ताज़ा खबर
 

पर्थ टेस्ट में पृथ्वी शॉ की होगी वापसी! इस खिलाड़ी को जाना पड़ सकता है बाहर

एडिलेड टेस्ट जीतकर भारतीय क्रिकेट टीम ने एक खास उपलब्धि हासिल कर ली है। भारत साल 2000 के बाद एडिलेड में दो टेस्ट मैच जीतने वाली एकमात्र टीम बन गई है। भारतीय टीम ने एडिलेड टेस्ट के अंतिम दिन सोमवार को मेजबान टीम को 31 रनों से हराया।

पृथ्वी शॉ और भारतीय टीम।

भारत के युवा सलामी बल्लेबाज पृथ्वी शॉ एडिलेड टेस्ट के आखिरी दिन ओवल मैदान में दौड़ते दिखाई पड़े। टखने में चोट लगने के बाद पृथ्वी शॉ पहली बार इस तरह दौड़ लगाते नजर आए। शॉ को क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया इलेवन के खिलाफ अभ्यास मैच के दौरान चोट लग गई थी। इस वजह से वह टेस्ट सीरीज का पहला मैच भी नहीं खेल पाए थे। वेस्टइंडीज के खिलाफ और प्रैक्टिस मैच में अपनी बल्लेबाजी से शॉ पहले ही सभी को प्रभावित कर चुके हैं। ऐसे में अगर 14 दिसंबर से होने वाले टेस्ट से पहले वह पूरी तरह से फिट हो जाते हैं तो टीम के सलामी बल्लेबाज मुरली विजय और केएल राहुल में से किसी एक को बाहर जाना पड़ सकता है। पहले मैच की दोनों पाारियों के प्रदर्शन पर गौर किया जाए तो मुरली विजय का प्रदर्शन काफी खराब रहा है। वहीं केएल राहुल भी कुछ खास नहीं कर पाए हैं, वहीं कप्तान विराट कोहली, रोहित शर्मा और युवा विकेटकीपर ऋषभ पंत भी पहले मैच के दौरान ज्यादा रन नहीं बना सके थे। पर्थ में अगर शॉ किसी कारण नहीं खेलते हैं तो फिर मेलबर्न में होने वाले बॉक्सिंग डे टेस्ट में उनका खेलना लगभग तय है।

एडिलेड टेस्ट जीतकर भारतीय क्रिकेट टीम ने एक खास उपलब्धि हासिल कर ली है। भारत साल 2000 के बाद एडिलेड में दो टेस्ट मैच जीतने वाली एकमात्र टीम बन गई है। भारतीय टीम ने एडिलेड टेस्ट के अंतिम दिन सोमवार को मेजबान टीम को 31 रनों से हराया। भारत की आस्ट्रेलिया में यह छठी टेस्ट जीत है। बीते 35 साल में भारत को इस देश में तीसरी टेस्ट जीत मिली है। इससे पहले भारतीय टीम ने जनवरी 2008 में पर्थ टेस्ट में मेजबान टीम को हराया था और उससे पहले भारत ने 2003 में एडिलेड में जीत हासिल की थी।

इससे पहले भारत को 1977, 1978 और 1981 सीरीज में तीन जीत मिली थी। 1977 और 1981 सीरीज में भारत ने मेलबर्न में तथा 1978 में सिडनी टेस्ट में जीत हासिल की थी। यह पहला मौका है जब भारत ने आस्ट्रेलिया दौरा शुरू करते हुए टेस्ट मैच जीता है। भारत को इससे पहले सीरीज की शुरुआत करते हुए दो मौकों पर ड्रॉ खेलना पड़ा था और नौ मौकों पर हार का सामना करना पड़ा था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App