ताज़ा खबर
 

Ind vs Ban : महेंद्र सिंह धोनी ने पूरे किए 800 शिकार, फाइनल में तोड़ दिए और भी कई रिकॉर्ड

India vs Bangladesh, Ind vs Ban Asia Cup 2018 Final: अंतरराष्ट्रीय मैचों में सबसे अधिक कैच और स्टंपिंग करने के मामले में धोनी अब तीसरे स्थान पर आ गए हैं। धोनी से आगे साउथ अफ्रीका के मार्क बाउचर और ऑस्ट्रेलिया के एडम गिलक्रिस्ट हैं। मार्क बाउचर ने अपने करियर के दौरान कुल 998 शिकार किए हैं, वहीं एडम गिलक्रिस्ट के 905 शिकार हैं।

स्टंपिंग के दौरान महेंद्र सिंह धोनी। (फोटो सोर्स- पीटीआई)

Ind vs Ban, Asia Cup 2018 Final: शुक्रवार को फाइनल मैच में बांग्लादेश को अंतिम ओवर में 3 विकेट से हराकर भारत ने एशिया कप का खिताब सातवीं बार अपने नाम किया। विकेट के पीछे अपनी फुर्ती के लिए मशहूर पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने इस मैच के दौरान इंटरनेशनल क्रिकेट में 800 विकेट पूरे किए। बांग्लादेश के खिलाफ धोनी ने दो बल्लेबाजों को स्टंप आउट कर पवेलियन भेजा। धोनी ने भारत के लिए खतरनाक साबित हो रहे सलामी बल्लेबाज लिटन दास को 41वें ओवर की आखिरी गेंद पर बड़ी चतुराई से कुलदीप की गेंद पर स्टंप कर भारत को बड़ी सफलता दिलाई। लिटन ने अपनी पारी में 117 गेंदों का सामना करते हुए 12 चौकों के अलावा दो छक्के भी लगाए। धोनी टेस्ट में 38, वनडे में 113 और टी-20 में 33 बार स्टंप कर चुके हैं। इसके अलावा तीन फॉर्मेट को मिलाकर धोनी अब तक कुल 616 कैच पकड़ चुके हैं।

अंतरराष्ट्रीय मैचों में सबसे अधिक कैच और स्टंपिंग करने के मामले में धोनी अब तीसरे स्थान पर आ गए हैं। धोनी से आगे साउथ अफ्रीका के मार्क बाउचर और ऑस्ट्रेलिया के एडम गिलक्रिस्ट हैं। मार्क बाउचर ने अपने करियर के दौरान कुल 998 शिकार किए हैं, वहीं एडम गिलक्रिस्ट के 905 शिकार हैं। इसके अलावा धोनी एशिया कप में सबसे अधिक स्टंपिंग करने वाले विकेटकीपर भी बने। धोनी ने इस साल एशिया कप में कुल 11 स्टंपिंग की।

धोनी से पहले एशिया कप में सबसे अधिक 9 स्टंपिंग करने का रिकॉर्ड श्रीलंका के पूर्व विकेटकीपर कुमार संगाकारा के नाम था। वहीं एशिया कप में कुमार संगाकारा और धोनी दोनों ही अब तक अपनी -अपनी टीम के लिए 36 शिकार कर चुके हैं। बता दें कि बांग्लादेश की टीम पहले बल्लेबाजी करते हुए अच्छी शुरुआत के बाद भी 48.5 ओवरों में 222 रनों पर ढेर हो गई। भारत ने इस लक्ष्य को सात विकेट खोने के बाद आखिरी गेंद पर हासिल कर खिताब अपने नाम किया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App