ताज़ा खबर
 

Ind vs Ban T20: पहली ही ओवर में साथियों ने गिरा दिए दो कैच, लेकिन यूं मैन ऑफ द मैच बने विजय शंकर

मैच खत्म होने के बाद उन्होंने कहा कि वह उन ड्राप कैच के बारे में ज्यादा नहीं सोच रहे थे। उन्होंने कहा, "यह खेल का हिस्सा है, हालांकि मैं तब अपना पहला विकेट लेना पसंद करता, लेकिन हम जानते हैं कि रात की रोशनी में सफेद गेंद के साथ फील्डिंग करना आसान नहीं होता है।"

Vijay Shankar, cricketer Vijay Shankar, india vs bangladesh, ind vs ban, india vs bangladesh t20, india vs bangladesh t20 squad, nidahas trophy, nidahas trophy 2018, india vs bangladesh t20 players list, ind vs ban t20, cricket news, sports news, Hindi news, News in Hindi, Jansattaकोलंबो में 8 मार्च 2018 को बांग्लादेश के बैट्समैन मुशफिकर रहीम को आउट करने के बाद साथ खिलाड़ियों के साथ खुशी मनाते विजय शंकर (दाहिने) फोटो-एपी

निदास ट्राफी में बांग्लादेश के खिलाफ टी-20 मैच में भारत की जीत में तमिलनाडु के आलराउंडर विजय शंकर का अहम योगदान रहा। उन्होंने 32 रन देकर दो विकेट लिये। विजय शंकर ने मुशफिकर रहीम (18) को विकेटकीपर दिनेश कार्तिक के हाथों कैच कराकर अपने अंतरराष्ट्रीय करियर का पहला विकेट लिया। अपने अगले ओवर में उन्होंने कप्तान महमुदुल्लाह (एक) को भी पवेलियन भेजा। हालांकि विजय शंकर को अपने पहले ही ओवर में तब निराशा झेलनी पड़ी जब उनकी बॉल पर लगाये गये दो शॉट्स कैच आउट में तब्दील होते होते रह गये। दरअसल सुरेश रैना और वाशिंगटन सुंदर ने दो कैच गिरा गिये। दोनों ही मौकों पर बांग्लादेश के लिटन दास बल्लेबाजी कर रहे थे। अगर कोई दूसरा बॉलर होता तो ऐन मौके पर दबाव में भी आ जाता, लेकिन विजय शंकर ने अपना धैर्य नहीं खोया। उन्होंने सधी हुई गेंदबाजी की और दो विकेट लिये। विजय शंकर को इस मैच का मैन ऑफ द मैच का भी खिताब दिया गया।

मैच खत्म होने के बाद उन्होंने कहा कि वह उन ड्राप कैच के बारे में ज्यादा नहीं सोच रहे थे। उन्होंने कहा, “यह खेल का हिस्सा है, हालांकि मैं तब अपना पहला विकेट लेना पसंद करता, लेकिन हम जानते हैं कि रात की रोशनी में सफेद गेंद के साथ फील्डिंग करना आसान नहीं होता है।” बता दें कि इस मैच में विजय शंकर के 2 विकेट, जयदेव उनादकट के 3 विकेट और शिखर धवन द्वारा लगाये गये 55 रनों की बदौलत ही टीम इंडिया टूर्नामेंट में वापसी कर सकी। इस टूर्नामेंट का पहला मैच भारत श्रीलंका से हार चुका था। 27 साल के इस गेंदबाज ने कहा कि थोड़ी-थोड़ी देर पर विकेट लेते रहने की वजह से ही भारत मैच पर हावी रहा।

विजय शंकर ने इस मैच में हालांकि तीन वाइड और दो नो बॉल फेंके। पर वह इसे लेकर ज्यादा परेशान नहीं हैं। बता दें कि भारत ने बांग्लादेश को छह विकेट से हराकर निधास ट्राफी त्रिकोणीय टी20 श्रृंखला में अपनी पहली जीत दर्ज की है। भारतीय गेंदबाजों ने बांग्लादेश के बल्लेबाजों को खुलकर नहीं खेलने दिया और पहले बल्लेबाजी का न्यौता पाने वाली उसकी टीम को आठ विकेट पर 139 रन ही बनाने दिये। बांग्लादेश की तरफ से लिट्टन दास ने सर्वाधिक 34 और शब्बीर रहमान ने 30 रन बनाये।  भारतीय कप्तान रोहित शर्मा फिर से नाकाम रहे लेकिन बायें हाथ के बल्लेबाज धवन ने 43 गेंदों पर 55 रन बनाये जिसमें पांच चौके और दो छक्के शामिल हैं। उन्होंने सुरेश रैना (28) के साथ तीसरे विकेट के लिये 68 रन की साझेदारी की। मनीष पांडे ने नाबाद 27 रन की तेजतर्रार पारी खेली जिससे भारत ने 18.4 ओवर में चार विकेट पर 140 रन बनाकर बांग्लादेश के खिलाफ इस प्रारूप में अपना शत प्रतिशत रिकार्ड बरकरार रखा। भारत की यह टी20 में बांग्लादेश पर छठी जीत है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 शमी का बर्थडे आज: जब पाकिस्तानी दर्शक पर भड़क गए थे शमी, दारोगा की वर्दी फाड़ने में बड़ा भाई हुआ था गिरफ्तार
2 पत्नी हसीन जहां का दावा- विराट कोहली की तरह एक बॉलीवुड एक्ट्रेस से शादी करना चाहते थे मोहम्मद शमी
3 India vs Bangladesh 2nd T20: हार के बाद बोले बांग्लादेश के कप्तान महमुदुल्लाह , कहा- खराब रही हमारी बल्लेबाजी
ये पढ़ा क्या?
X