ताज़ा खबर
 

BCCI का आदेश, अफगानिस्तान टेस्ट से पहले हर भारतीय खिलाड़ी को देना होगा यो-यो टेस्ट

14 जून से बेंगलुरु में होने वाले इस एकमात्र टेस्ट मैच से पहले सभी खिलाड़ियों को इस टेस्ट की प्रक्रिया से गुजरना होगा। इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, यो-यो टेस्ट के जरिए खिलाड़ियों के फिटनेस को जांचा जाएगा। अफगानिस्तान के खिलाफ होने वाले मैच के साथ ही भारतीय टीम का इस साल होने वाले मुकाबलों का सिलसिला शुरू हो जाएगा।

भारतीय टीम। (फोटो सोर्स- बीसीसीआई)

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने अफगानिस्तान के खिलाफ होने वाले टेस्ट मैच से पहले खिलाड़ियों को यो-यो टेस्ट देने को कहा है। 14 जून से बेंगलुरु में होने वाले इस एकमात्र टेस्ट मैच से पहले सभी खिलाड़ियों को इस टेस्ट की प्रक्रिया से गुजरना होगा। इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, यो-यो टेस्ट के जरिए खिलाड़ियों के फिटनेस को जांचा जाएगा। अफगानिस्तान के खिलाफ होने वाले मैच के साथ ही भारतीय टीम का इस साल होने वाले मुकाबलों का सिलसिला शुरू हो जाएगा। हालांकि, भारत ने अफगानिस्तान के खिलाफ अपनी टीम की घोषणा पहले ही कर दी थी। इसके बाद भी टीम में शामिल खिलाड़ियों के अलावा दूसरे भारतीय खिलाड़ी को भी इस टेस्ट से गुजरना होगा। इस टेस्ट के बाद इंग्लैंड दौरे पर जाने वाले खिलाड़ियों को भी आने वाले हफ्तों में यो-यो टेस्ट देना होगा। वहीं इंग्लैंड के दौरे पर चार दिनी मैचों और वेस्टइंडीज के साथ ट्राई सीरीज के लिए चुने गए खिलाड़ियों को भी यो-यो टेस्ट देना होगा।

भारतीय टीम। (फोटो ,सोर्स- बीसीसीआई)

इस महीने के तीन और चार तारीख को इन खिलाड़ियों का टेस्ट बेंगलुरु में किया जाएगा। इसके बाद ही खिलाड़ियों के खेलने को लेकर फैसला किया जाएगा। बीसीसीआई सीईओ राहुल जोहरी ने यो-यो टेस्ट पर जोर देते हुए कहा कि भले ही कोई खिलाड़ी कितना भी फिट हो, उसे इस प्रक्रिया से होकर गुजरना ही पड़ेगा। कोई खिलाड़ी फॉर्म में होते हुए भी अगर इस टेस्ट को पास नहीं कर पाता है तो उसकी जगह दूसरे खिलाड़ियों को मौका दिया जाएगा।

बता दें कि यो-यो टेस्ट में 20 मीटर की दूरी पर रखे दो कोन के बीच खिलाड़ियों को दौड़ लगाना होता है। इस रेस को जो खिलाड़ी सही तरीके से खत्म करने में कामयाब रहते हैं, उन्हें इस टेस्ट में पास माना जाता है। वहीं जो ऐसा करने में असफल रहते हैं वो फेल करार दिए जाते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App