ताज़ा खबर
 

IPL 9: किंग्स इलेवन के खिलाफ सही तालमेल चाहेंगे धोनी

आइपीएल में पदार्पण कर रहे सुपरजाइंट्स ने एक मैच जीता है जबकि उसे एक मैच में हार का सामना करना पड़ा है। जबकि पंजाब ने अपने दोनों मैच गंवा दिए हैं।

Author मोहाली | April 17, 2016 2:02 AM
किंग्स इलेवन पंजाब बनाम राइजिंग पुणे सुपरजाइंट्स

राइजिंग पुणे सुपरजाइंट्स इंडियन प्रीमियर लीग में रविवार को यहां किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ उतरेगा तो महेंद्र सिंह धोनी की नजरें अपनी टीम का संयोजन सही रखने पर टिकी होंगी। आइपीएल में पदार्पण कर रहे सुपरजाइंट्स ने एक मैच जीता है जबकि उसे एक मैच में हार का सामना करना पड़ा है। दूसरी तरफ पंजाब की टीम ने अपने दोनों मैच आसानी से गंवा दिए और टीम अंक तालिका में सबसे नीचे चल रही है।

लीग अभी शुरुआती चरण में है और सभी टीमों के पास अगले कुछ हफ्तों में शीर्ष में जगह बनाने का मौका है। धोनी को अपनी टीम के संयोजन पर ध्यान देना होगा। टी20 विश्व कप के दौरान वे कुछ चुनिंदा खिलाड़ियों के साथ खेले और विशेषज्ञों द्वारा कुछ आलोचना के बावजूद पूरे टूर्नामेंट में उन्हीं खिलाड़ियों को उतारा। पुणे की टीम के साथ भी धोनी को सही संयोजन ढूंढना होगा। आरपी सिंह धोनी के भरोसेमंद रहे हैं लेकिन इस तेज गेंदबाज की गेंदबाजी में अब वह धार नहीं रही जो कुछ साल पहले होती थी। इसी तरह छोटे प्रारूप में ईशांत शर्मा के प्रदर्शन में निरंतरता की कमी है। धोनी के पास हालांकि इरफान पठान और ईश्वर पांडे के रूप में विकल्प मौजूद हैं। पठान के प्रदर्शन में भी गिरावट आई है लेकिन उनकी बल्लेबाजी को देखते हुए धोनी उन्हें अंतिम एकादश में मौका दे सकते हैं।

रविचंद्रन अश्विन भी पिछले कुछ महीनों में उम्मीद के मुताबिक प्रदर्शन नहीं कर पाए जिससे धोनी की मुसीबत बढ़ी है। तमिलनाडु के उनके साथी स्पिनर मुरुगन अश्विन ने हालांकि प्रभावित किया है। दिग्गज रणजी खिलाड़ी रजत भाटिया ने भी पुणे के कप्तान धोनी को काफी प्रभावित किया और अपनी गेंदबाजी से बल्लेबाजों को परेशान किया है। गुजरात लायंस के खिलाफ फाफ डुप्लेसिस के अलावा टीम का कोई बल्लेबाज नहीं चला। केविन पीटरसन बड़ी पारी नहीं खेल पाए हैं जबकि मिशेल मार्श को आलराउंडर के रूप में खुद को साबित करना होगा। पंजाब की शुरुआत एक बार फिर खराब रही। उसके विदेशी खिलाड़ी नाकाम रहे हैं।

कप्तान डेविड मिलर और आक्रामक बल्लेबाज ग्लेन मैक्सवेल दोनों ही मैचों में नाकाम रहे हैं। टैस्ट विशेषज्ञ मुरली विजय चेन्नई सुपरकिंग्स छोड़ने के बाद से कभी टी20 में उस तरह का प्रभाव नहीं छोड़ पाए। युवा बल्लेबाज मनन वोहरा हमेशा आकर्षक शाट खेलते हैं लेकिन स्तरीय गेंदबाजी के सामने उन्हें परेशानी होती है। गेंदबाजी में टीम मिशेल जानसन पर काफी निर्भर है लेकिन अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास के बाद टी20 में तुरंत लय पाना आसान नहीं है। जानसन के साथी तेज गेंदबाज संदीप शर्मा के पास इतनी गति और उछाल नहीं है कि वे लगातार बल्लेबाजों को परेशान कर सकें।

टीमें इस प्रकार हैं :
किंग्स इलेवन पंजाब : डेविड मिलर (कप्तान), काइल एबोट, मुरली विजय, मनन वोहरा, मिशेल जानसन, शान मार्श, ग्लेन मैक्सवेल, अनुरीत सिंह, अक्षर पटेल, रिद्धिमान साहा, प्रदीप साहू, संदीप शर्मा, मोहित शर्मा, मार्कस स्टोइनिस, स्वप्निल सिंह, अरमान जाफर, फरहान बेहरदीन, केसी करियप्पा, ऋषि धवन, गुरकीरत सिंह मान, निखिल नाईक और शारदुल ठाकुर।

राइजिंग पुणे सुपरजाइंट्स : महेंद्र सिंह धोनी (कप्तान), अजिंक्य रहाणे, केविन पीटरसन, फाफ डुप्लेसिस, स्टीव स्मिथ, मिशेल मार्श, जसकरण सिंह, आर अश्विन, अंकित शर्मा, एल्बी मोर्कल, इरफान पठान, ईशांत शर्मा, ईश्वर पांडे, तिषारा परेरा, सौरभ तिवारी, आरपी सिंह, रजत भाटिया, अंकुश बैंस, बाबा अपराजित, मुरुगन अश्विन, अशोक डिंडा, दीपक चाहर, स्काट बोलैंड, पीटर हैंड्सकांब और एडम जंपा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App