ताज़ा खबर
 

IND vs NZ: भुवनेश्‍वर को कूटने वाले कॉलिन मुनरो को चहल ने ऐसे किया चारों खाने चित्‍त, देखें वीडियो

चहल ने 153 के कुल स्कोर पर 62 गेंदों में आठ चौकों और तीन छक्कों की मदद से खेली गई 75 रनों की मुनरो की पारी का अंत किया।

चहल की गेंद पर पूरी तरह बीट हो गए थे मुनरो। (Photo: PTI)

न्‍यूजीलैंड के ओपनिंग बल्‍लेबाज कॉलिन मुनरो रविवार (29 अक्‍टूबर) को कानुपर के ग्रीनपार्क स्‍टेडियम में खेले गए सीरीज के आखिरी वनडे मैच में अलग ही रंग में थे। भुवनेश्‍वर कुमार की गेंदों पर उन्‍होंने तेजी से रन बटोरे। मुनरो ने पहले ओवर में ही भुवनेश्वर पर एक छक्का और दो चौके जड़े। मुनरो ने अगले ओवर में बुमराह को भी नहीं बख्शा। हालात ये थे कि भुवी ने अपने शुरुआती 5 ओवर में 40 से ज्‍यादा रन दे डाले थे। हालांकि दूसरे छोर से उन्हें मार्टिन गुप्टिल (10) का साथ नहीं मिला। गुप्टिल 44 के कुल स्कोर पर बुमराह की गेंद पर दिनेश कार्तिक को कैच दे बैठे। पिछले दो मैचों से खामोश चल रहे किवी कप्तान विलियमसन ने इस मैच में अपना का जौहर दिखाया और मुनरो का बखूबी साथ दिया। मुनरो लगातार भारतीय गेंदबाजी आक्रमण की बखियां उधेड़ रहे थे। तो विलियमसन ने आते ही हार्दिक पांड्या पर दो शानदार चौके जड़े। इन दोनों ने केदार जाधव और अक्षर पटेल को भी अच्छे से खेला। वह अपने शतक की ओर बढ़ रहे थे और टीम इंडिया की उम्‍मीदें टूटने लगी थीं कि यजुवेंद्र चहल की एक गेंद ने भारत को जरूरी विकेट दिला दिया।

चहल ने एक फ्लाइटेड डिलिवरी फेंककर मुनरों की गिल्लियां बिखेंर दीं। 153 के कुल स्कोर पर 62 गेंदों में आठ चौकों और तीन छक्कों की मदद से खेली गई 75 रनों की मुनरो की पारी का अंत उन्हें बोल्ड करते हुए किया। यह विकेट इतना महत्‍वपूर्ण था कि चहल अपनी भावनाएं रोक नहीं पाए और सेलिब्रेट करने लगे।

देखें वीडियो:

मुनरो के जाने के बाद कप्तान भी कुछ ही देर में पवेलियन लौट लिए। कप्तान को चहल ने महेंद्र सिंह धौनी के हाथों स्टम्प कराया। विलियमसन ने थोड़ा धीमा खेल खेला और 64 रन बनाने के लिए 84 गेंदे लीं। अपनी अर्धशतकीय पारी में उन्होंने आठ चौके जड़े। रॉस टेलर (39) को बड़ी पारी खेलने से बुमराह ने रोका। 247 के कुल स्कोर पर टेलर जाधव को कैच दे बैठे।

यहां से पहले मैच में शतक लगाकर टीम को जीत दिलाने वाले लाथम और हेनरी निकलोस ने मेजबानों की परेशानियों को बढ़ा दिया। इन दोनों ने किवी टीम की जीत की उम्मीदों को जिंदा रखा, लेकिन जीत के करीब जाते-जाते निकोलस भुवनेश्वर की गेंद पर बोल्ड हो गए। 37 रन बनाने वाले निकोलस ने लाथम के साथ 59 रनों की साझेदारी की। उम्मीदें लाथम से थीं, लेकिन वह 48वें ओवर की पांचवीं गेंद पर दुर्भाग्यवश तरीके से रन आउट हो गए। लाथम ने 52 गेंदों में सात चौकों की मदद से 65 रन बनाए।

यहां से किवी टीम की उम्मीदें खत्म हो गईं थीं। बुमराह ने आखिरी ओवर में जरूरी 15 रन बनाने से कोनिल डी ग्रांडहोमे (नाबाद 8) और टिम साउदी (नाबाद 4) को वंचित रखा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App