ताज़ा खबर
 

DD vs CSK : दिल्ली के खिलाफ इतने रन बनाते ही धोनी के नाम दर्ज हो जाएगा एक और बड़ा रिकॉर्ड

IPL 2018: धोनी ने आईपीएल में कुल 171 मैच खेले हैं, जिस दौरान वह 3974 रन बनाने में कामयाब रहे हैं। धोनी से पहले भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली, रोहित शर्मा और सुरेश रैना जैसे बल्लेबाज इस रिकॉर्ड को अपने नाम कर चुके हैं। धोनी बल्लेबाजी करने के लिए काफी नीचे आते हैं और इस वजह से ज्यादतर मैचों में उन्हें बल्लेबाजी करने का मौका तक नहीं मिलता।

दिल्ली की टीम और महेंद्र सिंह धोनी।

चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी इस सीजन आईपीएल में एक अलग ही अंदाज में नजर आ रहे हैं। धोनी टीम के लिए लगातार तेज गति से रन बनाने का काम कर रहे हैं। धोनी के पास दिल्ली के खिलाफ आईपीएल में अपना 4000 रन पूरा करने का मौका होगा। धोनी ने आईपीएल में कुल 171 मैच खेले हैं, जिस दौरान वह 3974 रन बनाने में कामयाब रहे हैं। धोनी से पहले भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली, रोहित शर्मा और सुरेश रैना जैसे बल्लेबाज इस रिकॉर्ड को अपने नाम कर चुके हैं। धोनी बल्लेबाजी करने के लिए काफी नीचे आते हैं और इस वजह से ज्यादतर मैचों में उन्हें बल्लेबाजी करने का मौका तक नहीं मिलता। हालांकि, धोनी ने इस साल खुद को बल्लेबाजी क्रम में प्रमोट करने का काम किया है और वह ज्यादातर मैचों में चौथे नंबर पर बल्लेबाजी करते नजर आए। धोनी ने इस सीजन अभी तक खेले गए मुकाबलों में 413 रन बनाए हैं। रुछ समय पहले तक धोनी का नाम ऑरेंज कैप के लिस्ट में भी शामिल था।

HOT DEALS
  • Samsung Galaxy J6 2018 32GB Gold
    ₹ 12990 MRP ₹ 14990 -13%
    ₹0 Cashback
  • Apple iPhone SE 32 GB Gold
    ₹ 19959 MRP ₹ 26000 -23%
    ₹0 Cashback
IPL 2018: चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (एपी फोटो)

धोनी को अपने 4000 रन पूरा करने के लिए 26 रनों की जरूरत है और उनका मौजूदा फॉर्म को देखते हुए कहा जा सकता है कि दिल्ली के खिलाफ वह रिकॉर्ड आसानी से अपने नाम कर सकते हैं। इसके अलावा धोनी ने अभी तक आईपीएल में 185 छक्के लगाए हैं और उनसे ऊपर इस समय क्रिस गेल और एबी डीविलियर्स जैसे दिग्गज बल्लेबाज मौजूद है। दिल्ली के खिलाफ अगर दोनी 2 छक्के लगाने में कामयाब रहते हैं तो वह एबी डिविलियर्स को पछाड़ नंबर दो पर आ जाएंगे।

चेन्नई की बल्लेबाजी में अंबाती रायुडू और शेन वॉटसन की सलामी जोड़ी ने टीम को अच्छी शुरुआत दी है। धोनी रायुडू के स्थान पर फाफ डु प्लेसिस को वॉटसन के साथ सलामी बल्लेबाजी के लिए भेज सकते हैं और रायुडू को मध्यक्रम में भी उतार सकते हैं। टीम के मध्यक्रम को सुरेश रैना और धोनी ने अच्छे से संभाल रखा है। निचले क्रम में ड्वायन ब्रावो और रवींद्र जडेजा भी बल्ले से योगदान देने में सफल रहे हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App