ताज़ा खबर
 

Ind vs Eng Test Series: अंग्रेजों के खिलाफ इन तीन खिलाड़ियों के प्रदर्शन पर निर्भर करेगी भारत की जीत

भारत और इंग्लैंड के बीच आगामी 9 नवंबर से पांच टेस्ट मैचों की सीरीज शुरू हो रही है। हम आपको भारतीय टीम के तीन ऐसे महत्वपूर्ण खिलाड़ियों के बारे में बता रहे हैं जो इस सीरीज में अपने दम पर अंतर पैदा कर सकते हैं।

Author नई दिल्ली | Updated: November 7, 2016 5:29 PM
विराट कोहली की कप्तानी में भारत ने अभी तक कोई भी टेस्ट सीरीज नहीं हारा है। 9 नवंबर से राजकोट में भारत और इंग्लैंड के बीच पहला टेस्ट मैच शुरू हो रहा है।

भारत और इंग्लैंड के बीच आगामी 9 नवंबर से पांच टेस्ट मैचों की सीरीज शुरू हो रही है। हम आपको भारतीय टीम के तीन ऐसे महत्वपूर्ण खिलाड़ियों के बारे में बता रहे हैं जो इस सीरीज में अपने दम पर अंतर पैदा कर सकते हैं।

विराट कोहली: विराट कोहली इस समय बल्लेबाजी में अपने बेहतरीन दौर से गुजर रहे हैं। उन्होंने इस साल टेस्ट मैचों में वेस्टइंडीज और न्यूजीलैंड के खिलाफ डबल सेंचुरी लगाकर अपनी फॉर्म का नमूना पेश किया है। कोहली ने अपनी फॉर्म पर कप्तानी का बोझ नहीं आने दिया है और वह इस जिम्मेदारी का लुत्फ उठा रहे हैं। भारत अभी तक कोहली की कप्तानी में खेलते हुए कोई टेस्ट सीरीज नहीं हारा है। विराट कोहली को यह बात अच्छे से पता है कि इंग्लैंड की टीम वेस्टइंडीज और न्यूजीलैंड के मुकाबले ज्यादा चुनौती देने वाली है। विराट कोहली का इंग्लैंड के विरुद्ध रिकॉर्ड बहुत अच्छा नहीं रहा है और उन्होंने 9 टेस्ट मैचों में मात्र 322 रन बनाए हैं। भारत 2014 में जब इंग्लैंड के दौरे पर गया था तब कोहली ने उस सीरीज में मात्र 13 की औसत से रन बनाए थे। विराट कोहली इंग्लैंड के विरुद्ध अपने इस प्रदर्शन को सुधारने के लिए आतुर होंगे और उनकी यही आतुरता इस टेस्ट सीरीज में उनसे बेहतरीन बैटिंग करवा सकती है।

रविचन्द्रन अश्विन: आॅफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन टेस्ट मैचों में इस समय दुनिया के टॉप रैंक गेंदबाज हैं। वह वर्तमान क्रिकेट में सबसे प्रभावी स्पिन गेंदबाज हैं। इसके अतिरिक्त वह खुद को एक अच्छा बल्लेबाज भी साबित कर चुके हैं। हाल ही में बांग्लादेश के विरुद्ध खेलते हुए इंग्लैंड के बल्लेबाजों की स्पिन के खिलाफ कमजोरी उजागर हुई थी जब नए गेंदबाज मेंहदी हसन ने उसे नाको चने चबवा दिया था। यह देखकर अश्विन बहुत खुश होंगे। भले ही रविचन्द्रन अश्विन ने 2014 के इंग्लैंड दौरे पर बस तीन विकेट ही हासिल किया था लेकिन भारत में खेलते हुए उन्होंने न्यूजीलैंड के खिलाफ 27 विकेट हासिल कर इंग्लैंड के माथे पर बल जरूर डाल दिया होगा। न्यूजीलैंड के खिलाफ खेले गए तीन टेस्ट मैचों की इस सीरीज में अश्विन के आलावा अन्य 6 गेंदबाजों ने मिलकर 30 विकेट हासिल किया था। पिछली बार इंग्लैंड जब भारत के दौरे पर आया था तब अश्विन अपनी बैटिंग का लोहा मनवाया था और सीरीज में 60 की औसत से रन बनाए थे।

अजिंक्य रहाणे: अजिंक्य रहाणे ने 2014 के इंग्लैंड दौरे पर अपनी बल्लेबाजी कौशल से सभी को प्रसन्न किया था। उन्होंने लॉर्ड्स के ऐतिहासिक मैदान पर शतक जड़ा था और सीरीज में दो अर्धशतक भी लगाए थे। रहाणे ने अब तक के टेस्ट करियर में 29 मैच खेले हैं और उनका बैटिंग औसत 51 से उपर है। इस समय रहाणे भारत की ओर से टेस्ट मैचों में लगातार बेहतर प्रदर्शन कर रहे हैं। अजिंक्य रहाणे शॉर्ट पिच बॉल को खेलने में दिक्कत का सामना करते हैं और उनकी इस कमजोरी को इंग्लैंड के तेज गेंदबाज भुनाने का भरसक प्रयास करेंगे। लेकिन रहाणे की इच्छा शक्ति और दृढ़ता इंग्लिश गेंदबाजों के प्रयासों पर पानी फेर सकता है। रहाणे ने इसका सबूत भी पेश किया है जब इंदौर में न्यूजीलैंड के खिलाफ एक शॉर्ट पिच बाउंसर सीधे आकर उनके हेलमेट से टकराया और इस मैच में उन्होंने अब तक का अपना सर्वश्रेष्ठ स्कोर 188 रन बना दिया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 ब्रिटेन में 50 फीसदी क्रिकेट अंपायरों को सुनने पड़ते हैं अपशब्द: स्टडी
2 SA vs AUS: जब जोंटी रोड्स स्टाइल में टेम्‍बा बवूमा ने डेविड वॉर्नर को किया रन आउट, देखें वीडियो
3 आस्ट्रेलिया पर हार का खतरा मंडराया