ताज़ा खबर
 

VIDEO: धोनी ने छक्के से दिलाई जीत तो गले लग गए ड्वेन ब्रावो, देखें पत्नी साक्षी का रिएक्शन

टीम के कप्तान धोनी ने ऐसे समय पर अहम पारी खेली जब इसकी सबसे ज्यादा जरूरत थी।

Author April 26, 2018 11:04 AM
खास बात यह है धोनी ने एक बार फिर विश्व कप के दौरान छक्का मारकर जीत दिलाने वाली याद एक बार फिर ताजा कर दी। उन्होंने इस मैच में छक्का मारकर टीम को जीत दिलाई। इस दौरान पत्नी साक्षी का रिएक्शन देखने लायक था। (IPL PHOTO)

अंबाती रायुडू (82) और मैन ऑफ द मैच कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (नाबाद 70) के बीच अहम समय पर पांचवें विकेट के लिए हुई शतकीय साझेदारी ने चेन्नई सुपरकिंग्स के विजय का क्रम जारी रखा है। दो बार की विजेता चेन्नई सुपरकिंग्स ने एम. चिन्नास्वामी स्टेडियम में बुधवार (25 अप्रैल, 2018) को खेले गए इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के बेहद रोचक मुकाबले में मेजबान रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु को पांच विकेट से हरा दिया। टीम के कप्तान धोनी ने ऐसे समय पर अहम पारी खेली, जब इसकी सबसे ज्यादा जरूरत थी। खास बात यह है धोनी ने विश्व कप के दौरान छक्का मारकर जीत दिलाने वाली याद एक बार फिर ताजा कर दी। उन्होंने इस मैच में छक्का मारकर टीम को जीत दिलाई। इस दौरान पत्नी साक्षी का रिएक्शन देखने लायक था।

बता दें कि बेंगलुरु ने पहले बल्लेबाजी करते हुए एबी डिविलियर्स (86) और क्विंटन डी कॉक (53) की अर्धशतकीय पारियों के दम पर चेन्नई के सामने 206 रनों की विशाल चुनौती रखी थी, जिसे चेन्नई ने दो गेंद शेष रहते पांच विकेट खोकर हासिल कर लिया। विशाल लक्ष्य का पीछा करने उतरी चेन्नई ने 74 रनों पर ही अपने चार विकेट खो दिए थे। पहले ओवर की आखिरी गेंद पर पवन नेगी ने शेन वॉटसन (7) को पवेलियन भेजा। सुरेश रैना (11) को 50 के कुल स्कोर पर उमेश यादव ने अपना शिकार बनाया। नौ रन के बाद सैम बिलिंग्स (9) पवेलियन लौट लिए। रविंद्र जडेजा सिर्फ तीन रन ही बना सके।

यहां से रायुडू और धोनी ने टीम की जिम्मेदारी ली और पांचवें विकेट के लिए 101 रनों की साझेदारी कर टीम को जीत के रास्ते पर बनाए रखा। रायुडू 175 के कुल स्कोर पर उमेश की सीधी थ्रो के कारण रन आउट हो गए। रायुडू ने 53 गेंदों की पारी में आठ छक्के और तीन चौके लगाए। लेकिन धोनी क्रीज पर मौजूद थे। आखिरी ओवर में चेन्नई को 16 रनों की दरकार थी। ड्वायन ब्रावो (नाबाद 14) ने आखिरी ओवर में एक चौका और एक छक्के के अलावा एक रन लेकर स्ट्राइक धोनी को दी, जिन्होंने चौथी गेंद पर अपने चिर-परिचित अंदाज में शानदार छक्का जड़ टीम को जीत दिलाई। धोनी ने अपनी पारी में 34 गेंदों का सामना किया और सात छक्कों के अलावा एक चौका लगाया।

इस जीत के साथ चेन्नई अंकतालिका में पहले स्थान पर आ गई है। इससे पहले, डिविलियर्स और डी कॉक जिस तरह से बल्लेबाजी कर रहे थे, लग रहा था कि स्कोर 220 के पार जाएगा। लेकिन इन दोनों के आउट होते ही टीम की रन गति थोड़ी धीमी पड़ गई और मेजबान 20 ओवरों में आठ विकेट पर 205 रन ही बना सके।

विराट कोहली (18) के रूप में बेंगलुरु ने अपना पहला विकेट खोया। इसके बाद डिविलियर्स अपने रंग में दिखे और चेन्नई के गेंदबाजों की गेंद सीमा रेखा के पार लगातार जाने लगी। इसमें क्विंटन डी कॉक ने भी उनका बखूबी साथ दिया। दोनों ने 53 गेंदों में 103 रनों की साझेदारी कर मेजबान टीम के बड़े स्कोर की नींव रख दी। डी कॉक ब्रावो की धीमी गेंद के जाल में फंस कर उन्हें ही कैच दे बैठे। 138 के कुल स्कोर पर मेजबान टीम ने डी कॉक के रूप में अपना दूसरा विकेट खोया। उन्होंने 37 गेंदों की पारी में एक चौका और चार छक्के लगाए।

चार रन के बाद ताहिर की गेंद को सीमा रेखा के पार भेजने के प्रयास में डिविलियर्स बिलिंग्स के हाथों लपके गए। डिविलियर्स ने महज 30 गेंदें खेलीं और आठ छक्कों के अलावा दो चौके लगाए। अगली गेंद पर ताहिर ने कोरी एंडरसन (2) को स्लिप में हरभजन सिंह के हाथों कैच कराया। मनदीप सिंह ने अंत में 17 गेंदों में तीन छक्के और एक चौके की मदद से 32 रनों की पारी खेल टीम को 200 के पार पहुंचाने में मदद की। चेन्नई के ब्रावो, शार्दूल ठाकुर और ताहिर को दो-दो सफलताएं मिलीं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App