ताज़ा खबर
 

आज ही के दिन पाकिस्तान को 29 रनों से हराकर 2011 वर्ल्ड कप के फाइनल में पहुंची थी भारतीय टीम

सुरेश रैना ने अंतिम समय तक नाबाद पारी खेलकर टीम को 260 के स्कोर तक पहुंचाया। इस मैच में 85 रनों की पारी खेलने वाले सचिन तेंदुलकर को 'मैन ऑफ द मैच' चुना गया।

भारत की तरफ से पूर्व ओपनर वीरेंद्र सहवाग ने टीम को विस्फोटक शुरुआत दी।

भारतीय टीम के पूर्व बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने सात साल पहले आज ही के दिन पाकिस्तान के खिलाफ एक यादगार पारी खेली थी। दरअसल, 30 मार्च, 2011 को भारत और पाकिस्तान के बीच वर्ल्ड कप का सेमीफाइनल मुकाबला खेला जाना था। भारतीय टीम के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबीजी करने का फैसला किया। भारत की तरफ से पूर्व ओपनर वीरेंद्र सहवाग ने टीम को विस्फोटक शुरुआत दी। सहवाग ने पहले 6 ओवर में ही टीम को 50 रन के करीब पहुंचा दिया। सहवाग ने मैच के दूसरे ही ओवर में उमर गुल के एक ओवर में 5 चौके मार कर फैन्स का दिल जीत लिया। हालांकि, इस दौरान 25 गेंदों में 38 रन बनाकर सहवाग आउट हो गए। वहीं, दूसरी ओर सचिन एक तरफ से पारी को संभालने का काम करने लगे। सहवाग के बाद गौतम गंभीर, विराट कोहली और युवराज सिंह का विकेट जल्द ही गिर गया। भारतीय टीम मुश्किलों में घिरी नजर आ रही थी। इसके बाद कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने सचिन के साथ 46 रनों की छोटी-सी साझेदारी कर टीम को संभालने का काम किया। सचिन संभलकर खेल रहे थे, लेकिन वो शतक बनाने से चूक गए और 85 के स्कोर पर आउट हो गए।

HOT DEALS
  • Apple iPhone 6 32 GB Space Grey
    ₹ 25799 MRP ₹ 30700 -16%
    ₹3750 Cashback
  • Coolpad Cool C1 C103 64 GB (Gold)
    ₹ 11290 MRP ₹ 15999 -29%
    ₹1129 Cashback
सचिन तेंदुलकर और वीरेंद्र सहवाग। (Photo: BCCI)

सचिन के आउट होने के बाद सुरेश रैना के साथ मिलकर दोनों ने रन गति को तेज करने की कोशिश की और टीम के स्कोर को 200 के पार पहुंचाया। हालांकि, इसके बाद धोनी भी पवेलियन लौट गए। सुरेश रैना ने अंतिम समय तक नाबाद पारी खेलकर टीम को 260 के स्कोर तक पहुंचाया। 261 रनों के लक्ष्य को हासिल करना सेमीफाइनल मुकाबले में पाकिस्तान की टीम के लिए आसान नहीं था। पाकिस्तान की तरफ से मिस्बाह उल हक ने सबसे ज्यादा 56 रनों का योगदान दिया।

भारतीय टीम के लिए जहीर खान और मुनाफ पटेल ने पाकिस्तानी टीम को शुरुआती झटके दिए। जहीर खान, आशीष नेहरा, मुनाफ पटेल, हरभजन सिंह और युवराज सिंह ने भारत के लिए दो-दो विकेट हासिल किया। पाकिस्तान टीम के बल्लेबाज पूरे पचास ओवर भी नहीं खेल पाए और 231 रनों पर पूरी टीम ऑल आउट हो गई। इस तरह भारत इस मैच को 29 रनों से अपने नाम करने में कामयाब रही। इस मैच में 85 रनों की पारी खेलने वाले सचिन तेंदुलकर को ‘मैन ऑफ द मैच’ चुना गया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App