ताज़ा खबर
 

IND vs SL : बतौर कप्तान सबसे अधिक डबल सेंचुरी लगाने के मामले में विराट कोहली बने नंबर-1

भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ने दिल्ली में श्रीलंका के खिलाफ दोहरा शतक जमाकर एक नया रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया है।

Author Updated: December 3, 2017 1:49 PM
विराट कोहली बचपन में भी गुस्से में बैट तोड़ डालते थे। (फाइल फोटो)

भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ने दिल्ली में श्रीलंका के खिलाफ दोहरा शतक जमाकर एक नया रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया है। श्रीलंका के खिलाफ तीसरे टेस्ट मैच के दूसरे दिन कोहली ने अपने करियर का छठा दोहरा शतक लगाया। इसके साथ ही विराट कोहली ने वेस्टइंडीज के पूर्व क्रिकेटर ब्रायन लारा के रिकॉर्ड को तोड़ दिया है। दरअसल, कप्तान के तौर पर ब्रायन लारा ने अपने करियर में पांच बार दोहरा शतक लगाया है। लारा के बाद डॉन ब्रेडमैन के नाम बतौर कप्तान 4 दोहरा शतक शामिल है। वहीं भारतीय खिलाड़ी की बात करें तो 6 दोहरा शतक जमाने का रिकॉर्ड सचिन के नाम हैं। इसके अलावा सहवाग ने 6 दोहरा शतक अपने टेस्ट करियर में जमाए हैं। जबकि राहुल द्रविड़ ने अपने करियर में पांच बार दोहरा शतक लगाया है। द्रविड़ के बाद सुनील गावस्कर ने चार बार तो वहीं चेतेश्वर पुजारा और वसीम जाफर ने अपने करियर में दो-दो बार दोहरा शतक जमाया है।

कोहली ने इस दोहरे शतक के साथ ही कप्तान के तौर पर सबसे अधिक बार दोहरा शतक जमाने वाले खिलाड़ी बन गए हैं। जबकि खिलाड़ी के तौर पर उन्होंने वीरेंद्र सहवाग और सचिन तेंदुलकर के रिकॉर्ड की बराबरी कर ली है। विराट कोहली दिल्ली टेस्ट के पहले दिन 156 रन बनाकर नाबाद थे। ऐसे में सभी को इंतजार था रविवार को खेले जाने वाले दूसरे दिन का। जहां विराट ने यह कारनामा कर एक नया कीर्तिमान स्थापित कर दिया है।

विराट कोहली और रोहित शर्मा एक बार फिर टीम को बड़े स्कोर तक ले जाने की कोशिश करेंगे। वहीं श्रीलंका को अगर इस मैच में वापसी करना है तो उन्हें जल्द से जल्द भारतीय टीम को ऑल आउट करना होगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 सौरव गांगुली ने कही बड़ी बात, ऐसा हुआ तो शर्ट उतारकर घूमेगा विराट कोहली
2 वीडियो : मैच के बीच में ही स्टीव स्मिथ से भिड़े जेम्स एंडरसन, अंपायर को करना पड़ा बीच-बचाव
3 बर्थडे स्पेशल : पिता का सिर्फ एक फैसला, डांसिंग क्वीन से यूं क्रिकेट की महारानी बन गईं मिताली राज