ताज़ा खबर
 

किंगस्टन टैस्ट: कुंबले ने की शतकवीर चेस की तारीफ़, कहा- सौ ओवर से अधिक ओवर गंवाना भारी पड़ा

कुंबले ने कहा,‘हमें यह टेस्ट मैच जीतना चाहिए थे क्योंकि हम उस स्थिति में थे। कई बार विरोधी टीम साहसिक चुनौती देती है और इस मैच में यही हुआ।’

Author किंगस्टन | Published on: August 4, 2016 1:31 PM
भारतीय टीम के पूर्व कोच अनिल कुंबले। (फाइल फोटो)

भारतीय कोच अनिल कुंबले ने वेस्टइंडीज के लिए दूसरा टेस्ट ड्रा कराने वाले रोस्टन चेस के शतक की तारीफ की लेकिन यह भी कहा कि बारिश के कारण 100 से अधिक ओवर गंवाना उनकी टीम के लिए भारी पड़ा। कुंबले ने मैच ड्रा रहने के बाद कहा,‘हम यह मैच जीतना चाहते थे। हम कल (बुधवार, 3 अगस्त) अच्छी स्थिति में थे लेकिन कैरेबियाई बल्लेबाजों को इसका श्रेय देना होगा जिन्होंने उम्दा बल्लेबाजी की।’ उन्होंने कहा,‘कल (बुधवार, 3 अगस्त) का दिन काफी अहम था क्योंकि हमने अच्छी लय बना ली थी और अगर हमें अधिक ओवर गेंदबाजी के लिए मिले होते तो हालात कुछ और होते। इस टेस्ट में सौ ओवर से अधिक नहीं फेंके जा सके लिहाजा यह सब मायने रखता है। आखिर में कैरेबियाई बल्लेबाजों को श्रेय दिया जाना चाहिये जिन्होंने उम्दा बल्लेबाजी की।’

चेस के बारे में उन्होंने कहा,‘अपने दूसरे ही टेस्ट में इस तरह सारा दिन बल्लेबाजी करके मैच बचाना वाकई काबिले तारीफ है। चेस का प्रदर्शन बेहतरीन रहा। उसने हमारे गेंदबाजों को दबाव में रखा जो काफी निराशाजनक था।’ उन्होंने कहा,‘उनके सभी गेंदबाजों जर्मेइन ब्लैकवुड, जासन होल्डर और शेन डोरिच सभी ने अच्छी पारियां खेली। हमें यह देखना होगा कि आखिरी पांच विकेट कैसे लेने हैं क्योंकि इस श्रृंखला में उनके आखिरी पांच बल्लेबाजों ने उम्दा प्रदर्शन किया है।’ भारत ने पहली पारी में वेस्टइंडीज को सिर्फ 196 रन पर आउट कर दिया था जिसके जवाब में भारतीय टीम ने पहली पारी नौ विकेट पर 500 रन पर घोषित की थी।

कुंबले ने कहा,‘आप मौसम के अनुमान पर फैसले नहीं ले सकते। तीसरे दिन बारिश होने की आशंका थी और चौथे दिन भी यह अनुमान लगाया गया था लेकिन आप इन भविष्यवाणियों के आधार पर रणनीति नहीं बना सकते।’ उन्होंने कहा,‘हम सिर्फ 160 रन की बढ़त पर पारी घोषित नहीं करना चाहते थे और हमारा मकसद और बल्लेबाजी करने का था। हमने अच्छी क्रिकेट खेली और दबाव बनाये रखा। सिर्फ आज लय खो दी और इसका श्रेय कैरेबियाई बल्लेबाजों को जाता है।’ भारतीय कोच ने हालांकि स्वीकार किया कि उनकी टीम यह मैच जीतने की स्थिति में थी। उन्होंने कहा,‘हमें यह टेस्ट मैच जीतना चाहिए थे क्योंकि हम उस स्थिति में थे। कई बार विरोधी टीम साहसिक चुनौती देती है और इस मैच में यही हुआ।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 INDvsWI: एक ही मैच में शतक जमाने और 5 विकेट लेने वाले इंडीज के चौथे क्रिकेटर बने चेस
2 India vs West Indies, 2nd Test, Day 5: वेस्टइंडीज को पांचवा झटका
3 फरवरी 2017 में भारत-बांग्लादेश के बीच खेला जाएगा एक टेस्ट मैच, बांग्लादेश का होगा पहला भारतीय टेस्ट दौरा