ताज़ा खबर
 

IND vs AUS: कुलदीप के ‘डर’ से लेते थे सिंगल, मैच के बाद ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज का खुलासा

India vs Australia, Ind vs Aus 3rd ODI: 2017 के बाद ऑस्ट्रेलिया को पहली बार देश से बाहर एकदिवसीय क्रिकेट में जीत हासिल हुई है।

मैच के दौरान कुलदीप यादव। (फोटो सोर्स- एपी)

शुक्रवार को रांची में खेले गए भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच तीसरे एकदिवसीय मैच में उस्मान ख्वाजा ने शतक लगाया। उनके शतक की बदौलत टीम ऑस्ट्रेलिया 313 रन बनाने में कामयाब रही। ख्वाजा ने 104 रन बनाए और फिंच के साथ 193 रनों की साझेदारी की। मैच के बाद उस्मान ख्वाजा ने कहा, ‘यह एक बड़ी बात है, पहली बार कुछ भी हासिल करना कठिन होता है। मेरे लिए यह बहुत खास है।’ ख्वाजा ने स्वीकार किया कि कुलदीप यादव की गेंद खेलना मुश्किल है। उन्होंने कहा, ‘मैं कोशिश करता था कि कुलदीप के ओवर में एक रन देकर स्ट्राइक फिंच को दे दूं।’ बता दें कि कुलदीप ने फिंच को पगबाधा आउट करके भारत को पहली सफलता दिलाई। इसके बाद उन्होंने अपने एक ओवर में शॉन मार्श (सात) और पीटर हैंड्सकांब (शून्य) को भी पविलियन भेजा। ख्वाजा ने कहा, ‘टेस्ट क्रिकेट में जब मैं 98 रन बनाकर शतक से चूक गया था तो काफी निराशा हुई थी। इसलिए मैं किसी लक्ष्य को हासिल करने में आने वाली कठिनाई को समझता हू्ं।’

2017 के बाद ऑस्ट्रेलिया को पहली बार देश से बाहर एकदिवसीय क्रिकेट में जीत हासिल हुई है। ख्वाजा ने कहा, ‘ किसी भी जीत पर खुशी होती है इसीलिए तो हम खेलते हैं। भारत जैसी टीम के साथ स्पर्धा करना और जीतना हमें अच्छा लगता है। हमने दो मैच हारे लेकिन तीसरे में कामयाबी मिली। सीरीज में अब भी हमें उम्मीदें हैं और हमें यह अच्छा लग रहा है।’

हालांकि ख्वाजा इस बात से सहमत नजर नहीं आए कि उनकी प्रमुख भूमिका बोलिंग में रही है। उन्होंने कहा, ‘मैंने ऑस्ट्रेलिया A के लिए भी वनडे में काफी रन बनाए। छह महीने पहले ऑस्ट्रेलिया A के लिए मैंने शतक भी बनाया।’ ख्वाजा ने कहा कि कुलदीप की स्पिन पर फिंच छोटे शॉट खेलते थे। इसलिए कोशिश यही रहती थी कि ज्यादा से ज्यादा बॉल वही खेलें। (भाषा इनपुट के साथ)

Next Stories
1 WI vs Eng 2nd T20: इंग्लैंड के खिलाफ महज 45 रनों पर ढेर वेस्टइंडीज, नाम दर्ज हुआ शर्मनाक रिकॉर्ड
2 IND vs AUS: संजय बांगड़ ने बताया कि आखिर कप्तान कोहली क्यों हैं खास
3 VIDEO: गेंद कहीं और टप्‍पा खाई, बॉल-ट्रैकिंग में कुछ और दिखा, DRS पर उठे सवाल
ये पढ़ा क्या?
X