रिकॉर्ड को देख लीजिए और फिर फैसला करिये। विश्व भर में खिलाड़ियों के कई उदाहरण हैं जो एक प्रारूप में बहुत अच्छा प्रदर्शन करते हैं लेकिन अन्य में नहीं और इसलिए तीन अलग अलग प्रारूप हैं।’ गुप्टिल का वनडे में औसत 43.98 है लेकिन टेस्ट मैचों में उन्होंने 29.38 की औसत से ही रन बनाये हैं। उन्होंने पिछले साल भारत दौरे के बाद टेस्ट टीम से हटा दिया गया था। उन्होंने भारतीय दौरे में छह पारियों में केवल एक अर्धशतक लगाया था।

गुप्टिल ने दिलायी न्यूजीलैंड को दक्षिण अफ्रीका पर धमाकेदार जीत

सलामी बल्लेबाज मार्टिन गुप्टिल ने वापसी पर ही नाबाद 180 रन की धमाकेदार पारी खेली जिससे न्यूजीलैंड ने बुधवार (1 मार्च) को यहां चौथे एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में दक्षिण अफ्रीका को 30 गेंद शेष रहते हुए सात विकेट से हराकर पांच मैचों की श्रृंखला 2-2 से बराबर की। गुप्टिल दुनिया के पहले ऐसे बल्लेबाज बन गये हैं जिन्होंने वनडे में 180 या इससे अधिक की तीन पारियां खेली हैं। उन्होंने न्यूजीलैंड-दक्षिण अफ्रीका के बीच एक पारी में सर्वाधिक स्कोर का नया रिकॉर्ड भी बनाया तथा इस बीच रोस टेलर (66) के साथ तीसरे विकेट के लिये 180 रन की रिकॉर्ड साझेदारी की। इससे न्यूजीलैंड ने केवल 45 ओवरों में तीन विकेट पर 280 रन बनाकर जीत दर्ज की। इससे पहले कप्तान एबी डिविलियर्स (नाबाद 72) और फाफ डुप्लेसिस (67) और वायने पर्नेल के 12 गेंदों पर 29 रन की पारी से दक्षिण अफ्रीका ने पहले बल्लेबाजी करते हुए आठ विकेट पर 279 रन बनाये थे। न्यूजीलैंड ने आखिरी पांच ओवरों में 72 रन लुटाये।

गुप्टिल ने अपनी पारी के दौरान 138 गेंदों का सामना किया तथा 15 चौके और 11 छक्के लगाये। इससे पहले वनडे में नाबाद 239 और नाबाद 189 रन की दो पारियां खेल चुके गुप्टिल ने डीन ब्राउनली (एक) और कप्तान केन विलियमसन (21) के आउट होने के बाद बखूबी जिम्मेदारी संभाले रखी और सपाट पिच पर दक्षिण अफ्रीका के किसी भी गेंदबाज को नहीं बख्शा। उनका स्कोर वनडे की दूसरी पारी में बना चौथा बड़ा स्कोर भी है। गुप्टिल ने दक्षिण अफ्रीका के सबसे सफल गेंदबाज इमरान ताहिर (56 रन देकर दो विकेट) पर लगातार दो छक्के लगाने के बाद दो रन लेकर अपनी टीम को लक्ष्य तक पहुंचाया। ताहिर के अलावा दक्षिण अफ्रीका की तरफ से कैगिसो रबादा ने 41 रन देकर एक विकेट लिया। गुप्टिल को उनकी शानदार पारी के लिये मैन आफ द मैच चुना गया।

IPL 2017: इन टीमों के नाम दर्ज हैं आईपीएल के 9 दिलचस्प रिकॉर्ड्स

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App