ताज़ा खबर
 

वर्ल्ड कप में बाएं हाथ के गेंदबाजों का रहा जलवा, देखें आंकड़े

world cup 2019: इस विश्वकप में गेंदबाजों ने न सिर्फ शानदार गेंदबाजी की बल्कि अपनी टीम के लिए मैच भी जीते। इन गेंदबाजों में सबसे ज्यादा दबदबा खब्बू गेंदबाजों का रहा।

Author नई दिल्ली | Updated: July 17, 2019 3:57 PM
इस विश्वकप एकबार फिर बाएं हाथ के गेंदबाजों ने बरपाया कहर, देखें आंकड़े

राहुल साधु

World cup 2019: आईसीसी वर्ल्डकप 2019 खत्म हो चुका है। ये वर्ल्डकप अन्य संस्करणों से ज्यादा रोमांचक रहा। इस टूर्नामेंट में सब कुछ देखने को मिला। टूर्नामेंट शुरू होने से पहले कयास लगाए जा रहे थे कि ये वर्ल्डकप बल्लेबाजों के लिए ज्यादा अनुकूल होगा। इंग्लैंड में पिछले कुछ सालों में जिस तरह से हाई स्कोरिंग मैच देखने को मिले हैं उसको मद्देनज़र रखते हुए सब का अनुमान यही था। लेकिन ऐसा नहीं हुआ। इस विश्वकप में गेंदबाजों ने न सिर्फ शानदार गेंदबाजी की बल्कि अपनी टीम के लिए मैच भी जीते। इन गेंदबाजों में सबसे ज्यादा दबदबा खब्बू गेंदबाजों का रहा।

मिशेल स्टार्क, ट्रेंट बोल्ट, मोहम्मद आमिर, मुस्ताफिजुर रहमान, शाहीन अफरीदी और शेल्डन कॉटरेल टूर्नामेंट में हावी रहे। स्टार्क और रहमान 27 और 20 विकेट लेकर शीर्ष विकेट लेने वाले गेंदबाज थे। लेकिन यह पहली बार नहीं है कि बाएं हाथ के तेज गेंदबाज विश्व कप में एक शक्तिशाली हथियार साबित हुए हो। भारत के दिग्गज खब्बू तेज गेंदबाज जहीर खान ने भी 2011 में सर्वाधिक विकेट लिए थे। लेफ्ट-आर्म तेज गेंदबाजों ने चार साल पहले पहली बार टूर्नामेंट में 100 विकेट लिए थे। 2015 में बाएं हाथ के गेंदबाजों ने 20.46 की औसत से 102 बल्लेबाजों को शिकार बनाया। 2019 में यह संख्या बढ़कर 129 हो गई। इस दौरान उनका औसत 20.03 का रहा।

सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी के आंकड़ों की सूची में, बाएं हाथ के खिलाड़ी हावी हैं। अफरीदी (6/35), स्टार्क (5/26), आमिर (5/30), बेहरेनडॉर्फ (5/44), रहमान (5/59) इस सूची में शीर्ष 10 स्थानों में से सात पर बाएं हाथ के गेंदबाज हैं। विश्व कप 2019 में पांच विकेट लेने वाले आठ गेंदबाजों की सूची में, पांच बाएं हाथ के तेज गेंदबाज हैं, दो दाएं हाथ के हैं और एक बाएं हाथ का ऑर्थोडॉक्स स्पिनर है। वहीं स्टार्क और रहमान ने दो बार ऐसा किया है।

बाएं हाथ के तेज गेंदबाजों ने पिछले आठ विश्व कपों में से छह में गेंदबाजी चार्ट में शीर्ष स्थान हासिल किया है:

1992 – डब्ल्यू अकरम
1999 – जी अलॉट
2003 – सी वास
2011 – जहीर खान
2015 – एम स्टार्क और टी बोल्ट
2019 – एम स्टार्क

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 वेस्टइंडीज दौरे के लिए नहीं चुने जाएंगे धोनी, पंत को बेहतर विकेटकीपर बनाने की मिलेगी जिम्मेदारी
2 इंग्लैंड को विश्व विजेता चुने जाने पर बोले तेंदुलकर, ‘बाउंड्री’ के बजाय एक अन्य सुपर ओवर से चैंपियन का फैसला होना चाहिए था
3 World cup 2019: तेंदुलकर ने विश्व कप एकादश में पांच भारतीयों को रखा, धोनी को नहीं मिली जगह
ये पढ़ा क्या?
X
Testing git commit