ताज़ा खबर
 

India vs Pakistan, ICC World Cup 2019: अपने प्रधानमंत्री इमरान खान की भी नहीं सुने पाक कप्तान सरफराज, दी गई सलाह के उलट उठाया यह कदम

ICC World Cup 2019: मैच शुरू होने से पहले पाकिस्तान के प्रधानमंत्री और पूर्व क्रिकेटर इमरान खान ने कुछ ट्वीट्स करके अपने कप्तान सरफराज को कुछ सुझाव दिए थे। इनमें टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का सुझाव भी शामिल था।

Author नई दिल्ली | June 17, 2019 8:02 AM
इमरान के मुताबिक, अगर उनकी टीम लक्ष्य का पीछा करने के बजाए अगर लक्ष्य देती है तो उनके जीतने के ज्यादा चांस होते। हालांकि, सरफराज ने ठीक इसका उल्टा किया और उन्होंने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी चुनी। (Reuters)

ICC World Cup 2019: वर्ल्ड कप 2019 में रविवार को भारत ने पाकिस्तान को बारिश बाधित मैच में डकवर्थ लुईस पद्वति से 89 रन से करारी शिकस्त दी। सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा के धमाकेदार शतक की बदौलत टीम इंडिया ने 5 विकेट पर 336 रन बनाए और पाकिस्तान के सामने एक पहाड़ जैथे लक्ष्य का पीछा करने की चुनौती दी। पाकिस्तान ने जब 35 ओवर में छह विकेट पर 166 रन बनाये थे तभी बारिश आ गई। बाद में खेल शुरू होने पर पाकिस्तान को 40 ओवर में 302 रन यानि बाकी बचे पांच ओवर में 136 रन का लक्ष्य मिला। हालांकि, पाकिस्तानी टीम छह विकेट पर 212 रन ही बना पाई। इस जीत के साथ टीम इंडिया ने विश्व कप में पाकिस्तान के खिलाफ विजय अभियान को 7-0 पर पहुंचा दिया।

दिलचस्प बात यह है कि मैच शुरू होने से पहले पाकिस्तान के प्रधानमंत्री और पूर्व क्रिकेटर इमरान खान ने कुछ ट्वीट्स करके अपने कप्तान सरफराज को कुछ सुझाव दिए थे। इनमें टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का सुझाव भी शामिल था। इमरान की ही अगुआई में पाकिस्तान ने 1992 में वर्ल्ड कप जीता था। इमरान के मुताबिक, अगर उनकी टीम लक्ष्य का पीछा करने के बजाए अगर लक्ष्य देती है तो उनके जीतने के ज्यादा चांस होते। हालांकि, सरफराज ने ठीक इसका उल्टा किया और उन्होंने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी चुनी। पाकिस्तान के कई पूर्व क्रिकेटरों और एक्सपर्ट्स ने भी सरफराज के इस फैसले पर सवाल उठाए। उधर, सरफराज को भी जल्द ही इस बात का एहसास हो गया कि उनका फैसला बिलकुल गलत है। भारतीय ओपनर रोहित शर्मा और केएल राहुल ने शानदार ओपनिंग की और 136 रनों की साझेदारी की।

इमरान खान ने अपनी टीम को भारत के खिलाफ बेखौफ होकर खेलने की सलाह देते हुए कहा कि हार के डर के साथ खेलना नकारात्मकता और रक्षात्मक रणनीति की ओर ले जाता है। पूर्व क्रिकेट दिग्गज ने कहा, ‘‘ हारने की सभी आशंकाओं को दिमाग से निकाल देना चाहिए क्योंकि दिमाग में एक समय में एक ही विचार आ सकता है। हारने का डर एक नकारात्मक और रक्षात्मक रणनीति की ओर ले जाता है और इससे विरोधी टीम की अहम गलतियों पर ध्यान नहीं जाता। ये सरफराज और पाकिस्तान टीम के लिए मेरे कुछ सुझाव हैं।’’ इमरान ने कहा, ‘‘ हम भाग्यशाली है कि सरफराज के रूप में हमारे पास एक साहसी कप्तान हैं और आज उसे अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना होगा।’’ इमरान खान ने कहा, ‘‘जीत की रणनीति के तहत सरफराज को विशेषज्ञ बल्लेबाजों और गेंदबाजों के साथ जाना चाहिए क्योंकि कामचलाऊ बल्लेबाज या गेंदबाज शायद ही कभी दबाव में प्रदर्शन करते हैं, खासकर आज जैसे दबाव वाले मैच में। जब पिच में नमी ना हो सरफराज को टास जीतकर बल्लेबाजी करनी चाहिए।’’

(भाषा इनपुट्स के साथ)

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App