ताज़ा खबर
 

6 साल पहले खेला था आखिरी वनडे, फिर भी वापसी की कोशिश में ये तेज गेंदबाज

तेज गेंदबाज 33 वर्षीय इरफान पठान ने कहा कि क्रिकेट के प्रति उनका प्यार बिना किसी शर्त के है। वह अभी भी नियमित रूप से ट्रेनिंग सत्र में हिस्सा लेते हैं ताकि खुद को शारीरिक रूप से फिट रख सकें।

क्रिकेट खिलाड़ी इरफान पठान। Express Photo by Ganesh Tendulkar

पूर्व स्टार क्रिकेटर इरफान पठान शुक्रवार को पंजाब के लुधियाना में थे। वह जिले में निजी क्रिकेट अकादमी के उद्घाटन समारोह में हिस्सा लेने के लिए आए थे। कार्यक्रम के बाद मीडिया से बात करते हुए पठान ने कहा,”पंजाब ने कई ऐसे क्रिकेट खिलाड़ी देश को दिए हैं जिन्होंने विदेशी धरती पर देश का मान बढ़ाया है। लेकिन पंजाब के सबसे बड़े शहरों में एक में अकादमी खोलने का उद्देश्य यही है कि ऐसे प्रतिभाशाली खिलाड़ियों को बाहर लाया जाए जो देश के पूर्व खिलाड़ियों की तरह ही देश की राष्ट्रीय क्रिकेट टीम में अपना योगदान दे सकें। बेहतरीन क्रिकेट खेलने का प्रशिक्षण देने की क्षमता वाले सर्वश्रेष्ठ कोच राज्य के खिलाड़ियों की प्रतिभा को निखारेंगे। अकादमी में कोच सर्वश्रेष्ठ संसाधनों की मदद से खिलाड़ियों को क्षमतावान बनाएंगे और उनके प्रदर्शन पर करीबी निगाह बनाए रखेंगे।

गुजरात के वड़ोदरा के रहने वाले और मध्यम गति के तेज गेंदबाज 33 वर्षीय इरफान पठान ने कहा कि क्रिकेट के प्रति उनका प्यार बिना किसी शर्त के है। वह अभी भी नियमित रूप से ट्रेनिंग सत्र में हिस्सा लेते हैं ताकि खुद को शारीरिक रूप से फिट रख सकें। उन्होंने आगे कहा,”मैं भारतीय टीम में वापसी के लिए अपनी सर्वश्रेष्ठ कोशिशें कर रहा हूं। शहर के युवाओं के लिए मेरा संदेश यही है कि वह खेल को भी वही महत्व दें, जैसा वह अपनी बाकी गतिविधियों को देते हैं। क्योंकि खेल युवाओं के संपूर्ण शारीरिक विकास के लिए बहुत जरूरी है।”

पठान ने कहा कि क्रिकेट में बेहद कठिन प्रतिस्पर्धा चल रही है। खिलाड़ी, जो भारतीय क्रिकेट ​टीम में खेलने का सपना देखता है, उसे कम से कम छह घंटे रोज अभ्यास करना ही चाहिए। उन्होंने कहा,”ये क्रिकेट अकादमी बच्चों को क्रिकेट खेलना सिखाएगी, साथ ही उन लोगों की भी मदद करेगी जो कोच बनने के लिए खेल की बारीकियों को सीखना चाहते हैं।”

पठान ने मीडियाकर्मियों से बातचीत करते हुए कहा,”अकादमी नवोदित क्रिकेट खिलाड़ियों के पोषण, मानसिक स्वास्थ्य और संपूर्ण शारीरिक विकास पर ध्यान देगी। अकादमी का गठजोड़ यूके की क्रिकेट तकनीकी सहयोगी पिच विजन के साथ है। ये कंपनी खिलाड़ियों के प्रदर्शन को रियल टाइम में आंकते हुए उनकी कमियों को दूर करने में मदद करेगी। इस टेक्नोलॉजी से कोच और विद्यार्थियों के बीच की दूरी कम करने में मदद मिलेगी।”

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 नाइट आउट पर गया क्रिकेटर अगली सुबह नहीं लौटा, लगा एक साल का बैन