ताज़ा खबर
 

यो-यो टेस्‍ट के बाद भी एनसीए में रुके हैं महेंद्र सिंह धोनी, अकेले कर रहे अभ्‍यास

दुनिया के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी चुनौतियों से निपटने के लिए एकांत में अभ्यास करना पसंद करते है और भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी भी कोई अपवाद नहीं है जो लोगों की नजरों से दूर इंग्लैंड दौरे से पहले राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी (एनसीए) में नेट पर पसीना बहाते हुए देखे गये।

Author बेंगलुरु | Published on: June 18, 2018 2:40 PM
महेंद्र सिंह धोनी।

दुनिया के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी चुनौतियों से निपटने के लिए एकांत में अभ्यास करना पसंद करते है और भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी भी कोई अपवाद नहीं है जो लोगों की नजरों से दूर इंग्लैंड दौरे से पहले राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी (एनसीए) में नेट पर पसीना बहाते हुए देखे गये। सचिन तेंदुलकर भी अपने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के आखिरी के कुछ वर्षों में मुंबई के ब्रांद्रा कुर्ला परिसर में खुद ही अभ्यास करते थे और एनसीए में धोनी का अभ्यास सत्र भी कुछ ऐसा ही है। उन्होंने सैकड़ों गेंदों का सामना किया जिसमें से लगभग 70 प्रतिशत थ्रो – डाउन से की गयी थी। धोनी ने 15 जून को एकदिवसीय टीम के खिलाड़ियों के साथ यो यो टेस्ट दिया था और दूसरे खिलाड़ियों के जाने के बाद भी वह यहां रूके रहे।
धोनी आज राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी में थ्रो डाउन विशेषज्ञ रघु और तेज गेंदबाज शारदुल ठाकुर के साथ यहां पहुंचे और लगभग ढाई घंटे तक उन्होंने 18 गज की दूरी से थ्रो – डाउन पर अभ्यास किया। ठाकुर भी बीच बीच में गेंदबाजी करते रहे।

लगातार दो घंटे अभ्यास करने के बाद धोनी ने छोटा साथ ब्रेक लिया और फिर से अभ्यास में जुट गये। इस दौरान सिद्धार्थ कौल यहां आ गये और उन्होंने भी पूर्व भारतीय कप्तान को गेंदबाजी की। थ्रो – डाउन में धीरे – धीरे गेंद की गति बढायी गयी और इस दिग्गज ने शॉर्ट गेंद तथा बैक लेंथ गेंदों का समाना किया। उन्होंने कुछ गेंदों को रक्षात्मक तरीके से खेला तो कुछ का सामना उन्होंने आत्मविश्वास के साथ आगे बढ़कर किया। जब भी उन्हें थोड़ी जगह मिलती वह अपने अंदाज में गेंद पर तेजी से प्रहार करते देखे गये।

धोनी शारदुल को काल्पनिक क्षेत्ररक्षक लगाने के लिए कहा जिसके बाद शारदुल ने उन्हे मिड – विकेट , एक्स्ट्रा कवर और डीप फाइन लेग में काल्पनिक क्षेत्ररक्षक रखने का इशारा किया और फिर धोनी ने क्षेत्ररक्षकों को ध्यान में रखते हुए शाट खेले। उनका रिफ्लैक्स पहले की तरह नहीं दिखा और वह कई गेंद खेलने में नाकाम रहे लेकिन जो गेंद उनके बल्ले पर आती उससे शानदार आवाज निकलती थी। सत्र खत्म होने के बाद ड्रेंिसग रूम की तरफ जाते समय धोनी की नजर जब यहां मौजूद यहां दो पत्रकारों पड़ी तो उन्होंने कहा , ‘‘ भनक लग गया (धोनी की मौजूदगी का पता चल गया) ।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 श्रीलंका के कप्तान दिनेश चंडीमल पर ICC ने लगाया बॉल टेंपरिंग का आरोप
2 तो क्या मैच से 10 दिन पहले ही आयरलैंड रवाना हो गए महेंद्र सिंह धोनी? सामने आया वीडियो
3 Eng vs Aus: शॉन मार्श की 131 रनों की पारी भी नहीं बचा पाई ऑस्ट्रेलिया की लाज, दूसरे वनडे में भी मिली हार
ये पढ़ा क्या?
X