ताज़ा खबर
 

IND vs NZ: ग्रीन पार्क टेस्ट मैच के लिए उत्साह ठंडा, नहीं बिक रहे हैं टिकट

दर्शकों के इस रुख के कारण उत्तरप्रदेश क्रिकेट संघ (यूपीसीए) के अधिकारी परेशान हैं कि आखिर 26 हजार दर्शकों की क्षमता वाले स्टेडियम को कैसे भरा जाएगा।

Author कानपुर | Updated: September 9, 2016 3:39 PM
कानपुर का ग्रीन पार्क स्टेडियम। (फाइल फोटो)

भारत और न्यूजीलैंड के बीच ग्रीन पार्क में पहला टेस्ट मैच शुरू होने में अब केवल 13 दिन बचे हैं लेकिन शहर के क्रिकेट प्रेमियों में इस मैच के प्रति कोई उत्साह नहीं है तथा आलम यह है कि आनलाइन टिकटों की बिक्री न के बराबर हो रही है। दर्शकों के इस रुख के कारण उत्तरप्रदेश क्रिकेट संघ (यूपीसीए) के अधिकारी परेशान हैं कि आखिर 26 हजार दर्शकों की क्षमता वाले स्टेडियम को कैसे भरा जाएगा। यूपीसीए ने वैसे टेस्ट क्रिकेट में आम जनता की कम रुचि को पहले ही भांप लिया था और टेस्ट मैच में दिव्यांग बच्चों और सरकारी स्कूलों के बच्चों के लिए 20 प्रतिशत सीटे रिजर्व रखने एलान किया था तथा इन बच्चों को मुफ्त में क्रिकेट मैच दिखाने की घोषणा की थी।

यूपीसीए के निदेशक पीडी पाठक ने शुक्रवार (9 सितंबर) को कहा, ‘बुक माय शो के माध्यम से पहले टेस्ट मैच के टिकटों की बिक्री शुरू हो गई है और टिकटों के दाम 150 रुपए से लेकर 2000 रुपए तक रखे गए हैं। अभी टिकटों की बिक्री ने जोर नही पकड़ा है लेकिन उम्मीद है कि ज्यों ज्यों मैच की तारीख नजदीक आएंगी टिकटों की बिक्री बढ़ेगी।’ पाठक से पूछा गया कि अभी तक कितने टिकट बिके है तो उन्होंने कहा कि आनलाइन टिकटों की बिक्री का आंकड़ा उनके पास नहीं है। वैसे सूत्रों का कहना है कि केवल कुछ हजार टिकट ही बिके है। अगर ऑन लाइन टिकट नही बिक पाए तो आखिरी के दिनों में मैच स्थल के अलावा अन्य स्थलों से भी टिकट बेचे जा सकते है।

टेस्ट मैच के प्रति उत्साह न होने का एक कारण और है कि 22 से 26 सितंबर तक कोई छुटटी नही है इस लिये स्कूली बच्चे और युवा भी मैच में ज्यादा रुचि नही दिखा रहे है। वैसे 25 सितंबर को रविवार है इसलिए उस दिन दर्शकों की संख्या अधिक होने की उम्मीद है। यूपीसीए के सूत्रों ने बताया कि अप्रैल माह में आईपीएल में दर्शकों का उत्साह 15 दिन पहले से कानपुर और उसके आसपास के लोगो के सिर चढ़ कर बोल रहा था लेकिन टेस्ट मैच में ऐसा कोई ‘क्रिकेटिया बुखार’ नही दिख रहा है।

यूपीसीए की सबसे बड़ी चिंता टेस्ट मैच के दौरान ग्रीन पार्क की करीब 26 हजार सीटें भरने की है, क्योंकि टी20 और वनडे मैचों के दौर में पांच दिवसीय टेस्ट मैच के लिए दर्शकों की रुचि कम होती है। इस लिए टेस्ट मैच में टिकटों के दाम तो कम रखे ही गए हैं साथ ही साथ 20 प्रतिशत सीटे सरकारी स्कूलो के बच्चों और दिव्यांग बच्चों के लिए रिजर्व रखी जाएंगी। इसके लिए यूपीसीए के पदाधिकारी जिला प्रशासन और स्कूलों के प्रबंधको से बात करके योजना बनाई है ताकि बच्चों और विकलांगों को स्टेडियम आने में कोई परेशानी न हो। इसके लिए तैयारियां शुरू हो गई है तथा कोशिश की जा रही है कि सरकारी बसों से इन बच्चों को लाया ले जाया जाए।

न्यूजीलैंड के मैच के मददेनजर न्यूजीलैंड के क्रिकेट अधिकारियों की टीम कानपुर के ग्रीन पार्क आ चुकी है और वह स्टेडियम की तैयारियों से संतुष्ट दिखी। यूपीसीए के अनुसार ग्रीन पार्क पूरी तरह से तैयार है और उसने खिलाड़ियों के रहने के लिये होटल से लेकर सभी तैयारियां करीब करीब पूरी कर ली है। ग्रीन पार्क में भारत और न्यूजीलैंड के बीच पहला टेस्ट मैच 22 से 26 सितंबर के बीच है। लेकिन दोनो क्रिकेट टीमों के मैच से दो दिन पहले शहर आने की संभावना है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 पाकिस्तान के तेज गेंदबाज आमिर बोले- मेरे पास जादुई छड़ी नहीं कि पहले दिन से अच्छा प्रदर्शन करूं
2 India A vs Aus A: गेंदबाजों की बदौलत दूसरे दिन भारत ‘ए’ की मैच में वापसी
3 आदित्य वर्मा ने नरेंद्र मोदी को लिखा पत्र, कहा- खेल विधेयक लागू होने से बीसीसीआई पर हो सकता है सरकार का नियंत्रण