ताज़ा खबर
 

भारतीय क्रिकेट टीम को 6 महीने से नहीं मिली मैच फीस, प्लेयर ने कहा- पहले कभी नहीं किया इतना इंतजार

टेस्ट मैच के लिए बीसीसीआई अंतिम एकादश खिलाड़ियों को 15 लाख रुपए और अतिरिक्त खिलाड़ियों को 7 लाख रुपए देती है

खिलाड़ियों को टेस्ट मैच खत्म होने के दो माह के भीतर चेक मिल जाता था

बीसीसीआई के पदाधिकारियों और प्रशासनिक समिति के बीच चल रही तकरार के कारण भारतीय क्रिकेट टीम के सदस्यों को अभी तक 6 महीने की मैच फीस और 1 करोड़ रुपए की प्रोत्साहन राशि नहीं मिली है। यह प्रोत्साहन राशि घरेलू मैदान पर खेले गए मैचों में शानदार प्रदर्शन के लिए दी जानी थी। अप्रैल के पहले सप्ताह में शुरू हुए आईपीएल से पहले 2016-17 सत्र में भारत ने 13 टेस्ट मैच खेले और न्यूजीलैंड, इंग्लैंड, बांग्लादेश व ऑस्ट्रेलिया की टीम के साथ खेली गई सीरीज जीती थी। टेस्ट मैच के लिए बीसीसीआई अंतिम एकादश खिलाड़ियों को 15 लाख रुपए और अतिरिक्त खिलाड़ियों को 7 लाख रुपए देती है। अभी तक खिलाड़ियों को टेस्ट मैच खत्म होने के दो माह के भीतर चेक मिल जाता था।

इंडियन एक्सप्रेस को मिली जानकारी के मुताबिक, यहां तक की राष्ट्रीय महिला टीम भी अपने चेक का इंतजार कर रही है। उन्हें एक सीरीज के लिए 1 लाख रुपए दिया जाता है। बीते सेशन में विराट कोहली के नेतृत्व वाली टेस्ट टीम में खेलने वाले एक प्लेयर ने कहा, “आमतौर पर हमें टेस्ट मैच के एक महीना या 15 दिन के भीतर फीस मिल जाती है। इस बार काफी देर हो गई। हमें ये तो नहीं पता इसके पीछे की वजह क्या है लेकिन पहले कभी ऐसा नहीं हुआ।”

सूत्रों ने कहा कि इसके पीछे की वजह सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद बनी प्रशासकों की समिति और बीसीसीआई पदाधिकारियों के बीच चल रही तकरार है। सूत्रों ने कहा कि एक वजह बीसीसीआई और आईसीसी के बीच राजस्व वितरण को लेकर चल रहा विवाद भी है। बीसीसीआई के वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, “विभिन्न कारणों से फीस में देरी हो रही है। फरवरी में बीसीसीआई के पास आधिकारिक हस्ताक्षरकर्ता नहीं था और बाद में यह उलझन थी कि अमिताभ चौधरी (कार्यकारी सचिव) को यह अधिकार है या नहीं। महिला टीम की बात करें तो अभी तक बीसीसीआई के साथ उनके अनुबंध पर हस्ताक्षर नहीं हुए हैं। जैसी ही आधिकारिक अनुमति मिल जाएगी उन्हें पेमेंट दे दिया जाएगा।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App