ताज़ा खबर
 

मां से मिलने पिछले 10 सालों से गांव नहीं गए मलिंगा, पत्नी के साथ जी रहे लग्जरी लाइफ

मलिंगा की मां कभी नहीं चाहती थी कि उनका बेटा एक क्रिकेटर बने, वह मलिंगा को बैंक कर्मचारी के रूप में काम करते हुए देखना चाहती थी। मलिंगा की मां स्वर्णा ने स्कूल के बाद उन्हें आगे पढ़ने के लिए शहर भेज दिया। शहर के जाने माने महिंदा कॉलेज में मलिंगा ने एडमिशन लिया और यही से उनका लगाव क्रिकेट की तरफ बढ़ता चला गया।

Author February 12, 2018 9:14 AM
लसिथ मलिंगा (Source: Express Photo)

लसिथ मलिंगा वर्ल्ड क्रिकेट के सबसे कामयाब गेंदबाज माने जाते हैं। अपनी गेंदबाजी एक्शन से लोगों को हैरान करने वाले मलिंगा अब आईपीएल में मुंबई इंडियंस टीम के मेंटर के रूप में नजर आएंगे। बांग्लादेश के खिलाफ टी-20 सीरीज के लिए श्रीलंका की टीम में मलिंगा को जगह नहीं दी गई है। इसके अलावा इस साल आईपीएल ऑक्शन में भी किसी भी टीम ने उन्हें खरीदने में दिलचस्पी नहीं दिखाई। मलिंगा की मां कभी नहीं चाहती थी कि उनका बेटा एक क्रिकेटर बने, वह मलिंगा को बैंक कर्मचारी के रूप में काम करते हुए देखना चाहती थी। मलिंगा की मां स्वर्णा ने स्कूल के बाद उन्हें आगे पढ़ने के लिए शहर भेज दिया। शहर के जाने माने महिंदा कॉलेज में मलिंगा ने एडमिशन लिया और यही से उनका लगाव क्रिकेट की तरफ बढ़ता चला गया। मलिंगा गणित में हमेशा अच्छे नंबर लाते थे, इस वजह से उनकी मां चहती थी कि मलिंगा भी एक दिन उनकी तरह बैंक में काम करें। कुछ समय पहले दिए एक इंटरव्यू में स्वर्णा ने मलिंगा को लेकर कहा, ”मलिंगा को शहर पसंद था और हम गांव छोड़कर शहर जाना नहीं चाहते थे। शहर का शोर-शराबा से बेहतर वातावरण गांव का होता है और हमें यहां रहना ज्यादा पसंद है। वहीं क्रिकेटर बनने के बाद मलिंगा की लाइफ काफी बिजी हो गई और वो गांव छोड़ हमेशा के लिए शहर में ही शिफ्ट हो गए”। उन्होंने वहीं शादी की और अपनी पत्नी के साथ रहने लगे। मलिंगा अपनी वाइफ और दोनों बच्चों के साथ कोलंबो में रहते हैं।

मलिंगा की मां स्वर्णा। Express Photo

साल 2004 में क्रिकेट में डेब्यू करने वाले मलिंगा क्रिकेटर बनने के बाद लगभग 10 साल तक अपने माता-पिता से मिलने गांव नहीं जा पाए थे। उनके माता-पिता गाले शहर के पास स्थित रथगामा अपने पुश्तैनी गांव में रहते हैं। मलिंगा की मां बैंक में काम करती थी और रिटायर होने के बाद वो घर पर ही कपड़े सिलने का काम करने लगी। स्वर्णा यह काम किसी मजबूरी में नहीं बल्कि अपने शौक को पूरा करने के लिए करती हैं। स्वर्णा का मानना है कि खाली समय में कुछ नहीं करने से बेहतर किसी काम में खुद को व्यस्त रखना ज्यादा अच्छा है।

मलिंगा भले ही गांव आना पसंद नहीं करते लेकिन जब भी अपने बेटे की याद आती है तो स्वर्णा खुद ही किसी बहाने से शहर जाकर उनसे मिल लेती हैं। मलिंगा आज दुनिया भर में अपनी गेंदबाजी से पॉपुलर हैं, इसके बावजूद भी उनकी मां को लगता है कि अगर उनका बेटा बैंक में काम करता तो उन्हें ज्यादा खुशी मिलती। बैंक में काम करते हुए वह उनकी आंखों के सामने रहता। हालांकि, अपने बेटे की कामयाबी से भी वह बेहद खुश हैं।

World Cup 2019
  • world cup 2019 stats, cricket world cup 2019 stats, world cup 2019 statistics
  • world cup 2019 teams, cricket world cup 2019 teams, world cup 2019 teams list
  • world cup 2019 points table, cricket world cup 2019 points table, world cup 2019 standings
  • world cup 2019 schedule, cricket world cup 2019 schedule, world cup 2019 time table

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X