ताज़ा खबर
 

IPL 2018: दिग्‍गज खिलाड़ी से डांट खाकर हार्दिक पंड्या को आई अकल

IPL 2018: हार्दिक की इस धुंआधार पारी को मुंबई के कोच महेला जयवर्धने की फटकार के असर के तौर पर देखा जा रहा है। दरअसल, महेला ने मुंबई के खराब प्रदर्शन पर कहा था कि पंड्या और अन्य युवा खिलाड़ियों को लगातार शानदार प्रदर्शन करने वाला क्रिकेटर बनने के लिए कड़ी मेहनत करके अपने खेल में निखार लाने की जरूरत है।

IPL 2018: मुंबई इंडियन्स के क्रिकेटर हार्दिक पंड्या (पीटीआई फोटो)

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के सीजन 11 का 37वां मैच मुंबई इंडियन्स और कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) के बीच रविवार को खेला गया। इस मैच में ऑल राउंडर हार्दिक पंड्या के शानदार प्रदर्शन के दम पर मुंबई 13 रनों से जीत हासिल करने में कामयाब रही। पंड्या ने इस मैच में आक्रामक पारी खेलते हुए 20 गेंदों पर नाबाद 35 रन बना डाले। साथ ही 4 ओवरों की गेंदबाजी भी की, जिसमें उन्होंने 19 रन देते हुए 2 विकेट भी चटकाए।

हार्दिक की इस धुंआधार पारी को मुंबई के कोच महेला जयवर्धने की फटकार के असर के तौर पर देखा जा रहा है। दरअसल, महेला ने मुंबई के खराब प्रदर्शन पर कहा था कि पंड्या और अन्य युवा खिलाड़ियों को लगातार शानदार प्रदर्शन करने वाला क्रिकेटर बनने के लिए कड़ी मेहनत करके अपने खेल में निखार लाने की जरूरत है। जयवर्धने ने मुंबई की पांचवीं हार के बाद कहा था कि लोगों को खेल में निखार और सुधार लाने की जरूरत है। उन्होंने कहा था, ‘हर साल एक तरह से बल्लेबाजी नहीं की जा सकती। आपको खेल में निखार लाना होगा, बिना इसके कोई प्रगति नहीं होगी। खिलाड़ियों को कड़ी मेहनत करनी होगी, केवल प्रतिभा से कुछ नहीं होगा।’

हालांकि हार्दिक ने मैच के बाद कहा कि उन्होंने कुछ भी नया नहीं किया। उन्होंने कहा, ‘मैं कुछ अलग नहीं कर रहा हूं। यह ऐसा ही है कि किसी दिन आप अच्छा खेलते हैं। मैंने बल्लेबाजी का अभ्यास करना छोड़ दिया है। मैं अलग तरह से सोचता हूं। मैं असल में सकारात्मक हूं और सच कहूं तो यह एक हिट शॉट के बारे में है। आपके एक छक्के से मैच का रुख बदल जाता है।’

बता दें कि हार्दिक पांड्या (नाबाद 35 रन, दो विकेट) के हरफनमौला प्रदर्शन की बदौलत मुंबई इंडियंस ने यहां अपने घर वानखेड़े स्टेडियम में इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 11वें संस्करण के 37 वें मैच में रविवार को कोलकाता नाइट राइडर्स को 13 रन से हरा दिया। मुंबई ने पहले बल्लेबाजी करते हुए चार विकेट पर 181 रन का मजबूत स्कोर बनाया और फिर कोलकाता को निर्धारित 20 ओवर में छह विकेट पर 168 रन पर रोक दिया। कोलकाता के लिए रोबिन उथप्पा ने सर्वाधिक 54 रन बनाए। मुंबई की 10 मैचों में यह चौथी जीत है जबकि कोलकाता को 10 मैचों में पांचवीं हार का सामना करना पड़ा है। इस जीत की बदौलत मुंबई ने प्लेआफ में पहुंचने की अपनी उम्मीदों को बरकरार रखा है। मुंबई के लिए हार्दिक ने दो और मिशेल मैक्लेनेघन, जसप्रीत बुमराह, मयंक मरक डेय और क्रूणाल पांडया ने एक-एक विकेट हासिल किया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App