ताज़ा खबर
 

IPL 2019: यो-यो टेस्‍ट से गुजरेंगे रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के घरेलू खिलाड़ी

रायल चैलेंजर्स बेंगलूर का पांच दिवसीय अनुकूलन शिविर शुरू हो गया है जिसमें मुख्य रूप से उसके घरेलू खिलाड़ी शामिल हैं।

Author February 5, 2019 10:51 AM
प्रतीकात्मक तस्वीर

रायल चैलेंजर्स बेंगलूर का पांच दिवसीय अनुकूलन शिविर शुरू हो गया है जिसमें मुख्य रूप से उसके घरेलू खिलाड़ी शामिल हैं।  शिविर में आठ खिलाड़ी पहुंच गये हैं जिनमें बंगाल के 16 साल के प्रयास राय बर्मन, रणजी ट्राफी में सर्वाधिक रन बनाने वाले मिलिंद कुमार, उत्तर प्रदेश के कप्तान अक्षदीप नाथ, मुंबई के आलराउंडर शिवम दुबे, दिल्ली के बल्लेबाज हिम्मत सिंह और तेज गेंदबाज कुलवंत खेजरोलिया, तमिलनाडु के वाशिंगटन सुंदर और कर्नाटक के देवदत्त पड्डिकल शामिल हैं।  टीम के दो कोच गैरी कर्स्टन और आशीष नेहरा खिलाड़ियों की प्रगति पर निगरानी रखेंगे। इन खिलाड़ियों की फिटनेस का पता करने के लिये यो यो टेस्ट किया जाएगा।

बता दें कि पिछले साल सुनने में आया था कि खिलाड़ियों की बढ़ती उम्र और खराब फिटनेस अब उनके लिए मुश्किलें खड़ी कर सकती है। विराट ने टीम मैनेजमेंट को यो-यो टेस्ट के बाद अब नेक्सा टेस्ट कराने की सलाह दी है। ये टेस्ट उन खिलाड़ियों के लिए मुश्किलें खड़ी कर सकता है, जो खराब फिटनेस से जूझ रहे हैं। नेक्सा टेस्ट 10 मिनट का होता है, जिसके जरिए बॉडी में फैट की जानकारी मिलती है। इसके अलावा मसल और फैट टिशू और खिलाड़ियों का दर्द झेलने की क्षमता का पता चलता है। नेक्सा टेस्ट अमूमन विदेशी फुटबॉल टीमों में किया जाता है।

इस नए टेस्ट का खुलासा टीम इंडिया के पूर्व ट्रेनर रामजी श्रीनिवासन ने खुद किया था। बता दें कि जिसका बोन मास कम हुआ या फैट ज्यादा हुआ, उसे टीम में जगह नहीं मिलेगी। 10 जून को महेंद्र सिंह धोनी, सुरेश रैना, हार्दिक पांड्या, रोहित शर्मा समेत सभी दिग्गज खिलाड़ी इस फिजिकल टेस्ट की प्रक्रिया से गुजरेंगे।

वहीं खिलाड़ियों की फिटनेस परखने के लिए यो-यो टेस्ट ‘बीप’ टेस्ट का एडवांस वर्जन है। इसमें 20-20 मीटर की दूरी पर दो लाइनें बनाकर कोन रख दिए जाते हैं। एक छोर की लाइन पर खिलाड़ी का पैर पीछे की ओर होता है और वह दूसरी की तरफ वह दौड़ना शुरू करता है। हर मिनट के बाद गति और बढ़ानी होती है और अगर खिलाड़ी वक्त पर लाइन तक नहीं पहुंच पाता तो उसे दो बीप्स के भीतर लाइन तक पहुंचना होता है। अगर वह ऐसा करने में नाकाम होता है तो उसने फेल माना जाता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App