कुलदीप यादव ने खोला राज, बताया टीम से बाहर होने पर रवि शास्त्री ने दी थी ये खास नसीहत

कुलदीप यादव को पहले तीन मुकाबलों में सिर्फ लॉर्ड्स टेस्ट में खेलने का मौका मिला। इस दौरान वह मैच की पहली पारी में महज 9 ओवर फेंकने में कामयाब रहे, जहां उन्हें कोई सफलता नहीं मिली। वनडे और टी-20 में शानदार प्रदर्शन करने वाले कुलदीप टेस्ट मैच में कुछ खास कमाल नहीं कर सकें।

कोच रवि शास्त्री और कुलदीप यादव।

भारतीय स्पिनर कुलदीप यादव को इंग्लैंड के खिलाफ चल रहे टेस्ट सीरीज के अंतिम दो मैचों से टीम से बाहर कर दिया गया था। कुलदीप यादव को पहले तीन मुकाबलों में सिर्फ लॉर्ड्स टेस्ट में खेलने का मौका मिला। इस दौरान वह मैच की पहली पारी में महज 9 ओवर फेंकने में कामयाब रहे, जहां उन्हें कोई सफलता नहीं मिली। वनडे और टी-20 में शानदार प्रदर्शन करने वाले कुलदीप टेस्ट मैच में कुछ खास कमाल नहीं कर सकें। इंग्लैंड से लौटने के बाद कुलदीप बेंगलोर के एम चिन्नास्वामी स्टेडियम में ऑस्ट्रेलिया ए के खिलाफ चार दिवसीय मुकाबले में इंडिया ए का हिस्सा है। कुलदीप यादव ने वहां एक इंटरव्यू के दौरान कहा, ”जब मैं इंग्लैंड से वापस भारत के लिए लौट रहा था तो कोच रवि शास्त्री और मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद ने मुझसे काफी देर तक बात की थी। इस दौरान दोनों ने मुझे ज्यादा से ज्यादा क्रिकेट खेलने की नसीहत दी थी।”

भारतीय क्रिकेटर कुलदीप यादव (फोटो सोर्स- पीटीआई)

कुलदीप ने कहा, ”टेस्ट मासिकता को बदलना पड़ता है, खिलाड़ी को काफी धैर्य के साथ आगे बढ़ना होता है। टेस्ट क्रिकेट में आपको अपनी लाइन और लेंथ ध्यान केंद्रित करना होता है। इंग्लैंड के हालात कुछ ऐसे थे जहां टीम की ओर से सिर्फ एक ही स्पिनर को खिलाया जा सकता है। ऐसे में कप्तान विराट कोहली ने दूसरे टेस्ट मैच में मुझ पर भरोसा जताया। ये बात अलग है कि मैं उस मौके को भुनाने में नाकाम साबित रहा।”

ऑस्ट्रेलिया ए के खिलाफ खेलने को लेकर कुलदीप ने कहा, ”इंग्लैंड में ड्रेसिंग रूम में बैठने से बेहतर इंडिया ए के लिए खेलना है। मुझे ज्यादा से ज्यादा क्रिकेट खेलने से मतलब है।” कुलदीप अक्टूबर में वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट सीरीज में एक बार फिर टीम में जगह बनाना चाहते हैं। कुलदीप को उम्मीद है कि वह वेस्टइंडीज के खिलाफ गेंद से बेहतर प्रदर्शन करेंगे।

पढें क्रिकेट समाचार (Cricket News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट