ताज़ा खबर
 

देश भर में उन्नाव की माटी से बनती है क्रिकेट की पिच

शौर्य, समर्पण व साहित्यिक क्षेत्र में उर्वर रही उन्नाव की माटी का क्रिकेट के खेल में हो रहा उपयोग

Author उन्नाव | March 1, 2017 12:49 AM
मुबंई का वानखेड़े स्टेडियम। (फाइल फोटो)

यह बात बहुत कम लोगों को पता है कि देश में क्रिकेट पिच बनाने में उन्नाव की माटी का उपयोग किया जाता है। यह बात अलग है कि खनन पर लगी रोक के चलते मांग के अनुरूप आपूर्ति करने में कारोबारियों को मौजूदा समय में काफी जददोजेहाद उठानी पड रही है। वहीं मौके का फायदा उठाकर पुलिस महकमा मनमाने ढंग से इन दिनों पिच के काम में लायी जाने वाली मिटटी का उपयोग कई जिलों का परेड ग्राउण्ड ठीक कराने में कर रहा है। क्रिकेट के क्षेत्र में नई पीढी को बीते चार दशकों से तराशने का काम कर रहे डी0 सी0 ए0 (डिस्ट्रिक क्रिकेट एसोसिएशन) के महामंत्री पी0 के मिश्रा की मानें तो शहर के मुहल्ला दरोगा बाग स्थित चांदमारी के निकट मुन्ना भूसा वाले के तालाब से निकलने वाली काली मिटटी समूचे देश में क्रिकेट की पिच तैयार करने के काम में आती है।

यही कारण है कि यहां माह अप्रैल में तालाब का पानी घटने पर मिटटी निकाल कर इकटठा कर ली जाती है। जिसे पूरे साल राष्ट्रीय व अन्तर्राष्ट्रीय मैचों के लिये पिच तैयार करने के काम में लाया जाता है। लेकिन ताज्जुब की बात यह है कि देश में हर जगह पिच तैयार करने के लिये काली मिटटी भेजने वाले उन्नाव के क्रिकेट खिलाडियों के लिये यहां के पं0 दीनदयाल उपाध्याय स्टेडियम में बनायी गयी पिच के जिम्मेदार आर0 ई0 एस0 महकमें ने उसरीली मिटटी का उपयोग किया है जिससे खिलाडियों को बेहद कठिनाइयों का सामना करना पडता है।

जिले के नवोधा क्रिकेटरों में शामिल राजेश चौधरी की टींस है कि प्रतिभा भारती व इब्ने हैदर जैसे अण्डर -19 (राज्य स्तरीय टीम) के ऊर्जावान खिलाडी तैयार करने वाले जनपद में मौजूदा समय में अनदेखी के चलते उन्नाव में 13 सितम्बर 2013 से अब तक खेल प्रोत्साहन कमेटी की बैठक नही हुई है। जिसके चलते उन्नाव के युवा खिलाडियों को वह सुविधायें नही मिल पा रही हैं जिनकी कमी के चलते वह देश व दुनियां में अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन नही दिखा पा रहे हैं।

हाल ही में आई0 पी0 एल0 टीम का हिस्सा बने हैं उन्नाव के राहुल त्रिपाठी
खेल जगत में अन्तर्राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त आई0 पी0 एल0 क्रिकेट प्रतियोगिता की पुणे सुपर जाईटस टीम में उन्नाव के राहुल त्रिपाठी के चयन पर खेल विधा से सरोकार रखने वालों में उत्साह का संचरण देखने को मिला। डी0 सी0 ए0 अध्यक्ष अरविन्द श्रीवास्तव के अलावा ंमनोहर सिंह अरोडा, राजकुमार, राजेश कुमार चौधरी, राजेन्द्र नाथ मिश्रा व पी0 के मिश्रा ने जिले को मिली इस उपलब्धि पर सन्तोष व्यक्त किया। बताते चलें कि शहर के मुहल्ला आदर्श नगर में जन्में राहुल उन्नाव जिला क्रिकेट एसोसिएसन के उपाध्यक्ष राजेन्द्र त्रिपाठी के भतीजे मौजूदा समय में महाराष्ट्र रणजी टीम का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं। उनके पिता अजय कुमार त्रिपाठी सेना में कर्नल तथा मां सरोज गृहिणी है।

पीएम मोदी ने टी-20 ब्लाइंड क्रिकेट वर्ल्ड कप 2017 के विजेताओं से की मुलाकात

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App