ताज़ा खबर
 

IND vs BAN, T20 Final: बांग्लादेश के खिलाफ युजवेंद्र चहल के पास बड़ा मौका, ये खास रिकॉर्ड कर सकते हैं अपने नाम

India vs Bangladesh T20 Final Match, Ind vs Ban T20: दक्षिण अफ्रीका दौरे पर किए गए प्रदर्शन को चहल निदास ट्रॉफी मे दोहराने में नाकाम रहे हैं। चहल ने पिछले चार मुकाबलों में 2 , 1, 1, 1, विकेट अपने नाम किया है। कप्तान रोहित शर्मा लगातार चहल को प्लेइंग इलेवन में मौका दे रहे हैं। फाइनल में चहल को टीम के लिए बेहतर प्रदर्शन करना होगा।

युजवेंद्र चहल।

भारतीय टीम के फिरकी गेंदबाज युजवेंद्र चहल श्रीलंका में चल रहे निदास ट्रॉफी के चार मैचों में 5 विकेट लेने में कामयाब रहे हैं। इससे पहले चहल दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ वनडे सीरीज में शानदार प्रदर्शन करने में कामयाब रहे थे। दक्षिण अफ्रीका दौरे पर किए गए प्रदर्शन को चहल निदास ट्रॉफी मे दोहराने में नाकाम रहे हैं। चहल ने पिछले चार मुकाबलों में 2 , 1, 1, 1, विकेट अपने नाम किया है। कप्तान रोहित शर्मा लगातार चहल को प्लेइंग इलेवन में मौका दे रहे हैं। फाइनल में चहल को टीम के लिए बेहतर प्रदर्शन करना होगा। युजवेंद्र चहल अगर इस मैच में 4 विकेट ले लेते हैं तो वह भारत की तरफ से टी-20 मैचों में सबसे अधिक विकेट लेने वाले तीसरे गेंदबाज बन जाएंगे। चहल इस समय 31 विकेट अपने नाम कर चुके हैं, वहीं भारत की ओर से टी-20 में तीसरे नंबर पर सबसे अधिक विकेट लेने का रिकॉर्ड पूर्व तेज गेंदबाज आशीष नेहरा के नाम है। नेहरा ने अपने टी-20 करियर में 34 विकेट हासिल किया है, चहल के पास बांग्लादेश के खिलाफ फाइनल मैच में इस रिकॉर्ड को तोड़ने का शानदार मौका है। भारतीय कप्तान रोहित शर्मा भी चाहेंगे कि चहल अपनी फिरकी के दम पर उन्हें फाइनल मैच जिताने का काम करें।

युजवेंद्र चहल को पीछे से गला लगाए हुए विराट कोहली

वहीं भारतीय ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन इस लिस्ट में टॉप पर मौजूद हैं, उन्होंने अपने टी-20 करियर में 52 विकेट हासिल किया है। युवा तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह 41 विकेट के साथ दूसरे नंबर पर हैं। अगर चहल आज चार विकेट हासिल करने में कामयाब रहते हैं तो वह ऐसा कारनामा करने वाले तीसरे भारतीय गेंदबाज बन जाएंगे। बता दें कि अपने अनुभवी गेंदबाजों को आराम देकर भारत ने इस सीरीज में अपने युवा गेंदबाजों को मौका दिया है।

पहले मैच में बुरी तरह से पिटने के बाद इन युवा गेंदबाजों ने अच्छी वापसी की है लेकिन अनुभव की कमी और बांग्लादेशी बल्लेबाजों का आक्रामक रवैय उनका मनोबल तोड़ सकता है। टीम में युजवेंद्र चहल और वॉशिंगटन सुंदर के रूप में दो स्पिनर हैं। वहीं शार्दूल ठाकुर ने भी अपने प्रदर्शन से प्रभावित किया है। जयदेव उनादकट दो मैचों में महंगे साबित हुए थे और इसलिए तीसरे मैच में मोहम्मद सिराज को मौका मिला था, लेकिन यह युवा गेंदबाज कुछ ज्यादा प्रभाव नहीं छोड़ पाया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App