ताज़ा खबर
 

कानपुर टेस्ट: मुरली विजय ने माना, कुछ बल्लेबाज़ों ने ढीले शॉट खेलकर गंवाए विकेट

भारत का स्कोर एक समय एक विकेट पर 154 रन था लेकिन मध्यक्रम लड़खड़ाने के बाद वह पहले दिन का खेल समाप्त होने तक नौ विकेट पर 291 रन हो गया।

Author कानपुर | September 22, 2016 8:31 PM
कानपुर में न्यूजीलैंड के खिलाफ पहले टेस्ट मैच के पहले दिन बल्लेबाजी करते भारत के मुरली विजय। (REUTERS/Danish Siddiqui/22 Sep, 216)

सलामी बल्लेबाज मुरली विजय ने गुरुवार (22 सितंबर) को स्वीकार किया कि कुछ भारतीय बल्लेबाज ढीले शॉट खेलने के दोषी रहे जिसके कारण वह न्यूजीलैंड के खिलाफ पहले टेस्ट मैच के शुरुआती दिन अपनी पकड़ बनाए रखने में नाकाम रहा। भारत का स्कोर एक समय एक विकेट पर 154 रन था लेकिन मध्यक्रम लड़खड़ाने के बाद वह पहले दिन का खेल समाप्त होने तक नौ विकेट पर 291 रन हो गया। विजय ने भारत की तरफ से सर्वाधिक 65 रन बनाए लेकिन वह भी खराब शॉट खेलकर आउट हुए। उन्होंने लेग स्पिनर ईश सोढ़ी की गेंद पर कट करने के प्रयास में विकेटकीपर को कैच दिया। उनके अलावा कप्तान विराट कोहली और रोहित शर्मा ने भी ढीले शॉट खेलकर अपने विकेट इनाम में दिए। विजय से पूछा गया कि क्या भारतीय बल्लेबाज कुशलता से नहीं खेल पाए या फिर पिच के मिजाज के कारण भारत पकड़ बनाए रखने में असफल रहा तो उन्होंने इसके लिए दोनों कारण बताए।

उन्होंने पहले दिन का खेल समाप्त होने के बाद संवाददाताओं से कहा, ‘हमने ढीले शॉट खेलकर विकेट गंवाए और इस विकेट पर भी बल्लेबाजी करना आसान नहीं है। हमें इस विकेट पर संयमित होकर खेलना होगा। हमने यह सबक सीखा है और उम्मीद है कि दूसरी पारी में हम बेहतर प्रदर्शन करेंगे।’ विजय ने अपने खुद के शॉट के बारे में कहा, ‘यह अच्छा शॉट नहीं था और मुझे वास्तव में इस पर काम करना है और दूसरी पारी में अच्छा प्रदर्शन करना है।’

तमिलनाडु के इस सलामी बल्लेबाज ने कहा कि पहले दिन काफी विकेट गंवाने के बावजूद भारत अच्छी स्थिति में है। उन्होंने कहा, ‘हमने स्कोर बना लिया है। अब हमें उन पर दबाव बनाना होगा। यह मैच के लिए अच्छा स्कोर है।’ विजय ने कहा, ‘हमारी अपनी रणनीति है। विकेट धीमा है और इस पर रन बनाना मुश्किल होगा। मुझे पहला दिन इसका अनुभव हुआ। इसलिए उनके लिए भी रन बनाना मुश्किल होगा और हमारे पास अश्विन और जडेजा जैसे बेहतर स्पिनर हैं। उम्मीद है कि हमारे लिए कल (शुक्रवार, 23 सितंबर) का दिन अच्छा होगा।’ रोहित ने भी लॉन्ग ऑन पर आसान कैच देकर अपना विकेट इनाम में दिया लेकिन विजय ने उनका बचाव किया। उन्होंने साथ ही न्यूजीलैंड के स्पिन आक्रमण की भी तारीफ की।

उन्होंने कहा, ‘मैं कहना चाहूंगा कि उनका आक्रमण अच्छा था। हमें परिस्थिति के हिसाब से खेलना था। हम तीन स्पिनरों के साथ उतरने की उनकी रणनीति जानते थे। हम इसके लिए पूरी तरह तैयार थे। चाय के विश्राम के बाद हम परिस्थिति का कुछ फायदा उठा सकते थे।’ विजय वेस्टइंडीज दौरे में केवल एक पारी में सात रन बना पाए। उनसे पूछा गया कि कैरेबियाई दौरे के बाद यहां अर्धशतक जड़कर वह कैसा महसूस कर रहे हैं, उन्होंने कहा, ‘मैंने वहां केवल एक पारी खेली थी और उसके बाद लंबा इंतजार करना पड़ा। अब मैं फिर से क्रिकेट खेलकर खुश हूं।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App