ताज़ा खबर
 

IND vs NZ: अब तक की सबसे कठिन चुनौती का सामना करने के लिए तैयार है भारत, ईशांत की वापसी से मजबूत हुई टीम इंडिया

न्यूजीलैंड ने आखिरी बार मार्च 2017 में अपनी सरजमीं पर टेस्ट श्रृंखला गंवाई थी। उसके बाद से यहां दस में से पांच टेस्ट जीते हैं।आस्ट्रेलिया में 3 . 0 से हारने के बाद न्यूजीलैंड के इरादे जीत की राह पर वापसी के होंगे जबकि भारतीय टीम यह साबित करना चाहेगी कि पिछले साल आस्ट्रेलिया में मिली जीत तुक्का नहीं थी और प्रतिकूल परिस्थितियों में जीतने का शऊर उसे बखूबी आता है।

Author नई दिल्ली | Updated: February 20, 2020 7:03 PM
न्यूजीलैंड क्रिकेट टीम के कप्तान विलियमसन के साथ विराट कोहली

IND vs NZ 1st Test: देश विदेश में विजय पताका फहराने वाली भारतीय क्रिकेट टीम शुक्रवार से बेसिन रिजर्व की तेज पिच पर पहले टेस्ट में न्यूजीलैंड का सामना करेगी तो उसके सामने विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप में यह अब तक की सबसे कठिन चुनौती होगी। शीर्ष रैंकिंग वाली विराट कोहली की टीम के 360 अंक है और कागजों पर उसका पलड़ा भारी दिख रहा है लेकिन केन विलियमसन की कीवी टीम संयम की पूंजी है जो इन पिचों पर उपयोगी साबित होगी।

न्यूजीलैंड ने आखिरी बार मार्च 2017 में अपनी सरजमीं पर टेस्ट श्रृंखला गंवाई थी। उसके बाद से यहां दस में से पांच टेस्ट जीते हैं। आस्ट्रेलिया में 3 . 0 से हारने के बाद न्यूजीलैंड के इरादे जीत की राह पर वापसी के होंगे जबकि भारतीय टीम यह साबित करना चाहेगी कि पिछले साल आस्ट्रेलिया में मिली जीत तुक्का नहीं थी और प्रतिकूल परिस्थितियों में जीतने का शऊर उसे बखूबी आता है।

विपरीत दिशा से आती हवाओं के कारण बेसिन रिजर्व गेंदबाजों और बल्लेबाजों दोनों के लिये हमेशा चुनौतीपूर्ण रहा है। ऐसे में पृथ्वी साव और मयंक अग्रवाल की नयी सलामी जोड़ी को ट्रेंट बोल्ट, टिम साउदी और टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण करने जा रहे काइल जैमीसन जैसे आला दर्जे के गेंदबाजों का सामना करना है।
बायें हाथ के तेज गेंदबाज नील वेगनेर की गैर मौजूदगी में भारतीय मध्यक्रम ने राहत की सांस ली होगी । वेगनेर अपने पहले बच्चे के जन्म के कारण ब्रेक पर हैं।

न्यूजीलैंड टीम में हरफनमौला डेरिल मिशेल और बायें हाथ के स्पिनर ऐजाज पटेल में से एक को जगह मिलेगी। कप्तान कोहली टास जीतने पर गेंदबाजी चुन सकते हैं ताकि जसप्रीत बुमराह, ईशांत शर्मा और मोहम्मद शमी पिच से मिलने वाली शुरूआती मदद का फायदा उठा सकें। कोहली स्वयं स्वीकार कर चुके हें कि उनकी टीम को पिच के अनुकूल होने का इंतजार करना होगा जबकि विलियमसन की टीम इसी संयम के लिये जानी जाती है।

कोहली ने कहा ,‘‘ इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि विरोधी टीम में कितना संयम है , हमें और सब्र दिखाना होगा। हम ऐसे तैयारी नहीं कर सकते कि न्यूजीलैंड अपने संयम के दम पर हम पर दबाव बना दे।’’ न्यूजीलैंड टीम चार तेज गेंदबाजों और एक तेज गेंदबाज हरफनमौला के साथ उतर सकती है जबकि भारतीय टीम प्रबंधन स्पिनर आर अश्विन को उतार सकता है जिनके पास रविंद्र जडेजा से ज्यादा विविधता है।
न्यूजीलैंड टीम चोट के बाद ट्रेंट बोल्ट और भारतीय टीम ईशांत की वापसी से मजबूत हुई है।
भारतीय टीम का भरोसा तकनीक के धनी चेतेश्वर पुजारा, कोहली और अजिंक्य रहाणे पर होगा।

टीमें :
भारत : विराट कोहली (कप्तान), मयंक अग्रवाल, पृथ्वी साव, चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे, हनुमा विहारी, रिधिमान साहा, ईशांत शर्मा, मोहम्मद शमी, जसप्रीत बुमराह, रविचंद्रन अश्विन, रविंद्र जडेजा।
न्यूजीलैंड : केन विलियमसन (कप्तान), टाम ब्लंडेल, ट्रेंट बोल्ट, कोलिन डे ग्रांडहोमे, काइल जैमीसन, टाम लाथम, डेरिल मिशेल, हेनरी निकोल्स, ऐजाज पटेल, टिम साउदी, रोस टेलर, बीजे वाटलिंग ।
मैच का समय : सुबह चार बजे से।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 MS धोनी की हेयरस्टाइलिस्ट बनीं उनकी बॉडीगॉर्ड, माही को परेशान करने वाली भीड़ को ऐसे किया कंट्रोल- Video
2 क्रिकेट से दूर रोहित शर्मा Cookie Monster बेबी संग जी रहे सुकून के पल, इंग्लैंड के क्रिकेटर ने पूछा हाल
3 IND vs NZ: विराट कोहली ने बांधे पृथ्वी शॉ और इंशात शर्मा की तारीफों के पुल, प्लेइंग इलेवन में शुभमन गिल को नहीं रखने के संकेत दिए
ये पढ़ा क्या...
X