ताज़ा खबर
 

Ind vs Eng 5th Test: आखिरी टेस्ट में भारत ने किया दो अहम बदलाव, हनुमा विहारी और रविंद्र जडेजा को मिला मौका

Ind vs Eng, India vs England 5th Test Match: कोहली की टीम हालांकि 2018 में दोनों विदेशी सीरीज गंवाने के बावजूद अब तक अपनी शीर्ष टेस्ट रैंकिंग बचाने में सफल रही है। टीम का संयोजन एक बार फिर चर्चा का विषय है। टीम इंडिया सर्वश्रेष्ठ 11 खिलाड़ियों के साथ उतरना चाहेगी लेकिन प्रयोग की संभावना भी बनी हुई है।

टेस्ट में डेब्यू करेंगे हनुमा विहारी। (फोटो सोर्स- बीसीसीआई ट्विटर)

Ind vs Eng, India vs England 5th Test Match: भारतीय क्रिकेट टीम ने शुक्रवार से इंग्लैंड के खिलाफ शुरू हो रहे पांचवें और अंतिम टेस्ट में हनुमा विहारी को मौका दिया है। भारतीय कप्तान विराट कोहली ने हनुमा विहारी को हार्दिक पंड्या की जगह टीम में शामिल किया। वहीं चोट से जूझ रहे आर अश्विन भी इस मैच में नहीं खेलेंगे, अश्विन की जगह रविंद्र जडेजा उनकी भूमिका निभाते नजर आएंगे। इंग्लैंड के कप्तान जो रूट ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया है। अंतिम टेस्ट में इंग्लैंड की टीम अपने पूर्व कप्तान एलिस्टेर कुक को जीत के साथ विदाई देना चाहेगी। इंग्लैंड ने पांच मैचों की श्रृंखला में 3-1 की विजयी बढ़त बना ली है जिसके कारण ओवल में होने वाला मैच महज औपचारिकता बन गया है लेकिन विराट कोहली की टीम श्रृंखला का सकारात्मक अंत करना चाहेगी। विराट कोहली ने मैच शुरू होने से पहले हनुमा विहारी को कैप दिया। विहारी इस मैच के जरिए  टेस्ट करियर का अपना पहला मैच खेलेंगे।

HOT DEALS
  • Apple iPhone 7 Plus 128 GB Rose Gold
    ₹ 61000 MRP ₹ 76200 -20%
    ₹7500 Cashback
  • jivi energy E12 8GB (black)
    ₹ 2799 MRP ₹ 4899 -43%
    ₹280 Cashback
कप्तान विराट कोहली और इंग्लैंड टीम।

भारत के लिए 2-3 का नतीजा 1-4 से कहीं बेहतर होगा और टीम टेस्ट जीत के लिए बेताब है। मुख्य कोच रवि शास्त्री ने यह कहकर टीम का मनोबल बढ़ाने का प्रयास किया है कि यह पिछले 15 साल में विदेशी दौरों पर जाने वाली यह सर्वश्रेष्ठ टीम है। हालांकि तथ्य इसे साबित नहीं करते। आंकड़े देखें तो सौरव गांगुली की अगुआई में भारत ने इंग्लैंड (2002) और आस्ट्रेलिया (2003-04) में श्रृंखलाएं ड्रा करवाई और वेस्टइंडीज में टीम टेस्ट मैच और पाकिस्तान में श्रृंखला जीतने में सफल रही।

कोहली की टीम हालांकि 2018 में दोनों विदेशी सीरीज गंवाने के बावजूद अब तक अपनी शीर्ष टेस्ट रैंकिंग बचाने में सफल रही है। टीम का संयोजन एक बार फिर चर्चा का विषय है। टीम इंडिया सर्वश्रेष्ठ 11 खिलाड़ियों के साथ उतरना चाहेगी लेकिन प्रयोग की संभावना भी बनी हुई है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App