ताज़ा खबर
 

IPL 2018: गौतम गंभीर का एलान- आखिरी सीजन खेल रहा हूं, दिल्‍ली को जिता कर कहना चाहूंगा अलविदा

IPL 2018: गंभीर अपनी कप्तानी में कोलकाता को दो बार चैम्पियन बना चुके हैं, लेकिन अब उन्होंने एक बार फिर से दिल्ली की कप्तानी संभाली है और उनकी कोशिश होगी कि वह दिल्ली को पहला आईपीएल खिताब दिलाएं।

गौतम गंभीर : दिल्ली डेयरडेविल्स के कप्तान गौतम गंभीर अब तक आईपीएल में 148 मैच खेल चुके हैं। इस दौरान उन्होंने 124.51 के स्ट्राइक रेट के साथ 4210 रन बनाए, लेकिन वो एक बार भी शतक बनाने में कामयाब नहीं रहे। गंभीर साल 2012 और 2014 में अपनी कप्तानी में केकेआर को चैंपियन बना चुके हैं। साल 2012 में आरसीबी के खिलाफ खेलते हुए गंभीर ने अपना सर्वोच्च स्कोर 93 बनाया था। (Photo Courtesy: IPL)

इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) सीजन-11 में दिल्ली डेयरडेविल्स के कप्तान गौतम गंभीर ने गुरुवार (5 अप्रैल) को स्पष्ट किया कि ये उनके लिए आखिरी सीजन होगा। गंभीर ने कहा कि उनकी पूरी कोशिश होगी कि वह अपनी घरेलू टीम को चैम्पियन बनाने के बाद ही इसे अलविदा कहें। गंभीर आईपीएल के शुरुआती तीन सत्र में दिल्ली के कप्तान थे। इसके बाद उन्होंने कोलकाता नाइट राइडर्स का दामन थाम लिया था। गंभीर अपनी कप्तानी में कोलकाता को दो बार चैम्पियन बना चुके हैं, लेकिन अब उन्होंने एक बार फिर से दिल्ली की कप्तानी संभाली है और उनकी कोशिश होगी कि वह दिल्ली को पहला आईपीएल खिताब दिलाएं।

गंभीर ने कहा,”मेरी पूरी कोशिश होगी कि जहां से मैंने आईपीएल शुरू किया था, वहीं से इसे खत्म करूं, लेकिन खिताबी जीत के साथ। दिल्ली की टीम में इस बार काफी अच्छे खिलाड़ियों को शामिल किया गया है। टीम के पास इस बार ऑस्ट्रेलिया को दो बार विश्व कप दिलाने वाले पूर्व कप्तान रिकी पोंटिंग के रूप में बेहद अनुभवी और आक्रामक कोच भी हैं। निश्चित रूप से इससे टीम को काफी फायदा होगा। टीम के सभी खिलाड़ी इस बार कुछ नया करने के लिए पूरी तरह से तैयार है।”

यह पूछे जाने पर कि कोलकाता को दो बार चैम्पियन बनाने के बाद क्या दिल्ली भी उनकी कप्तानी में चैम्पियन बनेगी, गंभीर ने कहा ,”कोई भी टीम खिताब तभी जीतती है, जब टीम के सभी सदस्य अपना सामूहिक योगदान देते हैं। टीम को चैम्पियन बनाने में कप्तान का कम, खिलाड़ियों का ज्यादा योगदान होता है। दिल्ली में भी कोलकाता की तरह ही काफी अच्छे खिलाड़ी हैं, बस उन्हें सही समय पर सही प्रदर्शन करने की जरूरत है।”

दिल्ली डेयरडेविल्स ने इस बार पृथ्वी शॉ (1.20 करोड़), अभिषेक शर्मा (55 लाख), मनोज कालरा (20 लाख), कॉलिन मुनरो (1.90 करोड़), ट्रेंट बोल्ट (2.20 करोड़), गौतम गंभीर (2.80 करोड़), जेसन रॉय (1.50 करोड़), अमित मिश्रा (4 करोड़), शाहबाज नदीम (3.20 करोड़), नमन ओझा (1.40 करोड़), ग्लेन मैक्सवेल (9 करोड़), हर्शल पटेल (20 लाख), राहुल तेवतिया (3 करोड़), जयंत यादव (50 लाख), विजय शंकर (3.20 करोड़), मोहम्मद शमी (3 करोड़), डेनियल क्रिश्चियन (1.50 करोड़), गुरकीरत सिंह (75 लाख), कगिसो रबाडा (4.20 करोड़), आवेश खान (70 लाख), सयन घोष (20 लाख), संदीप लामिचाने (20 लाख), क्रिस मॉरिस (11 करोड़), श्रेयस अय्यर (7 करोड़) और ऋषभ पंत (15 करोड़) को अपने साथ जोड़ा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App