ताज़ा खबर
 

सनराइजर्स हैदराबाद के नए कप्तान ने की डेविड वॉर्नर की तारीफ, कहा- वो बुरे इंसान नहीं…

वार्नर के बाद सनराइजर्स ने विलियमसन को टीम का कप्तान नियुक्त किया है। उन्होंने कहा, "हालिया दौर में जो हुआ उसमें निश्चित ही खिलाड़ियों को लेकर काफी भावनाएं और ऊर्जा जुड़ी हुई हैं जो अपनी सीमा से काफी आगे चले गए थे।"

सनराइजर्स हैदराबाद के नए कप्तान केन विलियमसन। (Photo Source: Facebook)

न्यूजीलैंड टीम के कप्तान केन विलियमसन का कहना है कि बॉल टेम्परिंग विवाद में दोषी पाए गए आस्ट्रेलिया के बल्लेबाज डेविड वार्नर बुरे इंसान नहीं हैं। केपटाउन में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेले गए मैच में आस्ट्रेलिया के सलामी बल्लेबाज कैमरून बेनक्रॉफ्ट गेंद से छेड़खानी करते हुए कैमरे में कैद हो गए थे। इसके बाद स्टीव स्मिथ और बेनक्रॉफ्ट ने गेंद से छेड़खानी की बात को कबूल कर लिया था। इस विवाद में वार्नर का भी नाम आया था। क्रिकेट आस्ट्रेलिया (सीए) ने स्मिथ और वार्नर पर 12-12 महीनों का प्रतिबंध और बैनक्रॉफ्ट पर नौ महीनों का प्रतिबंध लगाया है।

इसी विवाद के कारण वार्नर व स्मिथ ने इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) की कप्तानी छोड़ दी थी। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने भी स्मिथ और वार्नर के आईपीएल में इस सीजन में खेलने पर प्रतिबंध लगा दिया था। वार्नर के बाद सनराइजर्स ने विलियमसन को टीम का कप्तान नियुक्त किया है। वेबसाइट ईएसपीएनक्रिकइंफो ने विलियमसन के हवाले से लिखा है, “आईपीएल में हमने काफी समय साथ बिताया है। हम एक दूसरे के खिलाफ भी खेले हैं। मैंने उन्हें इस दौरान कुछ संदेश भेजे हैं।”

उन्होंने कहा, “हालिया दौर में जो हुआ उसमें निश्चित ही खिलाड़ियों को लेकर काफी भावनाएं और ऊर्जा जुड़ी हुई हैं जो अपनी सीमा से काफी आगे चले गए थे।” उन्होंने कहा, “वार्नर बुरे इंसान नहीं हैं। उन्होंने गलती की है और इस बात को मान लिया है। वह इससे काफी निराश हैं। उन्हें कड़ा फैसला लेना होगा और आगे बढ़ना होगा। आप हमेशा इसी तरह की चीजों से सीखते हैं। मुझे उम्मीद है कि वह ऐसा करेंगे, लेकिन, यह शर्म की बात है कि विश्व के दो शानदार बल्लेबाजों ने यह गलती की है।” आपको बता दें कि पहले कयास लगाए जा रहे थे कि सनराइजर्स ने टीम की कप्तानी के लिए श्रीलंकाई खिलाड़ी कुशल परेरा से संपर्क किया है लेकिन इन बातों को दरकिनार करते हुए फ्रेंचाइजी ने आखिरकार अपना कप्तान चुन ही लिया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App