ताज़ा खबर
 

IPL 2018: गौतम गंभीर ने दिल्‍ली डेयर‍डेविल्‍स की कप्‍तानी छोड़ी, श्रेयस अय्यर को कमान

IPL 2018: Delhi Daredevils Captain: दिल्‍ली की टीम ने आईपीएल 2018 के 6 मैचों में सिर्फ एक मैच जीता है। पिछले 4 मैचों में उसे हार का सामना करना पड़ा है और वह प्‍वॉइंट्स टेबल में सबसे निचले पायदान पर है।

IPL 2018: गंभीर ने टीम की खराब परफॉर्मेंस की जिम्‍मेदारी लेते हुए कप्‍तानी छोड़ने का फैसला किया है।

गौतम गंभीर ने इंडियन प्रीमियर लीग में दिल्‍ली डेयरडेविल्‍स की कप्‍तानी छोड़ दी है। इसके पीछे की वजह टूर्नामेंट में टीम का खराब प्रदर्शन है। गौतम दो बार कोलकाता नाइट राइडर्स को आईपीएल का खिताब दिला कर लौटे थे, लेकिन वह कोलकाता की सफलता को दिल्ली में जारी नहीं रख सके। दिल्ली की एक के बाद एक हार का झटका उनके लिए काफी भारी पड़ा और उन्होंने कप्तानी छोड़ने का फैसला किया। दिल्ली ने गंभीर की कप्तानी में छह मैच खेले जिसमें से पांच में उसे हार मिली।

प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में गंभीर ने कहा, “मैं कप्तानी का दबाव नहीं झेल पा रहा था, इसलिए कप्तानी छोड़ने का फैसला किया। यह मेरा अपना फैसला है। फ्रेंचाइजी का कोई दबाव मुझ पर नहीं है। मैंने अपने इस फैसले के बार में अपनी पत्नी से भी बात की थी। मुझे बतौर कप्‍तान जिम्‍मेदारी लेनी ही होगी। मुझे लगा यही सही समय था।” मध्‍य-क्रम के बल्‍लेबाज श्रेयस अय्यर दिल्‍ली डेयरडेविल्‍स के नए कप्‍तान होंगे।

गंभीर ने कहा, ”जिस जगह हम (DD) हैं, मैं उसकी पूरी जिम्‍मेदारी लेता हूं। और इस जगह से देखते हुए मैंने कप्‍तानी छोड़ने का फैसला किया है, अय्यर (श्रेयस) जिम्‍मेदारी लेंगे। मुझे अभी भी लगता है कि हमारी टीम इस आईपीएल में चीजें बदलने में सक्षम है।” श्रेयस ने नई भूमिका मिलने पर कहा, ”मैं मैनेजमेंट और कोचेज को मुझे टीम का कप्‍तान बनाने पर शुक्रिया अदा करता हूं। यह मेरे लिए बड़े सम्‍मान की बात है।”

गंभीर को दिल्‍ली ने जनवरी में हुई नीलामी में खरीदा था। जल्‍द ही उन्‍हें कप्‍तान बना दिया गया क्‍योंकि दिल्‍ली को उनसे पहली बार टूर्नामेंट जीतने की उम्‍मीदें थीं। मगर दिल्‍ली की टीम ने आईपीएल 2018 के 6 मैचों में सिर्फ एक मैच जीता है। पिछले 4 मैचों में उसे हार का सामना करना पड़ा है और वह प्‍वॉइंट्स टेबल में सबसे निचले पायदान पर है। खुद गंभीर की फॉर्म भी इस टूर्नामेंट में चिंता की वजह रही है। पहले मैच में पचासा लगाने के बाद वह सिर्फ एक बार ही दहाई का आंकड़ा पार कर सके हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App। जनसत्‍ता टेलीग्राम पर भी है, जुड़ने के ल‍िए क्‍ल‍िक करें।

Next Stories
1 IPL 2018, MI vs SRH: जानिए, क्‍यों राशिद खान की फेंकी गेंद देख मुस्कुराने लगे हार्दिक पंड्या
2 SRH vs MI: आईपीएल में महज तीन बार आया ऐसा मौका, जब दोनों टीमें हो गईं ऑल आउट
3 IPL 2018: अपने खराब प्रदर्शन के चलते ये अनचाहे रिकॉर्ड अपने नाम कर गई MI
ये पढ़ा क्या?
X