IPL में दो टीमों ने राशिद खान को किया था रिजेक्‍ट, जानिए फिर कैसे चुना गया ये स्पिनर - IPL teams rejected most valuable spinner Rashid Khan before SRH picked him in IPL 2017 - Jansatta
ताज़ा खबर
 

IPL में दो टीमों ने राशिद खान को किया था रिजेक्‍ट, जानिए फिर कैसे चुना गया ये स्पिनर

राशिद खान की धारदार की गेंदबाजी का अंदाजा महज इसी बात से लगाया जा सकता है कि वर्तमान में वह टी-20 प्रारूप में विश्व के नंबर वन गेंदबाज हैं जबकि एक दिवसीय प्रारूप में दूसरे नंबर के गेंदबाज हैं।

वर्तमान में विश्व के सबसे घातक स्पिन गेंदबाजों में शुमार अफगानिस्तान के क्रिकेट खिलाड़ी राशिद खान की काबिलियत किसी से छिपी नहीं है। हाल के दिनों में संपन्न हुए आईपीएल टूर्नामेंट में अपना जलवा वह बखूबी दिखा चुके हैं। राशिद खान की धारदार की गेंदबाजी का अंदाजा महज इसी बात से लगाया जा सकता है कि वर्तमान में वह टी-20 प्रारूप में विश्व के नंबर वन गेंदबाज हैं जबकि एक दिवसीय प्रारूप में दूसरे नंबर के गेंदबाज हैं। 19 वर्षीय राशिद खान गुरुवार (14 जून, 2018) को भारत के खिलाफ अपना पहला अंतर्राष्ट्रीय मैच खेलेंगे।

हालांकि दो साल पहले राशिद खान को क्रिकेट की दुनिया में मुश्किल से जाना जाता था। करियर की शुरुआत में उन्हें काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ा। अफगानिस्तान के पूर्व हेड कोच लालचंद राजपूत बताते हैं कि आईपीएल की चोटी की टीम ने उन्हें रिजेक्ट कर दिया था। राशिद ने साल 2017 में एक बार आईपीएल में वापसी की। लालचंद बताते हैं, ‘जब मैंने अफगानिस्तान को कोचिंग देना शुरू किया। मेरी प्रभावशाली अंडर-19 खिलाड़ी राशिद खान से मुलाकात हुई। वह स्वाभाविक रूप से प्रतिभाशाली था। उसकी बांह की स्पीड काफी तेज थी और उसका गेंदबाजी का तरीका दूसरों से काफी अलग था।’

लालचंद राजपूत ने ही राशिद खान का तार्रुफ़ मेगा टी-20 टूर्नामेंट से करवाया। आईपीएल में पहली बार राशिद खान को किंग्स इलेवन पंजाब ने रिजेक्ट किया। इसका एक कारण यह भी था कि टीम में अक्षर पटेल पहले से मौजूद थे और उस वक्त सहवाग टीम के लिए कोई अच्छा ऑलराउंडर खोज रहे थे। लालचंद के मुताबिक, ‘करीब छह या सात महीने बाद मैंने सोचा कि वह आईपीएल खेलने के लिए काफी प्रतिभाशाली है। मैंने कुछ लोगों को फोन किया। मैंने सहवाग को फोन किया। तब उन्होंने बताया कि टीम में पहले ही प्रतिभावान लेग स्पिनर है। उन्होंने कहा कि टीम को स्पिन गेंदबाजों की जरुरत नहीं है उन्हें ऑलराउंडरों की जरुरत थी।’

सहवाग के ना कहने के बाद लालचंद राजपूत ने कोलकाता नाइट राइडर्स कैंप में राशिद खान की सिफारिश की। वह भी उसके चयन के लिए इच्छुक नहीं थे। क्योंकि उनके पास पहले सुनील नरेन थे। लालचंद कहते हैं कि उन्होंने तब कप्तान गौतम गंभीर को फोन किया, लेकिन उन्होंने भी यह कहते हुए इनकार कर दिया कि टीम में सुनील नरेन और कुलदीप यादव मौजूद हैं।

दो टीमों द्वारा नकारने के बाद पूर्व कोच सनराइजर्स हैदराबाद के पास पहुंचे। उन्होंने वीवीएस लक्ष्मण से राशिद खान के लिए सिफारिश की। लक्ष्मण ने अपने अनुभव से तुंरत राशिद खान की काबिलिय तो पहचान लिया और साल 2017 की नीलामी में उन्हें अपने पाले में कर लिया। इसके बाद राशिद खान की गेंदबाजी को दुनिया ने देखा। वह महज 31 मैचों में अबतक 38 विकेट अपने नाम कर चुके हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App