ताज़ा खबर
 

कोलकाता टेस्ट: पहले दिन न्यू़ज़ीलैंड की कसी गेंदबाज़ी के आगे भारतीय बल्लेबाज़ पस्त

चेतेश्वर पुजारा (87) और अजिंक्य रहाणे (77) को छोड़कर कोई भी भारतीय बल्लेबाज अच्छा प्रदर्शन नहीं कर सका।

Author कोलकाता | September 30, 2016 6:50 PM
कोलकाता के ईडन गार्डंस मैदान पर दूसरे टेस्ट मैच के पहले दिन न्यूजीलैंड के खिलाफ भारतीय बल्लेबाज रविचंद्रन अश्विन शॉट खेलते हुए। (AP Photo/Saurabh Das/30 Sep, 2016)

न्यूजीलैंड की सटीक गेंदबाजी के सामने भारत का मजबूत बल्लेबाजी लाइन अप शुक्रवार (30 सितंबर) को यहां दूसरे टेस्ट के पहले दिन शुरुआती झटकों से उबरने में असफल रहा और सात विकेट गंवाकर 239 रन ही बना सका। भारतीय कप्तान विराट कोहली ने ऐतिहासिक ईडन गार्डन्स की दोबारा बिछायी गई पिच पर टॉस जीतकर बल्लेबाजी का फैसला किया, जो भारत के घरेलू मैदान पर 250वें टेस्ट की मेजबानी कर रहा है लेकिन चेतेश्वर पुजारा (87) और अजिंक्य रहाणे (77) को छोड़कर कोई भी बल्लेबाज अच्छा प्रदर्शन नहीं कर सका। जब खराब रोशनी के कारण 87वें ओवर में दिन का खेल समाप्त किया गया तो विकेटकीपर बल्लेबाज रिद्धिमान साहा 14 रन बनाकर खेल रह थे जबकि रविंद्र जडेजा ने खाता नहीं खोला था।

न्यूजीलैंड को सुबह नियमित कप्तान और शीर्ष बल्लेबाज केन विलियमसन के बीमार होने के कारण करारा झटका लगा लेकिन उसने इसके बावजूद पहले दिन बेहतरीन प्रदर्शन किया। मध्यम गति के गेंदबाज मैट हैनरी ने 15 ओवर में 35 रन देकर तीन जबकि आफ स्पिनर जीतन पटेल ने दो विकेट प्राप्त किए जिन्हें मार्क क्रेग के चोटिल होने के कारण टीम में शामिल किया गया। ट्रेंट बोल्ट और नील वैगनर ने भी एक एक विकेट हासिल किया। भारत की शुरुआत अच्छी नहीं रही, उसने 50 रन के स्कोर से पहले ही अपने शीर्ष तीन बल्लेबाजों के विकेट गंवा दिए थे। पुजारा और रहाणे ने चौथे विकेट के लिए 141 साझेदारी निभाकर भारत को खराब शुरुआत से उबरने में मदद की।

फॉर्म में चल रहे पुजारा ने 219 गेंद में 17 चौके की मदद से 87 रन बनाए। पिछली तीन पारियों में यह उनका तीसरा अर्धशतक है। पहले सत्र में भारत ने 46 रन पर तीन विकेट खो दिए थे, जिसके बाद पुजारा और रहाणे ने न्यूजीलैंड के गेंदबाजों का डटकर सामना किया। दोनों ने मिलकर तीन घंटे नौ मिनट तक बल्लेबाजी की। न्यूजीलैंड ने अंतिम सत्र में चार विकेट झटककर प्रभावित किया। पुजारा को वैगनर ने मार्टिन गुप्टिल के हाथों कैच आउट किया। हालांकि रोहित शर्मा (02) के लिए पसंदीदा मैदान पर दिन अच्छा नहीं रहा, उन्हें पटेल ने पवेलियन भेजा जो ऐसा लगता है कि एक रन का प्रयास लेते हुए वह अपना कंधा भी चोटिल कर बैठे। मेहमान टीम के लिए दो खिलाड़ियों ने वापसी की जिसमें पहले टिम साउदी की जगह लेने वाले 24 वर्षीय हैनरी रहे जिन्होंने शिखर धवन (01) और मुरली विजय (09) को आउट किया।

हैनरी ने दिन के दूसरे ओवर में धवन को आउट किया जो केवल 10 गेंद ही खेल सके। उन्होंने अपने पहले ओवर की दूसरी गेंद पर वापसी करने वाले भारतीय खिलाड़ी की पारी खत्म कर दी। लोकेश राहुल की जगह शामिल हुए धवन कोण लेती गेंद को खेलने की कोशिश की लेकिन यह उनके स्टंप उखाड़कर चली गई। जब ऐसा लग रहा था कि कोहली (09) पुजारा के साथ पारी को आगे बढ़ाएंगे तभी ट्रेंट बोल्ट ने भारतीय कप्तान को आउट कर दिया जिससे वह फिर से बड़ा स्कोर नहीं बना सके। कोहली ने खूबसूरत कवर ड्राइव के बाद ऑफस्टंप के बाहर जाती गेंद पर आईपीएल की तरह का शॉट खेला और टाम लाथम ने उछलकर शानदार तरीके से इसे लपक लिया। लंच से आधा घंटा पहले यह विकेट गिरा।

लेकिन पुजारा और रहाणे ने दूसरे सत्र में कोई विकेट नहीं गिरने दिया। पुजारा ने कानपुर टेस्ट में 62 और 78 रन की पारियां खेलकर अहम भूमिका अदा की थी, उन्होंने फिर दिखा दिया कि खराब शुरुआत के बाद टीम के लिए किस तरह के खेल की जरूरत होती है। सुबह पिच पर अलग तरह का उछाल और सीम मूवमेंट मिल रहा था लेकिन दोपहर में पिच थोड़ी धीमी हो गयी, जिस पर कभी कभार ही टर्न मिला। हालांकि पुजारा और रहाणे ने सतर्कता से खेलते हुए पारी को संभाला। दोनों खिलाड़ी किसी जल्दबाजी में नहीं दिखे और उन्होंने गेंद के हिसाब से शॉट खेले, दोनों बीच बीच में बाउंड्री लगाते रहे। पुजारा ने नील वैगनर की गेंद को थर्ड मैन की ओर बाउंड्री के लिए भेजकर 141 गेंद का सामना करते हुए अपना 10वां अर्धशतक पूरा किया।

दूसरे छोर पर उनका साथ निभा रहे रहाणे ने 157 गेंद में 11 चौके जमाए। लेकिन रहाणे की इस पारी का अंत पटेल की गेंद पर हुआ जिस पर यह भारतीय खिलाड़ी पगबाधा आउट हुआ। तब भारत का स्कोर 200 रन था। रविचंद्रन अश्विन ने भी 26 रन की उपयोगी पारी खेली जिसमें चार चौके शामिल थे। वह भी हैनरी का शिकार बने जिनका यह पांचवां टेस्ट है और अंतिम बार वह क्राइस्टचर्च में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेले थे। पटेल भी तीन साल से ज्यादा समय बाद वापसी कर रहे हैं।

भारत पहली पारी :
शिखर धवन बो हैनरी 01
मुरली विजय का वाटलिंग बो हैनरी 09
चेतेश्वर पुजारा का गुप्टिल बो वैगनर 87
विराट कोहली का लाथम बो बोल्ट 09
अजिंक्य रहाणे पगबाधा बो पटेल 77
रोहित शर्मा का लाथम बो पटेल 02
रविचंद्रन अश्विन पगबाधा बो हैनरी 26
रिद्धिमान साहा खेल रहे हैं 14
रविंद्र जडेजा खेल रहे हैं 00

अतिरिक्त : 14
कुल योग : 86 ओवर में सात विकेट पर : 239 रन
विकेट पतन : 1/1, 2/28, 3/46, 4/187, 5/193, 6/200, 7/231
गेंदबाजी :
बोल्ट 16-8-33-1
हैनरी 15-6-35-3
वैगनर 15-5-37-1
सैंटनर 19-5-54-0
पटेल 21-3-66-2

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App