ताज़ा खबर
 

इस क्रिकेटर को जानते तक नहीं थे शाहरुख खान, गंभीर के कहने पर दी थी KKR में जगह!

IPL 2018: में गंभीर ने जबरदस्त शुरूआत की। उन्होंने अपने पहले ही मैच में किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ मैच खेला। गंभीर ने दिल्ली डेयरडेविल्स के लिए इस मैच में शानदार पचासा ठोंका था। लेकिन उसके बाद से वह बड़े स्कोर खड़े कर पाने में नाकामयाब रहे हैं।

इंडियन एक्‍सप्रेस के साथ अपने इंटरव्यू के दौरान गौतम गंभीर। Express Photo by Renuka Puri

भारतीय क्रिकेट के दिग्गज खिलाड़ी गौतम गंभीर को क्रिकेट की गहरी समझ है और इस बात से कोई भी इंकार नहीं कर सकता है। वह भारतीय क्रिकेट के महानतम खिलाड़ियों में से एक हैं। क्रिकेट के फटाफट फॉर्मेट आईपीएल में भी उनके योगदान से कोई इंकार नहीं कर सकता है। लेकिन आईपीएल 2018 में इस बाएं हाथ के बल्लेबाज के लिए बेहद चिंतित करने वाला समय था। आईपीएल की नीलामी के दौरान उनके साथ दिल्ली डेयरडेविल्स ने करार किया था। नए करार और नई जगह के साथ गंभीर को उस कोलकाता नाइट राइडर्स से टक्कर लेनी थी, जिसके साथ उन्होंने लंबा वक्त गुजारा था।

आईपीएल 2018 में, गंभीर ने जबरदस्त शुरूआत की। उन्होंने अपने पहले ही मैच में किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ मैच खेला। गंभीर ने दिल्ली डेयरडेविल्स के लिए इस मैच में शानदार पचासा ठोंक दिया। लेकिन उसके बाद से वह बड़े स्कोर खड़े कर पाने में नाकामयाब रहे हैं। इसी के कारण उन्हें कप्तान की भूमिका भी छोड़नी पड़ी। दिल्ली डेयरडेविल्स की कप्तानी के दौरान उनकी भूमिका महत्वपूर्ण साबित नहीं हो सकी। लेकिन कोलकाता नाइट राइडर्स का कप्तान रहते हुए उनका प्रदर्शन वाकई बेहद शानदार रहा था।

ये गौतम गंभीर की कप्तानी का ही दम था, जिसके बूते कोलकाता नाइट राइडर्स ने दो बार आईपीएल का खिताब जीता था। अपने कार्यकाल के दौरान गंभीर ने कई साहसी कदम उठाए थे। जिसका फायदा लंबे वक्त में कोलकता नाइट राइडर्स को हुआ। इन्हीं में से एक फैसला आईपीएल की नीलामी के दौरान सुनील नारायण को खरीदने का था। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, करीब 5 साल पहले आईपीएल की नीलामी के दौरान गौतम गंभीर ने ही शाहरुख खान और वैंकी मैसूर को जोर देकर कहा था कि उन्हें सुनील नारायण को टीम के लिए खरीदना चाहिए।

कोलकाता नाइट राइडर्स के लिए इंदौर के होलकर स्टेडियम में शनिवार (12 मई) को हुए मैच में किंग्स इलेवन के खिलाफ शॉट खेलते सुनील नारायण। फाइल फोटो- पीटीआई

गौतम गंभीर ने शाहरूख से कहा था कि सुनील नारायण को खरीदने के लिए चाहें जितने पैसे खर्च करने पड़ें, लेकिन ये खिलाड़ी हाथ से नहीं जाना चाहिए। न तो शाहरुख खान और न ही वैंकी मैसूर ने इससे पहले सुनील नारायण के बारे में पहले कभी सुना था। लेकिन शाहरुख और वैंकी ने गंभीर की पसंद पर भरोसा किया और सुनील नारायण को 4.71 करोड़ रुपये में खरीद लिया। जबकि उनका बेस प्राइस सिर्फ 33 लाख रुपये ही था।

शाहरुख ने पूछा,’क्या हम किसी और को खरीद सकते हैं? तुम कह रहे हो कि हमें सुनील नारायण को खरीदना चाहिए?’

गंभीर ने पूछा,’आखिर किस बजट के साथ आप उसे खरीदना चाहते हैं? आपकी लिमिट कितनी है?

शाहरुख ने कहा,’ बीस लाख। लेकिन ये लड़का है कौन? क्या तुम पक्का उसे लेना चाहते हो?

गंभीर ने कहा,’ हां, और अगर लिमिट 20 लाख की है तो हमें 20 लाख खर्च करके भी उस लड़के को खरीदना चाहिए। हमें किसी और खिलाड़ी की जरूरत नहीं पड़ेगी।’

बाद में गौतम गंभीर ने सुनील नारायण के चुनाव पर मीडिया के साथ अपनी बातचीत में कहा था,’न तो मैंने और न ही शाहरुख और सीईओ ने कुछ भी उसके बारे में पूछताछ की। हमें सिर्फ इतना पता था कि उसने वेस्टइंडीज के लिए इससे पहले सिर्फ एक मैच खेला है। लेकिन जब हमने उसे चुन लिया तो वह खुद हैरान रह गया था।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App