ताज़ा खबर
 

IND vs SL: विराट कोहली और रवि शास्‍त्री के साथ सौरव गांगुली ने किया ईडन गार्डंस की पिच का मुआयना

ईडन गार्डंस की विकेट आमतौर पर धीमी और स्पिन की मददगार मानी जाती है।

Author November 15, 2017 9:56 AM
कोलकाता में एक जागरूकता कार्यक्रम के दौरान सौरव गांगुली। (Photo: PTI)

बंगाल क्रिकेट संघ (सीएबी) के अध्यक्ष सौरव गांगुली ने मंगलवार को कहा कि ईडन गार्डंस की पिच भारत और श्रीलंका के बीच खेले जाने वाले पहले टेस्ट मैच में अच्छा खेलेगी। दोनों देशों की बीच तीन टेस्ट मैचों की सीरीज का पहला मैच गुरुवार से खेला जाएगा। गांगुली ने कहा, “विकेट अच्छी लग रही है। विकेट में उछाल होगा और यह अच्छी पिच साबित होगी।” भारतीय टीम के पूर्व कप्तान गांगुली ने टीम के मौजूदा कप्तान विराट कोहली और मुख्य कोच रवि शास्त्री गेंदबाजी कोच भरत अरुण और हरफनमौला खिलाड़ी रवींद्र जडेजा के साथ पिच का मुआयना किया। कोहली ने पिच क्यूरेटर सुजान मुखर्जी के साथ लंबी बातचीत की। ईडन गार्डंस की विकेट आमतौर पर धीमी और स्पिन की मददगार मानी जाती है। इस पर सोमवार को थोड़ी बहुत घास थी, लेकिन टीम प्रबंधन के कहने के बाद उसे हटा दिया गया है।

भारत ने हाल ही में श्रीलंका को उसके घर में खेल के तीनों प्रारुपों में 9-0 से मात दी थी। दोनों टीमों के बीच मौजूदा टेस्ट सीरीज का पहला मैच गुरुवार से यहां के ईडन गार्डंस स्टेडियम में खेला जाएगा। भारतीय टेस्ट टीम के उप-कप्तान अजिंक्य रहाणे ने मंगलवार को कहा कि उनकी टीम मेहमान श्रीलंका को गुरुवार से शुरू हो रही तीन टेस्ट मैचों की सीरीज में हल्के में नहीं लेगी। रहाणे ने संवाददाताओं से कहा, “हम श्रीलंका में जिस तरह से खेले थे यह सीरीज उससे काफी अलग है। हम यहां की परिस्थिति से वाकिफ हैं, लेकिन हम श्रीलंका को हल्के में नहीं लेंगे।”

भारत, श्रीलंका के खिलाफ घर में तीन टेस्ट, छह वनडे और तीन टी-20 मैचों की सीरीज खेलेगी। श्रीलंका टीम के कोच निक पोथास, कप्तान दिनेश चंडीमल और टीम प्रबंधन ने ईडन गार्डंस की विकेट का दौरा किया। श्रीलंका टीम के बल्लेबाजी कोच थिलन समारावीरा, गेंदबाजी कोच रुमेश रातनायके और टीम मैनेजर असांका गुरुसिंहा ने पिच का मुआयना किया।

बंगाल क्रिकेट संघ (सीएबी) के पिच क्यूरेटर सुजान मुखर्जी और ईस्ट जोन के क्यूरेटर आशीष भौमिक भारतीय टीम के कोच रवि शास्त्री से बात करते देखे गए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App