ताज़ा खबर
 

Ind vs Eng 5th Test: पहले चार मैचों में नहीं मिली जगह, अंतिम टेस्ट में छाए जडेजा, कही ये बड़ी बात

Ind vs Eng, India vs England 5th Test Match: जडेजा ने पांचवें और अंतिम टेस्ट के पहले दिन 57 रन देकर 2 विकेट चटकाया और यह उनका सीरीज में पहला मैच था। दिन का खेल खत्म होने के बाद जडेजा ने कहा, ‘‘मेरे लिए सबसे बड़ी चीज यही है कि मैं भारत के लिए खेल रहा हूं और अगर किसी दिन मैं अच्छा करता हूं, तो मैं जल्द ही खेल के सभी तीनों प्रारूपों में खेल सकूंगा।''

Author September 8, 2018 1:35 PM
रविंद्र जडेजा और चेतेश्वर पुजारा। . (Source: Reuters)

Ind vs Eng, India vs England 5th Test Match:  भारतीय स्पिनर रविंद्र जडेजा सभी तीनों प्रारूपों में भारत का प्रतिनिधित्व करना चाहते हैं क्योंकि उन्हें लगता है कि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में खुद को अच्छी फॉर्म में रखने के लिए केवल टेस्ट खेलना ही काफी नहीं है। जडेजा ने पांचवें और अंतिम टेस्ट के पहले दिन 57 रन देकर 2 विकेट चटकाया और यह उनका सीरीज में पहला मैच था। दिन का खेल खत्म होने के बाद जडेजा ने कहा, ‘‘मेरे लिए सबसे बड़ी चीज यही है कि मैं भारत के लिए खेल रहा हूं और अगर किसी दिन मैं अच्छा करता हूं, तो मैं जल्द ही खेल के सभी तीनों प्रारूपों में खेल सकूंगा। लेकिन मेरा लक्ष्य, सिर्फ यही है कि मुझे मौका मिले और मैं इसका फायदा उठाकर अच्छा प्रदर्शन करूं। ’’ उन्होंने कहा, ‘‘जब आप सिर्फ एक ही प्रारूप में खेल रहे होते हो तो यह काफी मुश्किल होता है क्योंकि मैचों के बीच में काफी अंतर होता है और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर खेलने के लिए आपका अनुभव और लय कम हो जाती है। इसलिये आपको खुद को प्रेरित करते रहना होता है।

Ravi ashwin, r jadeja भारतीय क्रिकेटर रविंद्र जडेजा व रविचंद्रन अश्विन। (File Photo: PTI)

जडेजा ने आगे कहा कि जब भी आपको मौका मिलता है जैसे मुझे इस मैच में मिला है, तो अपनी काबिलियत के हिसाब से मैदान पर अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना होगा। वह भारत के लिए आल राउंडर का स्थान सुनिश्चित करना चाहते हैं। उन्होंने कहा, ‘‘जब भी मुझे भारत के लिए खेलने का मौका मिलता है तो मुझे बल्लेबाजी और गेंदबाजी दोनों पहलूओं में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना होगा। मैं टीम का विश्वस्त सदस्य बनना और आल राउंडर स्थान को भरना चाहता हूं क्योंकि मैंने बीते समय में भी ऐसा किया है। यह मेरे लिए नया नहीं है। यह सिर्फ समय की बात है। ’’

जडेजा ने कहा, ‘‘जब आप खराब दौर से गुजर रहे होते हो तो आपको ज्यादा से ज्यादा खेलने की जरूरत होती है और अपनी फार्म हासिल करने की कोशिश करनी पड़ती है। इसलिये यह संभव है कि मैं जितना ज्यादा से ज्यादा अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेलूंगा, उतना ही बेहतर प्रदर्शन करूंगा और सभी तीनों प्रारूपों में वापसी करने में सक्षम रहूंगा। ’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App