ताज़ा खबर
 

रवि शास्‍त्री से मुकाबले एक-चौथाई रकम पाएंगे महिला क्रिकेट टीम के कोच : रिपोर्ट्स

महिला क्रिकेट टीम के कोच डब्लू वी रमन के 1.75 करोड़ रुपये सलाना मिलेगा जो कि नेशनल क्रिकेट एकेडमी से उन्हें मिलने वाली रकम की दोगुनी है।

Author December 30, 2018 5:28 PM
रवि शास्त्री और डब्लू वी रमन (Photo: AP/PTI)

भारतीय पुरुष क्रिकेट टीम के कोच रवि शास्त्री हैं। वहीं, महिला क्रिकेट टीम का कोच डब्लू वी रमन को बनाया गया है। संभावना जताई जा रही है कि रमन 1 जनवरी 2019 से अपना पदभार संभाल लेंगे। कहा जा रहा है कि जब तक कागजी कार्रवाई पूरी नहीं हो जाती वे अपनी भूमिका में नहीं आएंगे। इस बीच मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, एक और बात सामने आयी है कि रवि शास्त्री के मुकाबले महिला क्रिकेट टीम के कोच रमन को एक चौथाई रकम मिलेगी। रवि शास्त्री को जहां 8 करोड़ रुपये प्रतिवर्ष मिलेंगे, वहीं रमन को मात्र 1.75 करोड़ रुपये प्रतिवर्ष मिलेंगे।

डेक्कन क्राॅनिकल की रिपोर्ट के मुताबिक, टीम इंडिया के नए कोच रवि शास्त्री को पिछले कोच अनिल कुंबले के मुकाबले ज्यादा पैसा मिलेगा। सूत्रों के अुनसार, “शास्त्री और उनके सहायक कर्मचारियों का सालाना पैकेज जल्द ही तय किया जाएगा। यह भी तय किया गया है कि रवि शास्त्री, बी अरुण (बॉलिंग कोच) और उनके सहायक संजय बांगर के प्रदर्शन की एक साल बाद समीक्षा की जाएगी। इसके बाद उनके वेतन में 10 प्रतिशत की बढ़ोत्तरी की जाएगी।”

पीटीआई के अनुसार, रवि शास्त्री को 8 करोड़ रुपये सलाना मिल सकता है। जबकि पिछले कोच अनिल कुंबले का वेतन 6.5 करोड़ रुपये सलाना था। वहीं, तीन अन्य कोच भरत अरुण, आर श्रीधर और संजय बांगर को 2 से 3 करोड़ रुपये सलाना मिलने की उम्मीद है।

मुंबई मिरर की रिपोर्ट के अनुसार, महिला क्रिकेट टीम के कोच डब्लू वी रमन के 1.75 करोड़ रुपये सलाना मिलेगा जो कि नेशनल क्रिकेट एकेडमी से उन्हें मिलने वाली रकम की दोगुनी है। बीते 20 दिसंबर को बीसीसीआई द्वारा गठित एक कमेटी के माध्यम से रमन की नियुक्ति हुई है। हालांकि, कमेटी की पहली पसंद गैरी क्रिस्टन थे। वहीं, दूसरे नंबर पर रमन और तीसरे नंबर पर वेंकटेश प्रसाद थे। लेकिन रॉयल चैलेंजर बैंगलोर (आरसीबी) के साथ जुड़े होने की वजह से क्रिस्टन इस पद पर नहीं चुने जा सके। ऐसी स्थिति में बीसीसीआई की कमेटी ने रमन को महिला क्रिकेट टीम के नए कोच के रूप में चुना।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X