ताज़ा खबर
 

अब महिला IPL की हो रही तैयारी, इस दिन से शुरू हो सकते हैं मुकाबले

मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खेले गए इस मैच में कम दर्शक पहुंचे थे। इस मैच में हरमनप्रीत कौर, स्मृति मंधाना, मेग लैनिंग, एलिस पैरी और सूजी बेट्स जैसी खिलाड़ियों ने हिस्सा लिया था।

Author February 26, 2019 11:18 AM
अभ्यास मैच के दौरान भारतीय महिला खिलाड़ी। (फोटो सोर्स- बीसीसीआई)

Women’s IPL exhibition: आईपीएल के दौरान होने वाले महिला टी20 प्रदर्शनी मैचों का आयोजन प्लेऑफ के दौरान किया जा सकता है क्योंकि कार्यक्रम के अनुसार केवल यही समय खाली है। बीसीसीआई के एक अधिकारी ने पूर्व में कहा था कि मैचों का आयोजन शाम सात बजे से करवाया जा सकता है ताकि अधिक से अधिक लोगों का ध्यान खींच सकें। बोर्ड के एक अधिकारी ने सोमवार को पीटीआई से कहा, ‘पिछले साल की तरह हमारे पास केवल प्लेऑफ के दौरान ही समय है लेकिन काफी कुछ चुनाव की तिथियों पर निर्भर करता है।’ पिछले साल सुपरनोवा और ट्रेलब्लेजर्स के बीच मैच दोपहर बाद दो बजे शुरू हुआ था। मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खेले गए इस मैच में कम दर्शक पहुंचे थे। इस मैच में हरमनप्रीत कौर, स्मृति मंधाना, मेग लैनिंग, एलिस पैरी और सूजी बेट्स जैसी खिलाड़ियों ने हिस्सा लिया था और यह रोमांचक भी रहा था लेकिन पुरूष आईपीएल प्लेऑफ से पहले खेले जाने के बावजूद लोगों ने इसमें कम दिलचस्पी दिखायी थी।

अधिकारी ने कहा, ‘हम चुनाव आयोग से आम चुनावों के पूरे कार्यक्रम की घोषणा का इंतजार कर रहे हैं और इसके बाद हम महिलाओं के मैचों के कार्यक्रम को भी अंतिम रूप दे देंगे।’ उन्होंने कहा, ‘इन मैचों का आयोजन दिन में करने के बजाय जब आईपीएल मैच न हों तब शाम को सात बजे से सही रहेगा। दिन में बहुत अधिक दर्शक मैच नहीं देख पाते हैं।’ इससे पहले मिताली राज ने महिलाओं के लिए इंडियन प्रीमियर लीग शुरू करने का समर्थन किया जबकि पहले वह इसके पक्ष में नहीं थीं।

मिताली ने कहा, ‘मुझे वनडे वर्ल्ड कप से पहले ऐसा ही लगता था। उस समय व्यक्तिगत खिलाड़ियों के रूप में खिलाड़ियों का कद वनडे विश्व कप जितना बड़ा नहीं था जहां लोग समझने लगे कि भारतीय महिला क्रिकेट क्या है और कौन खिलाड़ी टीम में खेलती हैं।’ उन्होंने कहा, ‘एक या दो साल से लोग अब दो-तीन खिलाड़ियों से ज्यादा को जानते हैं। वे टीम की अन्य खिलाड़ियों को पहचानते हैं और अब आईपीएल में आने का सही समय होगा क्योंकि टी20 भी ऐसा प्रारूप है जिसमें आईसीसी महिला क्रिकेट को बढ़ाने के बारे में सोच रही है।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App