ताज़ा खबर
 

बगैर इजाजत मुंबई इंडियंस से जुड़े चोटिल मालिंगा, फिर बाहर

मलिंगा को पिछले साल (2015) नवंबर में वेस्टइंडीज के दौरे के दौरान चोट लगी थी और वह तक से ही फिटनेस हासिल करने के लिए जूझ रहे हैं।

Author कोलंबो | April 18, 2016 12:40 AM
श्रीलंका के स्टार तेज गेंदबाज लसिथ मलिंगा। (फाइल फोटो)

श्रीलंका के तेज गेंदबाज लसिथ मलिंगा इंडियन प्रीमियर लीग के मौजूदा सत्र से बाहर हो गए हैं क्योंकि उनकी फ्रेंचाइजी मुंबई इंडियन्स की मेडिकल टीम ने उन्हें दोबारा उभरी घुटने की चोट के कारण कम से कम चार और महीने के लिए अनफिट पाया है। घुटने की चोट के कारण मलिंगा के श्रीलंका के आगामी इंग्लैंड दौरे और फिर कैरेबियाई प्रीमियर लीग से भी बाहर रहने की संभावना है। श्रीलंका क्रिकेट (एसएलसी) का मेडिकल स्टाफ अब मलिंगा की चोट का आकलन करेगा और फैसला करेगा कि उन्हें सर्जरी की जरूरत है या नहीं। एसएलसी ने विज्ञप्ति में कहा, ‘‘मलिंगा बुधवार (20 अप्रैल) को एसएलसी के विशेषज्ञों के पैनल के समक्ष पेश होंगे और मेडिकल जांच के नतीजों को देखते हुए एसएलसी आगे के कदम पर फैसला करेगा।’’

एसएलसी ने इससे पहले मलिंगा को कारण बताओ नोटिस जारी किया था क्योंकि यह तेज गेंदबाज बोर्ड के निर्देशों को धत्ता बताकर आईपीएल के लिये मुंबई इंडियन्स से जुड़ गया और उन्होंने जरूरी चिकित्सकीय मंजूरी भी नहीं ली थी। बोर्ड ने मलिंगा को इंडियन प्रीमियर लीग में खेलने की अनुमति नहीं दी थी, इसके बावजूद यह तेज गेंदबाज शुक्रवार को मुंबई इंडियन्स से जुड़ गया और उन्होंने टीम के अभ्यास सत्र में भी हिस्सा लिया। मुंबई इंडियन्स ने हालांकि अब तक मलिंगा की चोट पर कोई बयान जारी नहीं किया है।

मलिंगा को पिछले साल नवंबर में वेस्टइंडीज के दौरे के दौरान चोट लगी थी और वह तक से ही फिटनेस हासिल करने के लिए जूझ रहे हैं। मलिंगा और एसएलसी की नये पदाधिकारियों के बीच फरवरी में एशिया कप टी20 से ही टकराव चल रहा है। बोर्ड प्रशासन ने मलिंगा को पिछले महीने विश्व टी20 से पहले कप्तानी छोड़ने के लिये कहा था जिससे वह खफा थे। मलिंगा को हालांकि एक खिलाड़ी के रूप में श्रीलंका की विश्व टी20 टीम में चुना गया लेकिन वह फिटनेस का हवाला देकर टूर्नामेंट से हट गये थे। एसएलसी चयन समिति के अध्यक्ष अरविंद डिसिल्वा ने कहा कि उन्हें मलिंगा के फिटनेस दावों पर संदेह है और साथ ही कहा था कि जब वह आईपीएल में हिस्सा लेंगे तो उनकी फिटनेस साबित हो जाएगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X