ताज़ा खबर
 

दिग्‍गज ऑलराउंडर्स के आगे कहां ठहरते हैं हार्दिक पंड्या? जानिए पहले 10 टेस्‍ट के बाद सबके आंकड़े

पंड्या ने अबतक खेले दस टेस्ट मैचों में 538 रन बनाए हैं और उनका औसत 35.2 रहा है। इस दौरान उन्होंने एक शतक लगाया जबकि चार अर्धशतक भी लगाए। गेंदबाजी में 27.69 की औसत से 16 विकेट भी चटकाए। औसत हर 52 गेंदों पर उन्होंने विकेट लिया।

हार्दिक पंड्या। (Source: Reuters)

साल 2017 में श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट करियर की शुरुआत करने के बाद स्टार खिलाड़ी हार्दिक पंड्या आज टीम के महत्वपूर्ण खिलाड़ी के रूप में अपनी जगह बना चुके हैं। उन्होंने पहले ही टेस्ट मैच में अर्धशतक जमा कर विरोधियों के खिलाफ अपने इरादे जाहिर कर दिए। साउध अफ्रीका के खिलाफ उनका प्रदर्शन ठीक रहा। वहीं वर्तमान में इंग्लैंड के खिलाफ बल्लेबाजी और गेंदबाजी में कमाल कर रहे हैं। इसके अलावा पंड्या उन दो बल्लेबाजों में से एक बन गए हैं जिन्होंने टेस्ट प्रारूप में अबतक खेली हर पारी में कम से कम दस रन जरूर बनाए हैं। पंड्या ने अबतक खेले दस टेस्ट मैचों में 538 रन बनाए हैं और उनका औसत 35.2 रहा है। इस दौरान उन्होंने एक शतक लगाया जबकि चार अर्धशतक भी लगाए। गेंदबाजी में 27.69 की औसत से 16 विकेट भी चटकाए। औसत हर 52 गेंदों पर उन्होंने विकेट लिया।

हार्दिक का करियर अच्छी शुरुआत में है और ऐसे में हम यहां तुलना करने की कोशिश करेंगे की भारत का यह स्टार खिलाड़ी फास्ट-बॉलिंग ऑलराउंडर्स के समक्ष दस टेस्ट मैचों के बाद कहां ठहरता है।-

कपिल देव-
कपिल देव ने 1978 में पाकिस्तान के खिलाफ अपने टेस्ट करियर की शुरुआत की और भारत के बेस्ट ऑलराउंडर खिलाड़ी के रूप में टीम को अलविदा कहा। कपिल देव ने अपने शुरुआती दस टेस्ट मैच में 39 की औसत से 29 विकेट हासिल किए है। इस दौरान उन्होंने औसतन हर 66.3 गेंद पर विकेट हासिल किया। उन्होंने एक बार सात विकेट भी हासिल किए। बल्लेबाजी में कपिल ने 42.5 की औसत से 510 रन बनाए और एक शतक भी जमाया।

भारत के इस स्टार खिलाड़ी ने 131 मैचों के बाद संन्यास ले लिया। इस दौरान उन्होंने 5248 रन बनाए और औसत रहा 31.5 का। 29.64 की औसत से 434 विकेट भी अपने नाम किए।

इयान बॉथम-
इयान बॉथम को इंग्लैंड के महानतम ऑलराउंडर्स में से एक माना जाता है। उन्होंने 1977 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट करियर की शुरुआत की। बॉथम ने शुरुआती दस टेस्ट मैचों में 17.34 की औसत से 53 विकेट हासिल किए। इस दौरान उन्होंने औसतन हर 41.8 गेंद पर विकेट हासिल किया। इस दौरान उनका बेस्ट गेंदबाजी फिगर 8/34 रहा। उन्होंने छह बार पांच विकेट हासिल किए। बल्लेबाजी में 43.55 की औसत से 479 रन बनाए और तीन शतक भी जमाए।

इंग्लैंड के इस स्टार खिलाड़ी ने कुल 102 टेस्ट मैचों में 5200 रन बनाए और 383 विकेट हासिल किए।

इमरान खान-
क्रिकेटर से राजनेता बने इमरान खान ने 1971 में इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट करियर की शुरुआत की। रिटायर होने तक इमरान खान पाकिस्तान के बेस्ट ऑलराउंडर और कप्तान रहे। हाल के दिनों में वह पाकिस्तान के प्रधानमंत्री भी बने हैं। अपने शुरुआती दस टेस्ट मैच में इमरान ने 33.9 की औसत से 37 विकेट हासिल किए। इस दौरान उन्होंने औसतन हर 73.2 गेंद पर विकेट हासिल किया। उनका बेस्ट गेंदबाजी प्रदर्शन 6/63 रहा। उन्होंने तीन बार पांच विकेट लिए। इसके अलावा एक ही मैच में दस विकेट लेने का भी रिकॉर्ड बनाया। बल्ले से इमरान खान ने करीब 20 की औसत से 288 रन बनाए। इस दौरान एक शतक भी जमाया।

पाकिस्तान के सबसे सफल कप्तान में शुमार इमरान ने करियर में कुल 88 टेस्ट खेले जिनमें उन्होंने 3807 रन बनाए और 262 विकेट हासिल किए।

सर रिचर्ड हैडली-
न्यूजलैंड के मशहूर खिलाड़ी सर रिचर्ड हैडली ने पाकिस्तान के खिलाफ 1973 में टेस्ट करियर की शुरुआत की। रिटायर होने तक वह सभी प्रारुपों में खुद को सबसे बेहतरीन ऑलराउंडर की कतार में शामिल कर चुके थे। फास्ट-बॉलिंग ऑलराउंर रहे हैडली ने शुरुआती दस मैचों में 37 बल्लेबाजों का आउट किया। इस दौरान उनका औसत 29.43 का रहा। इस दौरान उन्होंने औसतन हर 53.7 गेंद पर विकेट हासिल किया। उन्होंने करीब 18 की औसत से 269 रन भी बनाए।

अपने पूरे करियर में रिचर्ड हैडली ने 86 मैचों में 27.16 की औसत से 3124 रन बनाए। 22.29 की औसत से 431 विकेट हासिल किए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App